लाइव टीवी

दीपक चाहर ने नहीं ली थी हैट्रिक, आईसीसी और बीसीसीआई से हुई बड़ी भूल!

News18Hindi
Updated: November 13, 2019, 9:31 PM IST
दीपक चाहर ने नहीं ली थी हैट्रिक, आईसीसी और बीसीसीआई से हुई बड़ी भूल!
दीपक चाहर के पास तीन दिन में दो हैट्रिक लेने का मौका था

बांग्लादेश के खिलाफ हैट्रिक लेने के दो दिन बाद दीपक चाहर (Deepak Chahar) ने विदर्भ के खिलाफ छह गेंद पर चार विकेट लिए, जिसमें आखिर की तीन गेंदों पर तीन विकेट लिए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 13, 2019, 9:31 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. बांग्लादेश के खिलाफ सीरीज के तीसरे और आखिरी टी20 मैच में हैट्रिक लेकर इतिहास रचने वाले दीपक चाहर (Deepak Chahar) ने इसके दो दिन बाद ही मैदान पर फिर से कमाल कर दिया था. भारतीय टी20 टीम का अहम हिस्सा बनने वाले चाहर ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी (Syed Mushtaq Ali Trophy ) में विदर्भ के खिलाफ छह गेंदों पर चार विकेट लिए थे, लेकिन इस मैच में वह तीन दिन में अपनी दूसरी हैट्रिक लेने से चूक गए.

राजस्‍थान की ओर से खेलते हुए इस तेज गेंदबाज ने आखिर की तीन सही गेंदों पर तीन विकेट लिए थे, लेकिन इसके बावजूद वह हैट्रिक लेने से चूक गए. दरअसल चौथी गेंद पर विकेट हासिल करने के बाद उन्होंने एक वाइड गेंद फेंक दी. इसके बाद आखिर की दो गेंदों पर उन्होंंने दो विकेट लिए. लेकिन दो विकेट के बीच फेंकी गई इस वाइड गेंद की वजह से चाहर हैट्रिक लेने से चूक गए. उन्होंने इस मैच में तीन ओवर में 18 रन देकर चार विकेट लिए थे.

नियम के अनुसार अगर गेंदबाज लगातार तीन वैध गेंदों पर तीन विकेट लेता है, तो ही उसे हैट्रिक माना जाएगा. लेकिन यहां चाहर ने एक वाइड गेंद फेंक दी थी. आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर चाहर ने दर्शन नालकंडे को अपना शिकार बनाया. इसके बाद उन्होंने वाइड गेंद फेंकी. अतिरिक्त गेंद पर उन्होंने श्रीकांत और फिर आखिरी गेंद पर अक्षय वाडकर को अपना शिकार बनाया. इससे पहले इस ओवर की पहली गेंद पर उन्होंने रुषभ राठौड़ को आउट किया था.

हैट्रिक को लेकर नहीं है कोई नियम

क्रिकेट के पूरे खेल को एमसीसी के नियम की किताब में समझाया गया. बल्लेबाज के बल्ले, पिच, गेंदबाज की गेंद, अंपायर के संकेत, मैदान पर खिलाड़ियों का व्यवहार, गेंद की साइज, बाउंड्री की लंबाई, रन देने का नियम सभी कुछ क्रिकेट के नियम की इस किताब में है, लेकिन इसमें हैट्रिक से संबंधित कोई आधिकारिक नियम नहीं हैं. जबकि वाइड गेंद को नियम 22 में पूरी तरह से समझाया  गया है, लेकिन वाइड गेंद पर हैट्रिक को लेकर उसमें भी कुछ नियम नहीं बताए गए हैं.

deepak chahar, hat trick, india vs bangladesh, syed mushtaq ali trophy, sports news, cricket, दीपक चाहर, सैयर मुश्ताक अली ट्रॉफी, स्पोर्ट्स न्यूज, क्रिकेट

वाइड गेंद पर भी ऐसे हो सकती है हैट्रिक
Loading...

चूंकि हैट्रिक को लेकर कोई आधिकारिक नियम नहीं है. इसीलिए इस मामले को देखने का यह तरीका है कि  गेंदबाज के पास वाइड गेंद पर भी हैट्रिक लेने का मौका रहता है, ले‌किन उस ही स्थिति में जब वे बल्लेबाज को स्टंप या हिट विकेट आउट करे. वहीं अगर गेंदबाज इन दोनों में से किसी एक तरह से भी वाइड गेंद पर विकेट नहीं ले पाता है तो वह हैट्रिक का मौका गंवा देता है. दीपक के मामले में भी कुछ ऐसा ही है. वह अपनी वाइड गेंद पर स्टंप या हिट विकेट दोनों में से कुछ नहीं  कर पाए थे, जिससे वह हैट्रिक से चूक गए.



 

इससे दो दिन पहले ही चाहर ने किया था वर्ल्ड क्लास प्रदर्शन
विदर्भ के खिलाफ सैयद मुश्ताक में शानदार प्रदर्शन करने से दो दिन पहले ही दीपक चाहर  (Deepak Chahar)  ने बांग्लादेश  के खिलाफ इतिहास रच दिया था. उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ सात रन देकर छह विकेट लिए थे. चाहर इसके साथ ही इंटरनेशनल टी20 क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले भारत के पहले पुरुष खिलाड़ी भी बने.

साथ ही टी20 में उन्होंने अजंता मेंडिस के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया. मेंडिस  ने 2012 में जिम्बाब्वे के खिलाफ 8 रन देकर छह विकेट लिए ‌थे. बांग्लादेश के खिलाफ निर्णायक मुकाबले में दीपक चाहर (Deepak Chahar) की घातक गेंदबाजी ने उनकी रैंकिंग में भी काफी सुधार किया. टी20 में गेंदबाजों की रैंकिंग में वह 88 पायदान की छलांग लगाकर 42वें स्‍थान पर पहुंच गए हैं.

IPL 2020: एमएस धोनी की टीम से इन तीन खिलाड़ियों की छुट्टी तय!

मंधाना की फोटो से छेड़छाड़ कर लगाई लिपस्टिक, सोशल मीडिया पर भड़के प्रशंसक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2019, 4:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...