अपना शहर चुनें

States

अफरीदी ने सचिन के बल्‍ले से मारा था 37 गेंद में शतक, रात में देखा था छक्‍के लगाने का सपना

सचिन तेंदुलकर के साथ शाहिद अफरीदी. (File Photo)
सचिन तेंदुलकर के साथ शाहिद अफरीदी. (File Photo)

शाहिद अफरीदी ने अपने दूसरे वनडे मैच में ही सेंचुरी लगा दी थी. इस पारी में उन्‍होंने 11 छक्के और छह चौके जमाते हुए सबसे तेज शतक लगाया था.

  • Share this:
पाकिस्‍तान के दिग्‍गज क्रिकेटर शाहिद अफरीदी ने 1996 में श्रीलंका के खिलाफ 37 गेंद में शतक लगाकर इतिहास रच दिया था. उन्‍होंने यह कारनामा क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर के बल्‍ले से किया था. अफरीदी ने अपनी किताब 'गेम चेंजर' में इस बात का खुला किया है. दरअसल, सचिन अपने बल्ले जैसा ही एक बल्ला बनवाना चाहते थे. इसके लिए उन्होंने अपना बैट वकार यूनुस को दिया और सियालकोट से ऐसा ही एक बैट बनवाने की इच्छा जताई.

अफरीदी ने लिखा, 'लेकिन सोचिए वकार ने बल्ला सियालकोट ले जाने से पहले क्‍या किया? उन्‍होंने बल्‍लेबाजी के लिए जाने से पहले वह बल्‍ला मुझे दिया. तो नैरोबी में श्रीलंका के खिलाफ शाहिद अफरीदी ने सचिन के बल्‍ले से पहला शतक लगाया.'

बता दें कि शाहिद अफरीदी ने अपने दूसरे वनडे मैच में ही सेंचुरी लगा दी थी. इस पारी में उन्‍होंने 11 छक्के और छह चौके जमाते हुए सबसे तेज शतक लगाया था. इस पारी में उनकी स्‍ट्राइक रेट 255 की थी. पहले वनडे मैच में अफरीदी को बल्‍लेबाजी करने का मौका नहीं मिला था. इस रिकॉर्ड को बाद में कोरे एंडरसन और फिर एबी डिविलियर्स ने तोड़ा.



IPL 2019: 2 साल तक किसी ने नहीं खरीदा, टेस्‍ट क्रिकेटर बताया, उन्‍होंने ही बदली टीम की किस्‍मत
दिलचस्‍प बात है कि अफरीदी ने यह पारी खेलने से पहले श्रीलंका के गेंदबाजों की गेंदों पर छक्‍के लगाने का सपना देख था. किताब में उन्‍होंने लिखा है कि इस बारे में उन्‍होंने रूममेट शादाब कबीर को सुबह बताया था. अफरीदी ने लिखा, मुझे सपना आया कि मैं जयसूर्या, मुरलीधरन और धर्मसेना की गेंदों पर छक्‍के लगा रहा हूं. शादाब ने कहा, दुआ करो भाई कि ऐसा ही हो.' शादाब ने पाकिस्‍तान के लिए पांच टेस्‍ट और तीन वनडे खेले थे.

फोन पर हुआ इस पाकिस्‍तानी क्रिकेटर को प्‍यार, सामने आई 'प्रेमिका' तो उड़े होश

बाद में मैच में जैसा शाहिद अफरीदी ने सपना देखा था वैसा ही हुआ. जयसूर्या ने 10 ओवर में 94 रन दिए जबकि मुरलीधरन ने 73 रन लुटाए.

इस किताब में अफरीदी ने अपनी असली उम्र का राज भी खोला था. उन्‍होंने बताया कि जिस समय उन्‍होंने यह शतक लगाया था तब वह 16 साल के नहीं थे बल्कि उनकी उम्र 19 साल थी. हालांकि अफरीदी ने अपनी जो जन्‍मतिथि बताई है उसको लेकर कंफ्यूजन है. क्‍योंकि इसके हिसाब से डेब्‍यू मैच के समय अफरीदी की उम्र 21 साल थी.

अफरीदी का पाक क्रिकेटरों की स्‍पॉट फिक्सिंग पर खुलासा, कहा- इसी वजह से टेस्‍ट क्रिकेट छोड़ा

अफरीदी लिखते हैं कि उनका जन्म 1975 में हुआ था लेकिन रिकॉर्ड के मुताबिक उनका जन्म 1980 में हुआ है. ऐसे में आत्मकथा की माने तो वह रिकॉर्ड में दर्ज अपनी उम्र से 5 साल बड़े हैं. ईएसपीएन क्रिकइंफो में अगर खिलाड़ी प्रोफाइल पेज पर भी देखें तो वहां भी आधिकारिक रिकॉर्ड में अफरीदी की जन्म तिथि 1 मार्च, 1980 हैं.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज