लाइव टीवी

केशव महाराज के कंधे में चोट थी, दर्द हो रहा था फिर भी डटे रहे, भारत के छुड़ा दिए थे छक्‍के

भाषा
Updated: October 12, 2019, 9:38 PM IST
केशव महाराज के कंधे में चोट थी, दर्द हो रहा था फिर भी डटे रहे, भारत के छुड़ा दिए थे छक्‍के
केशव महाराज व वर्नोन फिलेंडर ने 9वें विकेट के लिए शतकीय साझेदारी की. (AP Photo)

केशव महाराज (Keshav Maharaj) और वर्नोन फिलेंडर (Vernon Philander) ने नौंवे विकेट के लिये 109 रन की भागीदारी निभाई जिससे दक्षिण अफ्रीकी टीम (South Africa team) ने 275 रन बनाए.

  • Share this:
पुणे: कंधे के दर्द के बावजूद 72 रन की अर्धशतकीय पारी खेलने वाले दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के पुछल्‍ले बल्लेबाज केशव महाराज (Keshav Maharaj) ने कहा कि भारत (India) के खिलाफ दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन वह सकारात्मक बने रहे. महाराज और वर्नोन फिलेंडर (Vernon Philander) (नाबाद 44) ने नौंवे विकेट के लिये 109 रन की भागीदारी निभाई जिससे दक्षिण अफ्रीकी टीम भारत के पहली पारी के पांच विकेट पर 601 रन (घोषित) के स्कोर के जवाब में 275 रन बनाने में सफल रही. महाराज ने कहा, ‘वर्नोन और मैंने खुद से कहा कि हम चायकाल तक बल्लेबाजी करते हैं और फिर देखते हैं क्या होता है. निचले क्रम का बल्लेबाज होने के नाते आप बड़े शॉट लगाना चाहते हो लेकिन वर्नोन ने मुझे ऐसा करने से रोके रखा. मैं सकारात्मक बना रहा क्योंकि अगर आप ऐसा करोगे तो आप किसी गेंद पर अपना विकेट गंवा सकते हो.’

कंधे में दर्द था फिर भी डटे रहे महाराज
महाराज पुणे टेस्‍ट के दूसरे दिन भारत की बल्‍लेबाजी के दौरान फील्डिंग के दौरान कंधे के बल गिर गए थे. इसके चलते उनके कंधे में सूजन आ गई थी. इस बारे में उन्‍होंने कहा, 'कंधे में दर्द है. कल मैं इसके बल गिर गया था इसलिए चोट लग गई थी. लेकिन उम्‍मीद है कि मैं बाकी सीरीज के लिए फिट हो जाऊंगा. बल्‍लेबाजी के दौरान कुछ पुल शॉट लगाने के बाद मुझे ठीक लग रहा था.'

india south africa test, keshav maharaj, vernon philander, pune test, india vs south africa, ind vs sa test, south africa batting, india south africa score, केशव महाराज, वर्नोन फिलेंडर, इंडिया साउथ अफ्रीका टेस्‍ट, इंडिया वस दक्षिण अफ्रीका स्‍कोर, पुणे टेस्‍ट
केशव महाराज ने अपना पहला टेस्‍ट अर्धशतक लगाया. (AP Photo)


लगातार दूसरे मैच में पुछल्‍ले बल्‍लेबाजों ने किया भारत को परेशान
निचले क्रम के खिलाड़ियों ने पुणे स्टेडियम की ऐसी पिच पर अच्छी बल्लेबाजी की जिस पर दिग्गज खिलाड़ी नहीं चल सके. फिलेंडर व महाराज ने भारत के खिलाफ दक्षिण अफ्रीका की ओर से टेस्‍ट में 9वें विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी की. इन दोनों ने डेन पीट और सेनुरन मुथुसामी के 91 रन की साझेदारी के रिकॉर्ड को तोड़ा. इन दोनों ने विशाखपत्‍तनम टेस्‍ट में ही यह पार्टनरशिप की थी.

लगातार दूसरे टेस्‍ट में प्रोटीयाज टीम के पुछल्‍ले बल्‍लेबाजों ने भारत को परेशान किया है. पुणे टेस्‍ट में दक्षिण अफ्रीका की आधी टीम 60 रन से पहले ही आउट हो गई थी. लेकिन इसके बाद भारत को पारी समेटने में पूरा दिन लग गया.
Loading...

india south africa test, keshav maharaj, vernon philander, pune test, india vs south africa, ind vs sa test, south africa batting, india south africa score, केशव महाराज, वर्नोन फिलेंडर, इंडिया साउथ अफ्रीका टेस्‍ट, इंडिया वस दक्षिण अफ्रीका स्‍कोर, पुणे टेस्‍ट
वर्नोन फिलेंडर ने पुणे टेस्‍ट में बल्‍ले से उपयोगी योगदान दिया. (AP Photo)


पुछल्‍ले बल्लेबाजों के अच्छे प्रदर्शन से अहं को ठेस पहुंचती है: बावुमा
वहीं दक्षिण अफ्रीका के शीर्ष क्रम के बल्लेबाज टेम्बा बावुमा (Temba Bavuma) ने कहा कि भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन बड़ी पारी नहीं खेलने का उन्हें मलाल है क्योंकि निचले क्रम के खिलाड़ियों ने बल्ले से अच्छा प्रदर्शन करते हुए शतकीय साझेदारी निभा ली.

उन्होंने कहा, ‘हमें अब दूसरी पारी में अच्छी बल्लेबाजी करनी होगी. हमें बल्ले से दबदबा बनाना होगा जैसा कि भारत ने किया है. देखिए शीर्ष क्रम का खिलाड़ी होने के नाते हमारा काम ज्यादा से ज्यादा रन बटोरना है लेकिन निचले क्रम के बल्लेबाजों को बड़ी पारी खेलते हुए देखकर दुख होता है. इससे आपके अहं को ठेस पहुंचती है कि निचले क्रम ने अच्छी बल्लेबाजी की.’

दिनेश कार्तिक ने आतिशी बैटिंग से मचाया कोहराम, गेंदबाजों से नहीं हो रहे आउट

दीपक चाहर ने बल्‍ले से खेली ताबड़तोड़ पारी, फिर गेंद से मचाया धमाल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 12, 2019, 9:38 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...