IPL 2020 छोड़कर भारत लौटने पर सुरेश रैना का बड़ा बयान, कहा-कोई पछतावा नहीं, समझदारी भरा फैसला था


सुरेश रैना ने कहा कि उस समय उनके परिवार को उनकी जरूरत थी  (फोटो क्रेडिट: CSK/Twitter)

सुरेश रैना ने कहा कि उस समय उनके परिवार को उनकी जरूरत थी (फोटो क्रेडिट: CSK/Twitter)

सुरेश रैना (suresh raina) आईपीएल के 13वें सीजन के लिए चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के साथ यूएई भी पहुंच गए थे, मगर अचानक भारत लौटकर उन्‍होंने हर किसी को हैरान कर दिया था

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 2, 2021, 7:55 AM IST
  • Share this:

नई दिल्‍ली. आईपीएल (IPL 2020) शुरू होने से कुछ दिन पहले ही चेन्‍नई सुपर किंग्‍स (Chennai Super Kings) का साथ छोड़कर सुरेश रैना (Suresh Raina) भारत लौट गए थे. आईपीएल के 13वें सीजन के लिए यूएई रवाना होने से पहले उन्‍होंने पिछले साल 15 अगस्‍त को एमएस धोनी के साथ ही इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया था और इसके बाद वह यूएई के लिए रवाना हो गए थे, मगर टीम में कोरोना के मामले सामने आने के बाद वह भारत लौट गए थे.

रैना के इस फैसले से एन श्रीनिवासन काफी नाराज भी नजर आए थे और उन्‍होंने काफी बोल्‍ड बयान दिया था. रैना के इस फैसले पर काफी सवाल उठाए गए थे. तरह तरह के कयास लगाए जा रहे थे. हालांकि उसके बाद पहली बार रैना ने अपने उस फैसले पर खुलकर बात की. टाइम्‍स ऑफ इंडिया से बात करते हुए रैना ने कहा कि घर लौटने का फैसला लेने पर उन्‍हें कोई मलाल नहीं है.

रैना के आईपीएल शुरू होने से पहले यूएई से भारत लौटने पर ऐसी भी खबर आ रही थी कि वह होटल के अपने कमरे से नाखुश थे और उन्‍हें बालकनी वाला कमरा चाहिए था. रैना ने चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के लिए 33.28 की औसत से आईपीएल में सबसे ज्‍यादा 4 हजार 527 रन बनाए. हालांकि आईपीएल 2021 में चेन्‍नई के लिए उनकी वापसी पर अभी कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.

यह भी पढ़ें : 
Syed Mushtaq Ali: प्रियम गर्ग की कप्‍तानी में खेलेंगे सुरेश रैना, भुवनेश्‍वर कुमार जैसे स्‍टार खिलाड़ी

अब दुबई में बिकेगी एमएस धोनी के खेतों की सब्जियां! जानिए पूरा मामला

समझदारी भरा फैसला लगा



पूर्व भारतीय ऑलराउंडर के कहा कि पछतावा क्‍यों होगा. मैंने मेरे बच्‍चों और परिवार के साथ समय बिताया. उन्‍होंने कहा कि मैं हकीकत में परिवार के लिए वापस आना चाहता था. पंजाब में परिवार के साथ दर्दनाक घटना घटी और उन्‍हें मेरी जरूरत थी (पठानकोट में लूटपाट के दौरान रैना के अंकल और कजिन भाई की हत्‍या कर दी गई थी). महामारी के दौरान मेरी पत्‍नी को भी यहां मेरी जरूरत थी. टाइम्‍स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार रैना ने कहा कि मैं पिछले 20 सालों से खेल रहा हूं, इसीलिए मैं जानता हूं कि मैं वापिस करूंगा, मगर जब आपके परिवार को आपकी जरूरत हो, आपको वहां पर रहना होगा. रैना ने कहा कि मुझे लगा कि यह समझदारी भरा फैसला था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज