होम /न्यूज /खेल /T20 World Cup: एक तिहाई भारतीय खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव नहीं, क्या टीम इंडिया पर पड़ेगा यह भारी?

T20 World Cup: एक तिहाई भारतीय खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव नहीं, क्या टीम इंडिया पर पड़ेगा यह भारी?

T20 World Cup: भारतीय टीम में शामिल कई खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव नहीं है. (BCCI Twitter)

T20 World Cup: भारतीय टीम में शामिल कई खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव नहीं है. (BCCI Twitter)

T20 World cup 2022 से पहले खिलाड़ियों की चोट और फिटनेस ने टीम इंडिया की परेशानी बढ़ा रखी है. इसके अलावा भी एक वजह है, ज ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

भारतीय स्क्वॉड में शामिल कई खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव नहीं
टीम इंडिया दो हफ्ते पहले ऑस्ट्र्रेलिया जाएगी, पर्थ में बनाएगी अपना बेस

नई दिल्ली. रोहित शर्मा की अगुआई में टीम इंडिया टी20 वर्ल्ड कप का 15 साल का सूखा खत्म करने के इरादे से ऑस्ट्रेलिया जाएगी. हालांकि, उड़ान भरने से पहले ही टीम इंडिया की परेशानी बढ़ाने वाली खबरें आने लगी. पहले मोहम्मद शमी कोरोना संक्रमित हुए, फिर दीपक हुडा की पीठ में चोट लगी और अब जसप्रीत बुमराह के स्ट्रेस फ्रैक्चर ने भारत को बड़ा झटका दिया है. बुमराह को टी20 विश्व कप से पूरी तरह बाहर नहीं किया गया है. लेकिन, उनके शुरुआती कुछ मुकाबलों में खेलने की संभावना बेहद कम है. चोट और फिटनेसने तो पहले ही टीम इंडिया की परेशानी बढ़ा रखी है. इसमें और इजाफा हो सकता है. क्योंकि टी20 विश्व कप के लिए जो स्क्वॉड चुना गया है. उसमें से करीब एक तिहाई खिलाड़ियों के पास ऑस्ट्रेलिया में क्रिकेट खेलने का अनुभव नहीं है.

टी20 विश्व कप के लिए जो स्कॉड (स्टैंडबाय समेत) चुना गया है. उनमें से 5 खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया में बड़े टूर्नामेंट खेलने का कोई अनुभव नहीं है. इसमें सूर्यकुमार यादव, हर्षल पटेल (2009 में अंडर-19 टूर्नामेंट के ऑस्ट्रेलिया गए थे). वहीं, अर्शदीप सिंह, दीपक हुडा और रवि बिश्नोई (2013 में अंडर-19 टीम के साथ गए थे). यानी ऑस्ट्रेलिया में खेलने के अनुभव के आधार पर यह सारे खिलाड़ी बिल्कुल नए हैं. शायद यही कारण है कि भारतीय टीम 23 अक्टूबर को पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले अपने पहले मैच से दो हफ्ते पहले ही ऑस्ट्रेलिया पहुंच रही है. ताकि युवा खिलाड़ी पिच, कंडीशंस से तालमेल बैठा सकें.

भारतीय टीम ने पर्थ को अपना बेस बनाया है. जहां के विकेट में अतिरिक्त उछाल है. ऐसा इसलिए किया गया है कि ताकि गेंदबाज और बल्लेबाज दोनों अतिरिक्त उछाल के हिसाब से अपनी तैयारी कर सकें. हालांकि, टी20 विश्व कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में इतना आसान नहीं होगा.

क्या अनुभवहीनता आएगी आड़े?
भारत के लिए अच्छी बात यह है कि जिन खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव नहीं है. उनमें से अधिकतर खिलाड़ियों ने बीते 1 साल में टी20 में शानदार प्रदर्शन किया है. इसमें से दो खिलाड़ी अर्शदीप सिंह और दीपक हुडा तो ऐसे हैं, जिन्होंने इसी साल टी20 डेब्यू किया है और अपने खेल से काफी प्रभावित किया है. अर्शदीप को टी20 डेब्यू किए तीन महीने ही हुए हैं. इसके बावजूद उन्हें टी20 विश्व कप की टीम में चुना गया. यह दिखाता है कि इस खिलाड़ी में काबिलियत है.

अर्शदीप डेथ ओवर गेंदबाज की भूमिका निभा सकते 
अर्शदीप ने अब तक खेले 12 टी20 में 18.47 की औसत से 17 विकेट लिए हैं. वो बुमराह की गैरहाजिरी में डेथ ओवर गेंदबाज की भूमिका निभा सकते हैं. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तिरुवनंतपुरम में हुए पहले टी20 में इस बाएं हाथ के गेंदबाज ने नई गेंद से कमाल की गेंदबाजी की. उससे एक बात साफ हो गई कि अगर ऑस्ट्रेलिया में कंडीशंस थोड़ी भी तेज गेंदबाजी के लिए मददगार रही तो बाएं हाथ का गेंदबाज होने के नाते अर्शदीप असरदार साबित हो सकते हैं.

हुडा भी उपयोगिता साबित कर सकते हैं
दीपक हुडा ने भी इसी साल फरवरी में ही टी20 डेब्यू किया था. उन्होंने अब तक खेले 12 मैच में 41.85 की औसत और 156 के स्ट्राइक रेट से 293 रन बनाए हैं. हुडा एक शतक भी लगा चुके हैं. उनकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि वो किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी कर सकते हैं. उन्होंने टी20 में शतक तीन नंबर पर खेलते हुए जड़ा है. दीपक को भले ही ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव नहीं है. लेकिन, जिस तरह से उन्होंने बीते कुछ महीनों में टी20 में प्रदर्शन किया है. वो ऑस्ट्रेलिया में मौका मिलने पर अपनी उपयोगिता साबित कर सकते हैं.

T20 World Cup: टीम इंडिया कब जाएगी ऑस्ट्रेलिया और कहां करेगी ट्रेनिंग? जानिए पूरा शेड्यूल

भारत-साउथ अफ्रीका T20 के सभी टिकट बिके, गुवाहाटी में चहेते खिलाड़ियों की एक झलक पाने को बेताब हुए फैंस

सूर्या कंडीशन से तालमेल बैठने के बाद भारी पड़ सकते 
सूर्यकुमार यादव को भी ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव नहीं है. लेकिन, इस बल्लेबाज को टी20 विश्व कप में भारत का सबसे बड़ा ट्रंप कार्ड माना जा रहा है. इसकी वाजिब वजह है. सूर्यकुमार 2022 में सबसे अधिक टी20 रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं. उन्होंने 21 मैच में 41 की औसत और 180 के स्ट्राइक रेट से 732 रन बनाए हैं. ऑस्ट्रेलिया की उछाल भरी पिच और कंडीशन सूर्यकुमार की बल्लेबाजी के अंदाज से मेल खाती हैं. ऐसे में उन्हें भले ही ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव नहीं हो. लेकिन, एक बार कंडीशंस से तालमेल बैठ जाने के बाद वो किसी भी गेंदबाजी आक्रमण को तहस-नहस कर सकते हैं.

Tags: Arshdeep Singh, Deepak Hooda, Suryakumar Yadav, T20 World Cup, T20 World Cup 2022, Team india

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें