IPL 2021: SRH और KKR के सामने प्लेइंग-11 में 4 विदेशियों को चुनने की चुनौती, इन्हें मिल सकता है मौका

पिछले सीजन में केकेआर ने सनराजर्स को पहले मैच में हराया था. (News 18)

पिछले सीजन में केकेआर ने सनराजर्स को पहले मैच में हराया था. (News 18)

आईपीएल 2021 में रविवार शाम को तीसरा मुकाबला सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) और कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders) के बीच चेन्नई के चेपॉक स्टेडियम में खेला जाएगा. इस मुकाबले के लिए प्लेइंग-11 में चार विदेशी खिलाड़ियों को चुनना दोनों टीमों के लिए बड़ा चुनौतीपूर्ण होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 11, 2021, 12:51 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आईपीएल 2021 (IPL 2021) का तीसरा मुकाबला रविवार शाम सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) और कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders) के बीच चेन्नई के चेपॉक स्टेडियम में खेला जाएगा. लीग का ओपनिंग मैच भी इसी मैदान पर खेला गया था. इस मुकाबले में विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) ने मुंबई इंडियंस (MI) को 2 विकेट से हरा दिया था. वैसे तो ये पिच स्पिनर्स की मददगार मानी जाती है. लेकिन उस मैच में गिरे 17 में से 11 विकेट तेज गेंदबाजों ने लिए. इसमें से अकेले पांच विकेट तो आरसीबी के तेज गेंदबाज हर्षल पटेल ने लिए. ऐसे में हैदराबाद और कोलकाता दोनों टीमों के लिए इस मुकाबले में अपना प्लेइंग-11 तय करना चुनौतीपूर्ण होगा.

इस मैदान पर दोनों ही टीमें पहली बार आमने-सामने होंगी. इसलिए किसका पलड़ा भारी और किसका कमजोर ये कहना आसान नहीं है. लेकिन पिछले सीजन की अगर बात करें तो कोलकाता ने सनराइजर्स को पहले मुकाबले में हराया था. हालांकि, इसके बाद भी केकेआर प्लेऑफ में पहुचने में सफल नहीं हो पाई थी. नेट रन रेट के कारण सनराइजर्स हैदराबाद और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर प्लेऑफ में पहुंची थी. अगर दोनों टीमों के बीच अब तक हुए मुकाबलों की बात करें तो पलड़ा कोलकाता का भारी नजर आता है. अब तक हुए 19 मैच में से कोलकाता ने 12 और हैदराबाद ने 7 जीते हैं.

जॉनी बेयरस्टो वॉर्नर के साथ पारी की शुरुआत कर सकते हैं

आईपीएल में पुराने रिकॉर्ड बहुत मायने नहीं रखते हैं. मैच के दिन कोई भी टीम पासा पलट सकती है. लेकिन इसके लिए टीम कॉम्बिनेशन बेहतर होना जरूरी है. खासतौर पर प्लेइंग-11 में चार विदेशी खिलाड़ियों का चुनाव. इस मामले में दोनों ही टीमों के सामने चुनौती है. अगर सनराइजर्स की बात करें तो कप्तान और टीम का अहम बल्लेबाज होने के नाते ऑस्ट्रेलिया के डेविड वॉर्नर और अफगानिस्तान के लेग स्पिनर राशिद खान का प्लेइंग-11 में खेलना तय है. वॉर्नर लगातार 6 सीजन से 500+ रन बनाने वाले आईपीएल के इकलौते बल्लेबाज हैं. बाकी बचे दो स्थानों के लिए पेंच फंसा हुआ है.
वॉर्नर के साथ अगर जॉनी बेयरस्टो पारी की शुरुआत करते हैं, तो फिर एक विदेशी गेंदबाज के लिए टीम को समझौता करना पड़ेगा. उस सूरत में जेसन होल़्डर को बाहर बैठना पड़ सकता है. उनकी जगह बतौर ऑलराउंडर विजय शंकर या केदार जाधव को शामिल किया जा सकता है और भुवनेश्वर कुमार, संदीप शर्मा और टी नटराजन तेज गेंदबाजों की भूमिका निभा सकते हैं. वहीं, टीम के मध्यक्रम को मजबूत करने के लिए केन विलियम्सन को चौथे खिलाड़ी के रूप में प्लेइंग-11 में शामिल किया जा सकता है

पृथ्वी शॉ की बल्लेबाजी देख वॉन बोले-भारत में इतना टैलेंट कि दो टीमें बनाकर भी दुनिया पर राज कर सकता है

रसेल को नजरअंदाज करना भी केकेआर के लिए मुश्किल



सनराइजर्स की तरह ही कोलकाता का कप्तान भी विदेशी है. इंग्लैंड के ऑयन मोर्गन आईपीएल 2021 में टीम की कप्तानी करेंगे. ऐसे में वो प्लेइंग-11 का हिस्सा रहेंगे. बाकी बचे तीन स्थानों के लिए कई खिलाड़ियों के बीच रस्साकशी नजर आ रही है. इसमें सुनील नरेन, आंद्रे रसेल, पैट कमिंस, शकीब उल हसन शामिल हैं. इन चारों में से किसी तीन को जगह मिलेगी. अगर मौजूदा फॉर्म की बात करें तो आंद्रे रसेल का चुना जाना लगभग तय है. रसेल पिछली बार लंका प्रीमियर लीग में कोलंबो किंग्स टीम को ओर से खेले थे. उन्होंने पिछले पांच टी20 में 74 रन बनाने के साथ पांच विकेट भी लिए हैं. ऐसे में उन्हें नजरअंदाज करना मुश्किल है.

IPL 2021: पंत के रूप में भारतीय क्रिकेट को मिला नया 'कैप्टन कूल', हर मौके पर इस खिलाड़ी ने मारा चौका

शकीब का भी प्लेइंग-11 में चुने जाने का दावा मजबूत

वहीं, बांग्लादेशी ऑलराउंडर शाकिब उल हसन भी अहम खिलाड़ी हैं. उनके टीम में आने से संतुलन बन सकता है. वो गेंदबाजी के साथ बल्लेबाजी भी कर सकते हैं. चेन्नई के टर्निंग ट्रैक पर वो ज्यादा असरदार साबित हो सकते हैं. उनका हालिया फॉर्म भी अच्छा है. उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ इसी साल जनवरी-फरवरी में हुई वनडे और टेस्ट सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया है. शकीब ने इस दौरान दो अर्धशतक लगाने के साथ ही 6 विकेट भी लिए हैं. ऐसे में उनको प्लेइंग-11 में शामिल करना फायेदमंद साबित होगा. बाकी बचे एक स्लॉट में सुनील नरेन का चुने जाने की ज्यादा संभावना है. क्योंकि वो पारी गेंदबाजी में विविधता लाते हैं और जरूरत पड़ने पर तेजी से रन भी बना सकते हैं.

सनराइजर्स हैदराबाद का संभावित प्लेइंग-11-डेविड वॉर्नर(कप्तान), जॉनी बेयरस्टो, केन विलियम्सन, मनीष पांडे, रिद्धिमान साहा(विकेटकीपर), केदार जाधव/ विजय शंकर, अभिषेक शर्मा, राशिद खान, संदीप शर्मा, भुवनेश्वर कुमार, टी नटराजन.

कोलकाता नाइट राइडर्स का संभावित प्लेइंग-11-शुभमन गिल, नीतीश राणा, ऑयन मोर्गन(कप्तान), दिनेश कार्तिक(विकेटकीपर), सुनील नरेन, आंद्रे रसेल, शाकिब उल हसन, वरूण चक्रवर्ती/ हरभजन सिंह, प्रसिद्ध कृष्णा, शिवम मावी, कमलेश नागरकोटी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज