होम /न्यूज /खेल /बड़ी खबर: वर्ल्ड कप 2011 फाइनल में फिक्सिंग के आरोपों की जांच के आदेश

बड़ी खबर: वर्ल्ड कप 2011 फाइनल में फिक्सिंग के आरोपों की जांच के आदेश

अप्रैल 2011: भारत के करोड़ों लोगों का सपना धोनी ने पूरा  किया. 28 साल के इंतजार के बाद भारतीय टीम पहली वर्ल्ड चैंपियन बनी. भारत ने मुंबई में श्रीलंका को मात देकर वर्ल्ड कप का खिताब जीता. धोनी का विजयी छक्का फाइनल की सबसे बड़ी हाईलाइट रही.

अप्रैल 2011: भारत के करोड़ों लोगों का सपना धोनी ने पूरा किया. 28 साल के इंतजार के बाद भारतीय टीम पहली वर्ल्ड चैंपियन बनी. भारत ने मुंबई में श्रीलंका को मात देकर वर्ल्ड कप का खिताब जीता. धोनी का विजयी छक्का फाइनल की सबसे बड़ी हाईलाइट रही.

श्रीलंका के पूर्व खेलमंत्री महिंदानंदा अलुथगामेगे ने लगाए थे भारत-श्रीलंका वर्ल्ड कप फाइनल (ICC World Cup 2011 Final) म ...अधिक पढ़ें

    कोलंबो. श्रीलंका के पूर्व खेल मंत्री महिंदानंदा अलुथगामेगे ने गुरुवार को सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा था कि साल 2011 वर्ल्ड कप का फाइनल (ICC Cricket World Cup 2011 Final) फिक्स था. अब इन सनसनीखेज आरोपों की जांच शुरू हो गई है. श्रीलंका के खेलमंत्री ने विश्व कप 2011 फाइनल में देश की क्रिकेट टीम की भारत के हाथों हार में मैच फिक्सिंग के पूर्व खेलमंत्री महिंदानंदा अलुथगामेगे के आरोपों की जांच के आदेश दिये हैं. खेलमंत्री डल्लास अलाहाप्पेरूमा ने जांच के आदेश देने के साथ हर दो सप्ताह में प्रगति रिपोर्ट देने को कहा है .

    श्रीलंका ने वर्ल्ड कप फाइनल टीम इंडिया को बेचा!
    खेल सचिव के रूवानचंद्रा ने खेलमंत्री के निर्देश पर शनिवार को मंत्रालय की जांच ईकाई के पास शिकायत दर्ज कराई थी. अलुथगामेगे ने आरोप लगाया है कि उनकी टीम ने भारत को मैच बेच दिया था. पूर्व कप्तानों कुमार संगकारा और महेला जयवर्धने ने इस आरोप को खारिज करके सबूत की मांग की है. स्थानीय टीवी चैनल को दिये इंटरव्यू में अलुथगामेगे ने कहा कि फाइनल फिक्स था. भारत ने 275 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए गौतम गंभीर के 97 और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के 91 रन की मदद से खिताब जीता था.

    उस समय खेलमंत्री रहे अलुथगामेगे ने कहा, 'आज मैं आपको बताता हूं कि हमने विश्व कप 2011 बेच दिया था. जब मैं खेलमंत्री था, तब भी मैने यह कहा था.' पांच अगस्त को होने वाले चुनाव तक कामकाज देख रही मौजूदा कार्यवाहक सरकार में विद्युत राज्य मंत्री अलुथगामगे ने कहा, 'एक देश के रूप में मैं यह घोषणा नहीं करना चाहता था. मुझे याद नहीं कि वह 2011 था या 2012 लेकिन हमें वह मैच जीतना चाहिए था.' उन्होंने कहा, ‘‘मैं जिम्मेदारी के साथ आपको कह रहा हूं कि मैंने महसूस किया कि वह मैच फिक्स था. मैं इस पर बहस कर सकता हूं, मुझे पता है कि लोग इसे लेकर चिंतित हैं.'

    संगकारा ने मांगे सबूत
    2011 वर्ल्ड कप (ICC Cricket World Cup 2011 Final) में श्रीलंका के कप्तान संगकारा ने भ्रष्टाचार रोधी जांच के लिए सबूत मुहैया कराने को कहा है. संगकारा ने ट्वीट किया, 'उन्हें अपने ‘सबूत’ आईसीसी और भ्रष्टाचार रोधी एवं सुरक्षा इकाई के पास लेकर जाने की जरूरत है जिससे कि दावे की विस्तृत जांच हो सके.' उस मैच में शतक जड़ने वाले पूर्व कप्तान जयवर्धने ने हालांकि इन आरोपों को बकवास करार दिया है. उन्होंने ट्वीट में पूछा, 'क्या चुनाव होने वाले हैं?.... जो सर्कस शुरू हुआ है वह पसंद आया... नाम और सबूत?'

    ये भी पढ़ें- सुसाइड करना चाहता था यह भारतीय गेंदबाज, कहा- विराट कोहली ने..

    चीनी कंपनी के साथ रिश्‍ता तोड़ने को तैयार बीसीसीआई, मगर इस शर्त के साथ

    अलुथगामगे ने कहा कि उनका नजरिया है कि नतीजे को फिक्स करने में खिलाड़ी नहीं बल्कि कुछ पक्ष शामिल थे. अलुथगामगे और तत्कालीन राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में हुए फाइनल में आमंत्रित किए गए थे. श्रीलंका की विश्व कप विजेता टीम के कप्तान रहे अर्जुन रणतुंगा ने भी 2011 विश्व कप फाइनल के फिक्स होने के आरोपों की जांच की मांग की थी.

    Tags: Icc world cup 2011, India Vs Sri lanka, Sports news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें