वर्ल्ड कप की नाकामी के बाद साउथ अफ्रीका के कोच की छुट्टी

वर्ल्ड कप में साउथ अफ्रीका ने अपने नौ में से केवल तीन ही मैचों में जीत दर्ज की थी जिसके बाद बोर्ड ने वेस्टइंडीज के गिब्बसन का करार ना बढ़ाने का फैसला किया है

News18Hindi
Updated: August 4, 2019, 7:11 PM IST
वर्ल्ड कप की नाकामी के बाद साउथ अफ्रीका के कोच की छुट्टी
साउथ अफ्रीका के कोच ओटिस और डेल स्टेन
News18Hindi
Updated: August 4, 2019, 7:11 PM IST
इंग्लैंड में हुए वर्ल्ड कप में खराब प्रदर्शन के कारण पहले ही राउंड में बाहर हो जाने वाली साउथ अफ्रीका अपने मैनेजमेंट टीम में बड़े बदलाव करने वाली है. इसकी शुरुआत उन्होंने हेड कोच ओटिस गिब्बसन को हटाकर की है. वर्ल्ड कप में साउथ अफ्रीका ने अपने नौ में से केवल तीन ही मैचों में जीत दर्ज की थी जिसके बाद बोर्ड ने वेस्टइंडीज के गिब्बसन का करार ना बढ़ाने का फैसला किया है.

गिब्सन को 2017 में साउथ अफ्रीका का कोच चुना गया था. टीम के साथ उनका करार अगले महीने खत्म हो रहा है, लेकिन बोर्ड ने कोचिंग स्टाफ के किसी भी सदस्य का करार ना बढ़ाने का फैसला किया है.

बदल जाएगा पूरा कोचिंग स्टाफ

रविवार को क्रिकेट साउथ अफ्रीका ने बयान जारी करके कहा, 'टीम के मौजूदा मैनेजमेंट और कोचिंग स्टाफ में आने वाले समय में बड़े बदलाव किए जाएंगे.' बोर्ड के मुताबिक अब टीम के लिए एक मैनेजर चुना जाएगा जो अपना कोचिंग स्टाफ खुद चुनेगा. टीम का मेडिकल और एडमिनिस्ट्रेटिव स्टाफ भी उन्हीं को रिपोर्ट करेगा. टीम मैनेजर बोर्ड के एक्टिंग डायरेक्ट कॉरी वैन को रिपोर्ट गेंदे. यह बिलकुल फुटबॉल क्लब की तरह होगा जहां टीम मैनेजर ही टीम की जिम्मेदारियां संभालेंगे.

बोर्ड के चीफ एग्जीक्यूटिव थबांग मोरो ने कहा, 'यह बदलाव साउथ अफ्रीका क्रिकेट को बदलेंगे, उन्हें और ज्यादा प्रोफेशनल टीम बनाएंगे. यह फैसला जल्दबाजी में नहीं लिया गया है बल्कि हमने हर पहलू पर चर्चा करके यह फैसला किया है.' इसके साथ ही उन्होंने कोच गिब्बसन को शुक्रिया कहते हुए कहा, 'मैं ओटिस गिब्बसन को शुक्रिया कहना चाहता हूं. उनके अलावा लंबे समय से टीम के मैनेजर डॉ मौसाजी को भी साउथ अफ्रीका क्रिकेट के लिए उनकी सेवा के लिए शुक्रिया कहना चाहता हूं.'

IND vs WI: सीरीज जीतकर वर्ल्ड कप के दर्द को कम करना चाहेगी टीम इंडिया

दर्शकों ने पूछा- जेब में सैंड पेपर तो नहीं, वॉर्नर ने पूरी जेब बाहर करके दिया जवाब

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 4, 2019, 5:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...