लॉर्ड्स टेस्‍ट: जब भारत के खिलाफ हैट्रिक के लिए 60 साल के पिता आ गए बॉलिंग करने!

लगातार दो गेंदों पर विराट कोहली और कार्तिक को पवेलियन लौटाने के कारण ब्रॉड के पास हैट्रिक बनाने का मौका था, लेकिन वह ऐसा नहीं कर सके.

Ajay Raj | News18Hindi
Updated: August 13, 2018, 7:22 AM IST
लॉर्ड्स टेस्‍ट: जब भारत के खिलाफ हैट्रिक के लिए 60 साल के पिता आ गए बॉलिंग करने!
इंग्‍लैंड टीम
Ajay Raj | News18Hindi
Updated: August 13, 2018, 7:22 AM IST
इंग्‍लैंड ने लॉर्ड्स टेस्‍ट में भारत को पारी और 159 रन के अंतर से दबोच कर पांच टेस्‍ट मैचों की सीरीज में 2-0 की बढ़त हासिल कर ली है. लेकिन भारत की दूसरी पारी के दौरान एक अजीब घटना घटी. इस घटना का गवाह बना पारी का 31वां ओवर, जिसे स्‍टुअर्ट ब्रॉड फेंक रहे थे. उन्‍होंने ओवर की तीसरी गेंद पर विराट कोहली (17 रन) को शॉर्ट लेग पर ऑली पोप के हाथों कैच कराया, जबकि अगली ही गेंद पर विकेटकीपर बल्‍लेबाज़ दिनेश कार्तिक भी ब्रॉड के जाल में फंस गए. वह एलबीडब्‍ल्‍यू हुए और खाता खोले बिना पवेलियन लौट गए.

सच कहा जाए तो इन दो विकेट के साथ ही भारत की हार तय हो गई थी, क्‍योंकि इंग्‍लैंड दौरे पर अब तक कप्‍तान विराट कोहली के अलावा किसी अन्‍य खिलाड़ी ने कुछ खास दमदार प्रदर्शन नहीं किया है.

बहरहाल, लगातार दो गेंदों पर विराट कोहली और कार्तिक को पैवेलियन लौटाने के कारण ब्रॉड के पास हैट्रिक बनाने का मौका था, लेकिन वह ऐसा नहीं कर सके. जबकि ओवर की पांचवीं गेंद पर नए बल्‍लेबाज आर अश्विन को लेग बाई के रूप में चार रन मिले. हालांकि इंग्लिश कप्‍तान जो रूट ने फील्डिंग में भी बदलाव किया था और गली के रूप में एक और नजदीकी फील्‍डर तैनात किया. इस दौरान ऐसा कुछ हुआ जिसने हर किसी को हैरान कर दिया.



हुआ ये कि सीरीज़ के प्रसारणकर्ता सोनी सिक्‍स के एचडी चैनल पर यकायक 'क्रिस ब्रॉड ऑन ए हैट्रिक' दिखाई देने लगा. आपको बता दें कि क्रिस ब्रॉड इंग्‍लैंड के मौजूदा ऑलराउंडर स्‍टुअर्ट ब्रॉड के पिता हैं. क्रिस ने इंग्‍लैंड के लिए 1984 से 1989 के बीच 25 टेस्‍ट और 34 वनडे खेले हैं, जिनमें उनका प्रदर्शन अच्‍छा रहा था. हालांकि इस वक्‍त वह आईसीसी में मैच रेफरी की जिम्‍मेदारी निभाते हैं.

देखा जाए तो लॉर्ड्स में हैट्रिक से चूकने के कारण ब्रॉड 'हैट्रिक की हैट्रिक' से चूक गए. इससे पहले उन्‍होंने भारत के खिलाफ नॉटिंघम में 2011 में हैट्रिक की थी, जिसमें धोनी, हरभजन और प्रवीन कुमार उनके शिकार थे, जबकि दूसरी हैट्रिक उन्‍होंने श्रीलंका के खिलाफ लीड्स में 2014 में ली थी. उसमें उनके शिकार थे संगाकारा, चांडीमल और इरंगा.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर