होम /न्यूज /खेल /HBD Syed Mushtaq Ali: विदेशी सरजमीं पर भारत के पहले शतकवीर जिनके नाम पर खेली जाती है घरेलू T20 ट्रॉफी

HBD Syed Mushtaq Ali: विदेशी सरजमीं पर भारत के पहले शतकवीर जिनके नाम पर खेली जाती है घरेलू T20 ट्रॉफी

पूर्व भारतीय क्रिकेटर सैयद मुश्ताक अली की आज 107वीं जयंती है. (फोटो साभार-@BCCIdomestic)

पूर्व भारतीय क्रिकेटर सैयद मुश्ताक अली की आज 107वीं जयंती है. (फोटो साभार-@BCCIdomestic)

Syed Mushtaq Ali Birth Anniversary: भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज सैयद मुश्ताक अली की आज 107वीं जयंती है. अली दाएं हाथ क ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. विदेशी सरजमीं पर भारत की ओर से पहला टेस्ट शतक जड़कर क्रिकेट की दुनिया में अमर होने वाले सैयद मुश्ताक अली (Syed Mushtaq Ali) अगर आज असल जिंदगी में मौजूद होते, तो 107 बरस के होते. अली ने 25 जुलाई 1936 को इंग्लैंड के खिलाफ (India vs England) मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रेफर्ड ग्राउंड में 112 रनों की पारी खेली थी. अली की गिनती उनके दौर में सबसे विस्फोटक खिलाड़ियों में होती थी. वह टेस्ट मैचों में गेंदबाजों की बेरहमी से धुनाई करते थे. उनके नाम पर ही भारत का घरेलू टी20 टूर्नामेंट ‘सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी’ खेली जाती है.

    अली का जन्म 17 दिसंबर 1914 को इंदौर के एक मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ. उस दौर के दिग्गज खिलाड़ी कर्नल सीके नायडू ने अली को क्रिकेट जगत में पहली बार मौका दिया. नायडू को वह अपने गुरु का दर्जा देते थे. अली करियर की शुरुआत में बाएं हाथ के धीमी गति के गेंदबाज थे लेकिन आगे उनकी पहचान दाएं हाथ के विस्फोटक सलामी बल्लेबाज की बनी. अली ने 20 साल की उम्र में 1934 में कोलकाता के ईडन गार्डन पर इंग्लैंड के खिलाफ अपने टेस्ट डेब्यू किया. इसके दो साल बाद उन्होंने इंग्लैंड की धरती पर शतक जड़कर खुद को क्रिकेट की दुनिया में अमर कर लिया.

    जुलाई 1936 में भारत की मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड के मैदान पर इंग्लैंड से भिड़ंत हुई. इस सीरीज के दूसरे मैच में अली ने मशहूर बल्लेबाज विजय मर्चेंट के साथ भारत की दूसरी पारी में दोनों खिलाड़ियों करीब 140 मिनट में 203 रन जड़ दिए. इनमें से 112 रन अकेले अली के बल्ले से निकले थे और संयोग से यह टेस्ट क्रिकेट में उनका सर्वाधिक स्कोर भी है. अली ने इस पारी में 150 मिनट क्रीज पर डटे रहकर 17 चौकों जड़े. यह उस वक्त विदेशी धरती पर भारतीय टीम के किसी बल्लेबाज का पहला टेस्ट शतक भी था.

    17 दिसंबर: भारतीय क्रिकेट के इतिहास में बेहद खास दिन, लाला अमरनाथ और पहले टेस्ट से जुड़ी है तारीख

    अली ने 11 टेस्ट मैचों की 20 पारियों में 32.21 के औसत से कुल 612 रन जड़े. इनमें दो शतक और तीन अर्धशतक शामिल हैं. उन्होंने साल 1952 में अपने करियर का 11वां और आखिरी टेस्ट इंग्लैंड के खिलाफ ही खेला था. चेन्नई में खेले गए इस मुकाबले में इसमें टीम इंडिया ने इंग्लैंड को रौंदा था. यह भारत की पहली टेस्ट जीत भी थी.

    इसके अलावा उन्होंने साल 1930-31 में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में डेब्यू किया और 49 साल की उम्र में साल 1963-64 में आखिरी फर्स्ट क्लास मैच खेला. उन्होंने 226 फर्स्ट क्लास मैचों में 35.9 की औसत से 13213 रन बनाए. फर्स्ट क्लास क्रिकेट में मुश्ताक अली के नाम 30 शतक और 63 अर्धशतक दर्ज है. भारत सरकार ने क्रिकेट में उनके अमूल्य योगदान को सलाम करते हुए उन्हें वर्ष 1964 में ‘पद्म श्री’ से नवाजा था. अली ने 18 जून 2005 को 91 साल की उम्र में इस दुनिया को अलविदा कहा था.

    Tags: Cricket news, England, On This Day, Syed Mushtaq Ali Trophy, Syed Mushtaq Ali Trophy 2021

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें