लाइव टीवी

कभी के कंधों पर बैठकर सचिन-सचिन चिल्लाती थी ये लड़की, अब तोड़ दिया उनका ही सबसे पुराना रिकॉर्ड

News18Hindi
Updated: November 11, 2019, 11:55 PM IST
कभी के कंधों पर बैठकर सचिन-सचिन चिल्लाती थी ये लड़की, अब तोड़ दिया उनका ही सबसे पुराना रिकॉर्ड
शेफाली वर्मा अंतरारष्ट्रीय क्रिकेट में अर्धशतक जड़ने वाली सबसे युवा भारतीय बल्लेबाज बन गई है

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के आखिरी रणजी ट्रॉफी मैच में नौ साल की शेफाली वर्मा मैदान के बाहर सचिन-सचिन चिल्ला रही थीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2019, 11:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मैदान के बाहर बैठकर अपने आदर्श का उत्साह बढ़ाने वाली एक दिन उनका ही सबसे बड़ा रिकॉर्ड तोड़ देगी, शायद ऐसा किसी ने सोचा भी नहीं होगा. लेकिन, भारत की 15 साल की शेफाली वर्मा (Shafali Verma) ने ऐसा कर दिखाया. 2013 में पिता के कंधों पर बैठकर अपने आदर्श सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) का आखिरी रणजी ट्रॉफी मैच देखने लाहली के बंसी लाल स्टेडियम में गई शेफाली उस मुकाबले में मैदान के बाहर से सचिन-सचिन चिल्ला रही थीं. उस समय वह मात्र नौ साल की थी, उसके छह साल बाद ही शनिवार को उन्‍होंने अपने आदर्श सचिन का 30 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया.

शेफाली ने वेस्टइंडीज (West Indies) के खिलाफ अर्धशतकीय पारी खेली और इसी के साथ 15 साल 285 दिन की शेफाली अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अर्धशतक लगाने वाली सबसे युवा भारतीय खिलाड़ी बन गई  हैं. लंबे समय से ये रिकॉर्ड मास्टर ब्लास्‍टर के नाम था. उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 16 साल 214 दिन की उम्र में पाकिस्तान के खिलाफ अर्धशतक जड़ा था.

शेफाली वर्मा (Shafali Verma) ने एक बार फिर तूफानी खेल टीम इंडिया को जीत दिलाई, दीप्ति शर्मा ने भी कमाल गेंदबाजी
शेफाली वर्मा ने वेस्टइंडीज के खिलाफ अर्धशतक लगाकर इ‌तिहास रच दिया था


क्रिकेट के लिए कटवाने पड़े बाल

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार लड़की होने के कारण रोहतक के लड़कों की कोई भी एकेडमी शेफाली को एडिमशन नहीं दे रही थी. इसके बाद उनके पिता ने पहले तो शेफाली के बाल कटवाए और फिर काफी विनती करके अपनी बेटी को एडमिशन दिलवाया. पिछले चार साल शेफाली के कोच रहे अश्विनी कुमार ने बताया कि इस युवा खिलाड़ी ने अंडर-19 बॉयज टीम के सामने खुद को साबित किया. उन्होंने बीते दिनों को याद करते कहा कि जब वह नौ साल की थीं तब वह एकेडमी में आई, लेकिन लड़कियों के लिए यहां पर कुछ खास नहीं था, इसीलिए अंडर-19 के लड़कों की टीम के साथ उन्‍हें खिलाना शुरू किया. शेफाली को अंडर- 19 टीम के गेंदबाजों की आदत हो गई और वह आसानी से उनका सामना करने लगी. हर कोई शेफाली के इस प्रदर्शन से हैरान था.

सितंबर में इंटरनेशनल क्रिकेट में रखा था कदम
शेफाली वर्मा (Shafali Verma) ने इसी साल सितंबर में साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी20 मैच से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा. 6 अंतरराष्ट्रीय टी20 मैचों में उन्होंने 146.09 की स्ट्राइक रेट से 206 रन बनाए. अभी टी20 में उनका सर्वाधिक स्कोर  73 का रहा. वेस्टइंडीज के खिलाफ उन्होंने शनिवार को 49 गेंदों पर 73 रन बनाए थे. उसके बाद रविवार को 35 गेंदों पर नाबाद 69 रन बनाए.ये भी पढ़ें: गाली देते हुए 'रंगे' हाथों पकड़े गए थे रोहित शर्मा, अब बोले-अगली बार कैमरे...

ये भी पढ़ें: चहल ने तोड़ा बुमराह का रिकॉर्ड, इस मामले में भारत के 'सबसे तेज' गेंदबाज बने

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 11, 2019, 9:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर