खेल

IPL 2020: एक ही मैच में अजीब तरीकों से आउट हुए 4 बल्लेबाज, फिर कैसे जीते टीम!

सनराइजर्स हैदराबाद की टीम पहला मैच 10 रन से हार गई.
सनराइजर्स हैदराबाद की टीम पहला मैच 10 रन से हार गई.

सनराजइर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) की टीम आईपीएल 2020 (IPL 2020) में अपना पहला मैच जीत के करीब पहुंचकर भी हार गई. रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) ने उसे 10 रन से हराया. सनराइजर्स एक तरह से बदकिस्मत कही जा सकती है क्योंकि उसके 4 बल्लेबाज अजीबो-गरीब अंदाज में आउट हुए. इनमें कप्तान डेविड वॉर्नर भी शामिल हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 22, 2020, 2:54 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: आईपीएल 2020 में 21 सितंबर को सनराइजर्स हैदराबाद और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB vs SRH) के बीच खेला गया मैच लंबे समय तक याद रहने वाला है. एक ऐसा मैच जिसमें सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) की टीम जीत की ओर बढ़ रही थी. उसने 164 के लक्ष्य का पीछा करते हुए 2 विकेट पर 121 रन बना लिए थे. उसे जीत के लिए महज 42 रन चाहिए थे और आठ विकेट हाथ में थे. जीत पक्की लग रही थी. अचानक विकेट ताश के पत्तों की तरह बिखरने लगे. महज 25 मिनट में एसआरएच (SRH) के बाकी 8 विकेट भी गिर गए और पूरी टीम 153 रन पर ढेर हो गई.

अब आपके मन में सवाल पैदा होगा कि इसमें क्या यादगार है. क्रिकेट में विकेटों की ऐसी पतझड़ अगर आम नहीं, तो आश्चर्यजनक भी नहीं है. इस सवाल के जवाब के लिए आपको हैदराबाद के बल्लेबाजों के आउट होने के तरीकों पर जाना होगा. इस टीम के एक-दो नहीं, बल्कि पूरे चार बल्लेबाज जैसे आउट हुए, उसे सिर्फ बदकिस्मती ही कहा जा सकता है. और जब एक ही मैच में इतने बल्लेबाज यूं आउट हों तो इसे अजीब ही कहा जाएगा.

एक शानदार शॉट और बदकिस्मत कप्तान
दरअसल, हैदराबाद को मैच में पहला झटका कप्तान डेविड वॉर्नर (David Warner) के आउट होने से लगा. वॉर्नर नॉन-स्ट्राइकर एंड पर थे, तभी उमेश यादव की गेंद पर जॉनी बेयरस्टो ने तेज प्रहार किया. शॉट इतना जोरदार था कि उमेश यादव पूरी कोशिश करके भी इसे नहीं रोक पाए. हां, इस कोशिश में उनकी उंगलियों ने गेंद को छू जरूर लिया. वॉर्नर के आउट होने के लिए जैसे यही काफी था. गेंद ने दिशा बदली और सीधे स्टंप्स पर जा टकराई. वॉर्नर रन के लिए आगे निकल रहे थे और जब गेंद ने उमेश की उंगलियों को छूकर दिशा बदली, तब इस हैदराबादी कप्तान के पास क्रीज में लौटने का वक्त नहीं बचा था. नतीजा वॉर्नर रन आउट हो गए. एक शानदार शॉट पर बदकिस्मत कप्तान पवैलियन लौट गया.
हेलमेट से टकराकर गेंद स्टंप पर जा लगी


हैदराबाद की ओर से आईपीएल में डेब्यू कर रहे प्रियम गर्ग (Priyam Garg) भी बदकिस्मत रहे. वे 12 गेंद पर 12 रन बनाकर क्रीज पर थे. बेयरस्टो और विजय शंकर के आउट होने के बाद टीम को उम्मीद थी कि प्रियम जीत दिलाएंगे. लेकिन किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया. वे शिवम दुबे की गेंद को दिलस्कूप के अंदाज में खेलने के लिए घुटनों पर बैठे, लेकिन सफाई से ऐसा नहीं कर पाए. गेंद बल्ले से टकराकर उनकी हेलमेट से टकराई और ऊपर उठी. पलक झपकते ही गेंद स्टंप पर जा गिरी. असहाय प्रियम पवेलियन लौट गए.

राशिद की चोट और अभिषेक का विकेट
प्रियम के आउट होने के बाद हैदराबाद के प्रशंसक ऑलराउंडर अभिषेक शर्मा (Abhishek Sharma) और राशिद खान से आस लगाए थे. जीत के लिए रन ज्यादा नहीं बचे थे इसलिए यह उम्मीद जायज थी. तभी बड़ा हादसा हो गया. जी, यह हैदराबाद के लिए यह किसी हादसे से कम नहीं था क्योंकि अभिषेक और राशिद रन लेते हुए आपस में टकरा गए. टक्कर इतनी जोरदार थी कि राशिद बुरी तरह घायल हो गए. वे करीब एक मिनट तक उठ भी नहीं पाए. टीम डॉक्टर और फिजियो ने उन्हें कुछ दवा दी और एक्सरसाइज कराई, तब वे खेलने लायक हुए. लेकिन राशिद का घायल होना, हैदराबाद के लिए बड़ी चोट नहीं थी. चोट तो यह थी कि इस टक्कर की वजह से अभिषेक क्रीज तक नहीं पहुंच पाए और रन आउट हो गए. हैदराबाद की बदकिस्मती ने एक और विकेट ले लिया था.

और फिर मिचेल मार्श का आउट होना
बदकिस्मती से आउट होने वाले बल्लेबाजों की इस लिस्ट में चौथा नाम ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर मिचेल मार्श (Mitchel Marsh) का है. मार्श गेंदबाजी करते हुए घायल हो गए थे. इस कारण उन्हें मैदान से बाहर जाना पड़ा था. लेकिन यह बहादुर खिलाड़ी टीम की जरूरत देख मैदान पर बैटिंग के लिए उतरा. मार्श जब क्रीज की ओर बढ़ रहे थे तो लंगड़ा रहे थे. उन्होंने एक रन भी दौड़ा, तो उनकी लंगड़ाहट साफ नजर आई. जब वे क्रीज पर थे तब हैदराबाद को जीत के लिए 11 गेंद पर 21 रन चाहिए थे. मार्श जानते थे कि वे दौड़ नहीं सकते. इसलिए उन्होंने छक्का लगाने की कोशिश की, लेकिन दर्द के कारण वे ऐसा नहीं कर सके. उन्होंने शॉट जरूर खेला, लेकिन बॉल आसमान में ऊंची चली गई, जिसे नीचे आते ही कोहली ने आसानी से लपक लिया. मार्श आउट हो गए, लेकिन उनका बहादुरी के साथ बैटिंग करने आना लोगों को लंबे समय तक याद रहेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज