लाइव टीवी

भावुक हुए सौरव गांगुली, कहा-कभी नहीं सोचा था ऐसा होगा, IPL आयोजन का जवाब मेरे पास नहीं

भाषा
Updated: March 24, 2020, 8:25 PM IST
भावुक हुए सौरव गांगुली, कहा-कभी नहीं सोचा था ऐसा होगा, IPL आयोजन का जवाब मेरे पास नहीं
सौरव गांगुली ने कहा- नहीं पता आईपीएल का आयोजन होगा या नहीं

कोरोना वायरस के चलते ओलिंपिक को स्थगित कर दिया गया है और अब आईपीएल (IPL) भी रद्द किया जा सकता है

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Corona Virus) की वजह से भारत के लगभग सही शहर बंद हो गए हैं. ऐसा ही हाल कोलकाता में भी हैं, जहां सड़कों पर भीड़भाड़ की जगह वीरानी दिख रही है. कोलकाता की ऐसी तस्वीर देख बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली भावुक हो गए और उन्होंने अपने विचार फैंस के साथ सोशल मीडिया पर शेयर किये.

सौरव गांगुली ने मंगलवार को कहा है कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि कोलकाता जैसा शहर इस स्थिति में होगा, कि शहर की सड़कों पर एक भी इंसान नहीं होगा. गांगुली ने कोलकाता की कुछ तस्वीरों के साथ ट्वीट करते हुए लिखा, 'कभी नहीं सोचा था कि मैं अपने शहर को इस तरह देखूंगा. सुरक्षित रहिए..यह जल्दी बेहतर होगा. आप सभी को मेरा प्यार.'

सौरव गांगुली कोलकाता की खाली सड़कें देख दुखी


IPL आयोजन पर गांगुली के पास कोई जवाब नहीं



बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने मंगलवार को ये भी कहा कि कोरोना वायारस के संक्रमण से मुकाबला करने के लिए देशव्यापी बंद को देखते हुए इस साल के इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के आयोजन पर उनके पास कोई जवाब नहीं है. गांगुली ने पीटीआई को दिये विशेष साक्षात्कार में कहा, 'मैं फिलहाल कुछ नहीं कह सकता. हम उसी स्थान पर हैं जहां हम इसे निलंबित करने वाले फैसला लेते समय थे. पिछले 10 दिनों में कुछ भी नहीं बदला है, ऐसे में मेरे पास इसका कोई जवाब नहीं है. हालात पहले जैसे ही बने हुए हैं.'

पूर्व भारतीय कप्तान ने दुनिया भर में मौजूदा स्थिति को देखते हुए अगले तीन चार महीने की योजना बनाने की किसी भी संभावना से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा, 'आप कुछ भी योजना नहीं बना सकते हैं. एफटीपी (भविष्य दौरा कार्यक्रम) निर्धारित है, आप उसे बदल नहीं सकते. दुनिया भर में क्रिकेट और बहुत सारे खेल बंद हो गए हैं.'

आईपीएल के नुकसान पर नहीं मिलेगा बीमा!
गांगुली ने इस बात पर भी संदेह व्यक्त किया कि सभी हितधारकों को होने वाले नुकसान के लिए मौजूदा स्थिति को बीमा द्वारा पूरा किया जा सकता है. उन्होंने कहा, 'मैं पूरी तरह से आश्वस्त नहीं हूं कि हम बीमा राशि प्राप्त कर सकते हैं क्योंकि यह एक सरकारी बंद है. मुझे पता नहीं है कि सरकारी लॉकडाउन बीमा के तहत आता है या नहीं. ' गांगुली ने कहा, 'हमें इंतजार करना होगा. हमने इन सभी चीजों का आकलन नहीं किया है. इस समय, मेरे लिए कोई ठोस जवाब देना बहुत मुश्किल है.'

मदद के लिए स्टेडियम देने को तैयार गांगुली
दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड ने अभी तक कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए कोई दान नहीं दिया है. गांगुली ने कहा वह इस मामले पर बोर्ड के सचिव जय शाह के साथ चर्चा कर बेहतर विकल्प का पता लगाने की कोशिश करेंगे. उन्होंने कहा, 'मैंने जय के साथ चर्चा नहीं की है। हम स्थिति का आकलन करेंगे, निर्देशों का पालन करेंगे और देखेंगे कि क्या होता है.' कैब के पूर्व अध्यक्ष ने यह भी कहा कि अगर राज्य सरकार चाहे तो ईडन गार्डन्स की इंडोर सुविधा और खिलाड़ियों का आवास का इस्तेमाल चिकित्सा सुविधा देने के लिये किया जा सकता है, जैसा कि पांडिचेरी क्रिकेट संघ ने की पेशकश की है. उन्होंने कहा, 'अगर सरकार हमसे पूछती है, तो हम निश्चित रूप से स्टेडियम की यह सुविधाएं उन्हें सौंप देंगे. हम समय की जरूरत के मुताबिक काम करेंगे. इसमें कोई समस्या नहीं है.' गांगुली ने पूर्ण बंद का स्वागत किया और उम्मीद जताई कि इस कदम से स्थिति को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी.

हिंदुस्तान आना चाहते हैं पाक लेग स्पिनर दानिश कनेरिया, कहा- वो हमारी धरती है

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2020, 8:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर