सोशल मीडिया पर खिलाड़ियों से हुए बुरे बर्ताव से नाराज है इंग्लैंड क्रिकेट टीम, कर सकती है इसका बॉयकॉट

इंग्लैंड क्रिकेट टीम सोशल मीडिया पर खिलाड़ियों से हो रहे नस्लीय दुर्व्यवहार से नाराज है और उसने इसका बॉयकॉट करने का मन बनाया है. (साभार-एएफपी)

इंग्लैंड क्रिकेट टीम सोशल मीडिया पर खिलाड़ियों से हो रहे नस्लीय दुर्व्यवहार से नाराज है और उसने इसका बॉयकॉट करने का मन बनाया है. (साभार-एएफपी)

इंग्लैंड की क्रिकेट टीम (England Cricket Team) ने सोशल मीडिया पर खिलाड़ियों से हो रही बदसलूकी के खिलाफ खड़ा होने का फैसला कर लिया है. तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड (Stuart Broad) ने कहा कि खिलाड़ी सोशल मीडिया के तमाम प्लेटफॉर्म का बॉयकॉट करने की तैयारी कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 12, 2021, 3:13 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. इंग्लैंड की क्रिकेट टीम (England Cricket Team) ने सोशल मीडिया पर खिलाड़ियों से हो रही बदसलूकी के खिलाफ खड़ा होने का फैसला कर लिया है. खिलाड़ी इससे इतना नाराज हैं कि वो सोशल मीडिया के तमाम प्लेटफॉर्म का बॉयकॉट करने की तैयारी कर रहे हैं. इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड (Stuart Broad) ने ये जानकारी दी. हाल ही में स्पिनर मोईन अली(Moeen Ali) और जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) के खिलाफ सोशल मीडिया पर बुरा बर्ताव किया गया था. ब्रॉड ने कहा कि वह इसके खिलाफ खड़ा होने के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया के बहुत फायदे हैं, लेकिन अगर हमें गलत के खिलाफ खड़ा होने के लिए अगर कुछ वक्त इससे दूर भी होना पड़े तो हम इसके लिए पूरी तरह तैयार हैं.

ब्रॉड ने आगे कहा कि इसे लेकर कोई भी फैसला ड्रेसिंग रूम मे मौजद सीनियर खिलाड़ी लेंगे. अगर टीम को लगता है कि बदलाव की जरूरत है, तो हमारे ऊपर काफी बड़े लोग हैं, जो इस मसले पर टीम की सोच को अच्छे से जानते हैं. उन्होंने कहा कि ये वाकई उन लोगों के बड़ा संदेश होगा, जो सोशल मीडिया का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं. बता दें कि हाल ही में बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन ने इंग्लैंड के स्पिनर मोईन अली को लेकर विवादित ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा था कि अगर मोईन क्रिकेट नहीं खेलते तो वो आतंकवादी संगठन आईएसआईएस (Islamic State Of Iraq And Syria) में शामिल हो जाते.



तस्लीमा नसरीन ने मोईन अली पर किया था विवादित ट्वीट
नसरीन के इस ट्वीट पर इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ने कड़ा पलटवार किया था. उन्होंने ट्वीट किया था कि क्या आप (तस्लीमा) ठीक हो?, मुझे नहीं लगता कि आप ठीक हो. इस पर बांग्लादेशी लेखिका ने लिखा कि नफरत करने वाले अच्छे से जानते हैं कि मोईन को लेकर मेरा ट्वीट सिर्फ मजाक था, लेकिन लोगों ने मुझे अपमानित करने के लिए इसे एक मुद्दा बना लिया. ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि मैं मुस्लिम समाज को धर्मनिरपेक्ष बनाने की कोशिश करती हूं. इस पर आर्चर ने फिर लिखा, 'व्यंग्य? कोई भी नहीं हंस रहा, आप भी नहीं, आप कम से कम यह कर सकती हैं कि इस ट्वीट को हटा दें.'

IPL 2021: सहवाग ने मनीष पांडे को ठहराया SRH की हार का जिम्मेदार, बोले-उनमें आक्रामकता की कमी दिखी

इंग्लिश खिलाड़ियों ने नसरीन के खिलाफ खोला था मोर्चा



आर्चर के अलावा इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर रेयान साइडबाटम (Ryan Sidebottom) ने भी तस्लीमा नसरीन को ट्वीट डिलीट करने की सलाह दी. उन्होंने लिखा, ‘मुझे लगता है कि आपको यह चेक करने की जरूरत है कि आप स्वस्थ महसूस कर रही हैं या नहीं. अच्छा होगा यदि आप अपना अकाउंट ही डिलीट कर दें.’

IPL 2021 Point Table: दिल्ली कैपिटल्स टॉप पर, अंतिम पायदान पर CSK, जानें बाकी टीमों का हाल

इंग्लैंड के घरेलू फुटबॉल में भी नस्लीय दुर्व्यवहार से परेशान खिलाड़ी

इंग्लैंड क्रिकेट टीम से पहले वहां के घरेलू फुटबॉल क्लब भी सोशल मीडिया का बहिष्कार करने की बात कह चुके हैं. पिछले हफ्ते ही स्कॉटिश चैंपियन रेंजर्स और इंग्लैंड के दूसरे स्तर की टीम स्वानसी सिटी के कई खिलाड़ियों ने कहा था कि वो एक हफ्ते के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का बहिष्कार करेंगे. उन्होंने यह फैसला नस्लीय दुर्व्यवहार के बाद लिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज