लाइव टीवी

इस खिलाड़ी ने खोली ऑस्ट्रेलिया की 'पोल', कहा- टीम में नहीं मिलती छूट, होता है भेदभाव!

भाषा
Updated: April 6, 2020, 9:01 PM IST
इस खिलाड़ी ने खोली ऑस्ट्रेलिया की 'पोल', कहा- टीम में नहीं मिलती छूट, होता है भेदभाव!
स्टीव ओकीफी ने दिया बड़ा बयान, कहा- स्पिनरों को नहीं मिलते मौके

ऑस्ट्रेलियाई टीम को खुलकर खेलने वाली टीम माना जाता है लेकिन स्पिनर ओकीफी (Steve O'Keefe) ने संन्यास लेने के 24 घंटे के बाद ही टीम मैनेजमेंट पर बड़ा बयान दे दिया

  • Share this:
सिडनी. ऑस्ट्रेलिया की टीम के अंदर जीत की कैसी तड़प होती है, उसके खिलाड़ियों के ऊपर अच्छा प्रदर्शन करने का कितना दबाव होता है, इस बात का खुलासा उनकी टीम पर बनी डॉक्युमेंट्री 'द टेस्ट' में हुआ था. इस डॉक्युमेंट्री में ऑस्ट्रेलियाई टीम की सोच, उसके काम करने के तरीका दिखाया गया था. उस डॉक्युमेंट्री को दुनिया के करोड़ों फैंस ने सराहा. हालांकि उस शानदार डॉक्युमेंट्री के बाद अब ऑस्ट्रेलिया के स्पिनर स्टीव ओकीफी (Steve O'Keefe) ने एक बड़ा खुलासा कर दिया है. ओकीफी ने ऑस्ट्रेलियाई टीम मैनेजमेंट पर सवाल खड़े कर दिये हैं.

ओकीफी ने खड़े किए कंगारू टीम पर सवाल
प्रथम श्रेणी क्रिकेट से रविवार को संन्यास की घोषणा करने वाले ऑस्ट्रेलिया के पूर्व स्पिनर स्टीव ओकीफी (Steve O'Keefe) ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि कंगारू टीम में स्पिनर्स को महत्वता नहीं दी जाती और उन्हें अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित भी नहीं किया जाता. उन्होंनेकहा कि जब तब घरेलू क्रिकेट में स्पिनरों को मैच जिताने का मौका नहीं मिलेगा, तब तक वे उपमहाद्विप में संघर्ष करेंगे.
इस 35 वर्षीय बायें हाथ के स्पिनर ने आस्ट्रेलिया की तरफ से नौ टेस्ट मैच खेले जिनमें उन्होंने 35 विकेट लिये थे. न्यू साउथ वेल्स ने पिछले सत्र में शेफील्ड शील्ड जीती थी जिसमें ओकीफी ने 22.25 की औसत से 16 विकेट लेकर अपना अच्छा योगदान दिया था. बायें हाथ के इस गेंदबाज ने घरेलू क्रिकेट में 24.66 की औसत से 301 विकेट लिये हैं.



संन्यास के बाद ओकीफी (Steve O'Keefe) ने स्पिनरों को खुद को साबित करने के लिए अधिक मौके देने की वकालत की. ओकीफी ने कहा, 'हमारे देश में काफी प्रतिभा मौजूद है, स्पिन गेंदबाजी में गहराई है. मैं हर टीम (घरेलू) के शीर्ष दो स्पिनरों को देखूं तो मुझे लगता है कि प्रतिभा की कोई कमी नहीं है.' उन्होंने कहा, 'समस्या यह है कि उन्हें पहले दस ओवरों में गेंदबाजी का मौका नहीं मिलता है, ना ही उन्हें मैच जीतने में योगदान देने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है. उन्हें खुद को व्यक्त करने की छूट नहीं दी जाती है.'



मौजूदा ऑस्ट्रेलियाई टीम में महज एक स्पिनर
बता दें मौजूदा ऑस्ट्रेलियाई टीम में अगर वनडे और टी20 की बात की जाए तो एडम जंपा स्पिनर के तौर पर खेलते हैं, वहीं टेस्ट में नाथन लायन को प्लेइंग इलेवन में मौका मिलता है. इन दोनों ही गेंदबाजों ने अपने प्रदर्शन से ऑस्ट्रेलियाई को कई मैचों में जीत दिलाई है. हालांकि इसमें कोई दो राय नहीं कि ऑस्ट्रेलियाई टीम विकेटों के लिए अपने तेज गेंदबाजों पर ही ज्यादा भरोसा दिखाती है.

विमान में बिजनेस क्लास में खिलाड़ियों के साथ नहीं बैठते धोनी,गावस्कर का खु

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 6, 2020, 8:58 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading