सुनील गावस्कर ने कहा- पाकिस्तान दौरे पर हो गए थे परेशान, न्यूजीलैंड में हेडली ने उड़ाए थे होश

सुनील गावस्कर ने कहा- पाकिस्तान दौरे पर हो गए थे परेशान, न्यूजीलैंड में हेडली ने उड़ाए थे होश
सुनील गावस्कर ने शेयर की अपने करियर की यादें

यू-ट्यूब पर रमीज राजा के साथ बातचीत करते हुए सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने अपने करियर के दौरान कुछ गजब के लम्हों को साझा किया

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 15, 2020, 10:36 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत के महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर जब क्रीज पर जाते थे तो उन्हें आउट करना गेंदबाजों के लिए टेढ़ी खीर होता था. हालांकि कुछ गेंदबाजों ने सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) जैसे टैलेंटेड बल्लेबाज को परेशान भी किया है. पाकिस्तान के पूर्व कप्तान रमीज राजा से खास बातचीत में उन्होंने अपने करियर के कुछ लम्हों को फैंस के साथ साझा किया. गावस्कर ने बताया कि उन्हें पाकिस्तान की पिचों पर खेलने में काफी तकलीफ हुई.

पाकिस्तान में रिवर्स स्विंग ने किया परेशान
सुनील गावस्कर  (Sunil Gavaskar) ने कहा कि 1982-83 में भारत का पाकिस्तान दौरा इसलिए बहुत मुश्किल था क्योंकि उस समय मेजबान टीम की गेंदबाजी में तेजी और स्विंग दोनों थी. गावस्कर ने बताया कि पाकिस्तान में गेंद रिवर्स स्विंग होती थी और उन्हें सरफराज नवाज और इमरान खान ने बहुत परेशान किया. बता दें इमरान खान ने उस दौरे पर 6 टेस्ट मैच में 40 विकेट लिये थे. इमरान खान ने पारी मे 4 बार 5 विकेट हासिल किए थे. वहीं दो टेस्ट में उन्होंने 10 से ज्यादा विकेट लिये. सरफराज नवाज ने 19 विकेट अपने नाम किये थे. भारत 6 टेस्ट मैचों की सीरीज 0-4 से हारा था. दो टेस्ट मैच ड्रॉ रहे थे.

गावस्कर  (Sunil Gavaskar) ने कहा, ' इमरान और सरफराज ने काफी चुनौतीपूर्ण गेंदबाजी की थी. उन दिनों किसी ने भी रिवर्स स्विंग के बारे में नहीं सुना था. नई गेंद कोई समस्या नहीं थी, लेकिन लंच के बाद गेंद स्विंग होने लगती थी और उसे खेलना मुश्किल हो जाता था.'



बता दें उस पाकिस्तान दौरे पर सुनील गावस्कर ने 10 पारियों में 48.22 की औसत से 434 रन ठोके थे. गावस्कर ने सीरीज में 3 अर्धशतक और एक शतक लगाया था. वहीं पाकिस्तान की ओर से मुदस्सर नजर ने सबसे ज्यादा 761 और जहीर अब्बास ने 650 रन बनाए थे. जावेद मियामदाद ने 594 बनाए थे.



रिचर्ड हैडली ने भी किया परेशान
सुनील गावस्कर  (Sunil Gavaskar) ने ये भी बताया कि न्यूजीलैंड में रिचर्ड हेडली की पेस और स्विंग का सामना करना भी उनके लिए काफी कठिन चुनौती थी. गावस्कर ने बताया कि उनके लिए 1981 में न्यूजीलैंड दौरे पर हेडली का सामना सबसे कठिन था. बता दें न्यूजीलैंड दौरे पर भी टीम इंडिया सीरीज 0-1 से हार गई थी. ये न्यूजीलैंड की भारत के खिलाफ पहली टेस्ट सीरीज जीत थी. इस सीरीज में सुनील गावस्कर 3 टेस्ट मैचों में 25 की औसत से 126 रन ही बना पाए थे. वहीं रिचर्ड हेडली ने 3 टेस्ट मैचों में 10 विकेट झटके थे. गजब की बात ये है कि न्यूजीलैंड की तेज विकेट पर सबसे ज्यादा 15 विकेट रवि शास्त्री ने लिए थे.

भूखे पेट राजस्थान से बिहार जा रहा शख्स हुआ बेहोश, मसीहा बनकर सामने आए शमी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading