लाइव टीवी
Elec-widget

विराट कोहली पर भड़के सुनील गावस्कर, कहा- जब आप पैदा नहीं हुए थे तब भी जीतती थी टीम इंडिया

भाषा
Updated: November 25, 2019, 11:14 AM IST
विराट कोहली पर भड़के सुनील गावस्कर, कहा- जब आप पैदा नहीं हुए थे तब भी जीतती थी टीम इंडिया
भारतीय टीम के कप्‍तान विराट कोहली. (AP Photo)

विराट कोहली (Virat Kohli) ने बांग्‍लादेश (Bangladesh) को हराने के बाद कहा था कि सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने टीम इंडिया (Team India) को जीतना सिखाया था.

  • भाषा
  • Last Updated: November 25, 2019, 11:14 AM IST
  • Share this:
कोलकाता: अपने दौर के दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने विराट कोहली (Virat Kohli) के उस बयान को आड़े हाथों लिया जिसमें उन्होंने कहा था कि भारतीय टीम (Indian Team) ने सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के दौर में टेस्ट क्रिकेट की कठिन चुनौतियों का सामना करना शुरू किया था. गावस्कर ने कहा कि भारतीय टीम उस समय भी जीतती थी जब वर्तमान कप्तान (कोहली) पैदा भी नहीं हुए थे. बांग्लादेश (Bangladesh) के खिलाफ दूसरे टेस्ट में भारत की धमाकेदार जीत के बाद कोहली ने कहा था कि भारत ने चुनौतियों का सामना करना सीख लिया है और यह सब ‘दादा (सौरव गांगुली) की टीम से शुरू हुआ. उनकी टीम तो उसी सिलसिले को आगे बढ़ा रही है.’

'दादा बीसीसीआई अध्यक्ष हैं तो कोहली उनकी अच्‍छी बातें करना चाहते हैं'
कोहली के बयान से असंतुष्ट पूर्व कप्तान गावस्कर ने कहा, 'भारतीय कप्तान ने कहा कि यह 2000 से दादा (सौरव गांगुली) की टीम से शुरू हुआ. मुझे पता है कि दादा बीसीसीआई के अध्यक्ष हैं इसलिए शायद कोहली उनके बारे में अच्छी बातें कहना चाहते थे. लेकिन भारत 70 और 80 के दशक में भी जीत रहा था. उस समय उनका (कोहली) जन्म भी नहीं हुआ था.'



गावस्‍कर बोले- भारतीय टीम 70 के दशक में विदेश में जीतती थी
उन्होंने स्टार स्पोर्ट्स पर मैच समाप्त होने के बाद एक शो में कहा, 'बहुत से लोग अभी तक यह मानते हैं कि क्रिकेट 2000 के दशक में शुरू हुआ था लेकिन भारतीय टीम 70 के दशक में विदेश में जीत दर्ज करती थी. भारतीय टीम 1986 में भी जीती थी. भारत ने विदेश में सीरीज ड्रॉ भी कराई थी. वे बाकी टीमों की तरह हारे भी थे.'

विराट कोहली ने बांग्‍लादेश को हराने के बाद पोस्‍ट मैच प्रजेंटेशन में सौरव गांगुली को भारतीय क्रिकेट में जीत की आदत डालने का श्रेय दिया था. उस समय गांगुली भी वहीं मौजूद थे.

Loading...

कोहली ने दिया था ये बयान
कोहली ने कहा था, 'मेरा कहना है कि पहले बल्‍लेबाज को चोटिल या नुकसान पहुंचाने की कोशिश नहीं होती थी. केवल यही था कि सामने वाले के दिमाग को पढ़ना और उसे उसी तरह से आउट करना है लेकिन अब हम सामने डटना और पलटकर जवाब देना सीख गए हैं. यह सब दादा की टीम से शुरू हुआ और हम इसे ही आगे बढ़ा रहे हैं. अभी के तेज गेंदबाज निडर है और उनका मानना है कि वे किसी भी बल्‍लेबाज का सामना कर सकते हैं. पिछले 3-4 सालों में हमने जो भी कड़ी मेहनत की थी अब उसका ही फल मिल रहा है.'

विराट कोहली ने रिकॉर्ड जीत के बाद की गांगुली की तारीफ, कहा- दादा ने सिखाया...

अजहरुद्दीन से बढ़ी रायडू की तकरार, बोले- इतना पर्सनल मत होइए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 25, 2019, 7:55 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...