Shahid Afridi B'Day: अफरीदी ने अपनी पहली वनडे पारी में ही बनाया था वर्ल्ड रिकॉर्ड, जो आज भी कायम है

अफरीदी पाक की ओर से 500 से अधिक मैच खेलने वाले एकमात्र खिलाड़ी (फोटो अफरीदी फाउंडेशन के टि्वटर से)

अफरीदी पाक की ओर से 500 से अधिक मैच खेलने वाले एकमात्र खिलाड़ी (फोटो अफरीदी फाउंडेशन के टि्वटर से)

पाकिस्तान के ऑलराउंडर और आक्रामक बल्लेबाजी के विख्यात शाहिद आफरीदी 45 साल के हो गए हैं. उन्होंने पाकिस्तान की ओर से 500 से अधिक इंटरनेशनल भी खेले. वे ऐसा करने वाले पाक के एकमात्र खिलाड़ी हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. पाकिस्तान के ऑलराउंडर और पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी 1 मार्च यानी सोमवार को अपना 45वां जन्मदिन मना रहे हैं. वे पाकिस्तान के बड़े खिलाड़ियों में से एक हैं. वे टीम के कप्तान भी रहे. आज भी उनके नाम एक खास रिकॉर्ड दर्ज है, जो दुनिया के 2600 से अधिक खिलाड़ी नहीं तोड़ सके हैं. अफरीदी ने पाकिस्तान की आेर से 524 इंटरनेशनल मुकाबले खेले. वे देश की ओर से 500 से अधिक मैच खेलने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं. उन्होंने अपनी पहली ही वनडे पारी में सबसे तेज वनडे शतक का रिकाॅर्ड बना दिया था.

अफरीदी ने 398 वनडे मुकाबले खेले हैं. उन्होंने वनडे में 351 छक्के लगाए हैं. वे 350 से अधिक छक्के लगाने वाले दुनिया के एकमात्र खिलाड़ी हैं. वनडे क्रिकेट की बात की जाए तो अब तक 2608 खिलाड़ी उतर चुके हैं, लेकिन कोई भी अफरीदी के रिकॉर्ड तक नहीं पहुंच सका है. विंडीज के क्रिस गेल 331 छक्के दूसरे नंबर पर हैं. अफरीदी का पिछले साल उम्र विवाद सामने आया था। उन्होंने आत्मकथा ‘गेम चेंजर’ में माना कि उनकी उम्र कम बताई गई. उन्होंने आत्मकथा में लिखा कि 1980 उनके जन्म का सही साल नहीं है. आधिकारिक दस्तावेज में अफरीदी का जन्म एक मार्च 1980 दर्ज है. अफरीदी ने 1996 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा था.

अफरीदी के डेब्यू के समय उनकी उम्र 16 साल बताई गई थी. अफरीदी ने अपनी आत्मकथा में लिखा कि डेब्यू के वक्त तब मैं 16 का नहीं बल्कि 19 साल का था. मेरा जन्म 1975 में हुआ है. अफरीदी ने कई बार संन्यास लिया और फिर मैदान पर लौटे. उन्होंने अंतिम अंतरराष्ट्रीय मैच साल मई 2018 में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला. यह एक टी20 मैच थे. साल 1998 में टेस्ट डेब्यू करने वाले अफरीदी ने 2006 में संन्यास ले लिया. लेकिन साल 2010 में वह दोबारा टेस्ट टीम में लौट आए और वो भी बतौर कप्तान. 2011 वर्ल्ड कप के बाद भी उन्होंने संन्यास की घोषणा की, लेकिन कुछ ही महीनों के अंदर वह टीम में लौट आए. इसके बाद उन्होंने 2015 का वर्ल्ड कप और 2016 का टी20 वर्ल्ड कप खेला.



37 गेंद पर शतक लगाकर बने थे स्टार
4 अक्टूबर 1996 को अफरीदी ने श्रीलंका के खिलाफ नैरोबी में 37 गेंद पर शतक लगाकर वनडे में सबसे तेज शतक का रिकॉर्ड बनाया. पारी में उन्होंने 6 चौके और 11 छक्के लगाए थे. इस पारी के बाद वे रातों-रात स्टार बन गए. हालांकि बाद में न्यूजीलैंड के कोरी एंडरसन ने उनका रिकॉर्ड तोड़ा. आज वनडे का सबसे तेज शतक का रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स के नाम है. उन्हाेंने 31 गेंद पर यह कारनामा किया. अफरीदी ने 27 टेस्ट, 398 वनडे और 99 टी20 मुकाबले खेले हैं. वे 2009 में टी20 वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम में भी शामिल थे. उन्होंने टेस्ट में 1716 रन बनाए और 48 विकेट लिए. वनडे में वे 8064 रन और 395 विकेट ले चुके हैं. टी20 की बात करें तो अफरीदी ने 1416 रन और 98 विकेट लिए. भले ही वे इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं लेकिन वे आज भी दुनिया की कई टी20 लीग में खेल रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज