Home /News /sports /

गौतम गंभीर ने हार्दिक पांड्या को प्लेइंग इलेवन में रखने को लेकर रखी ये शर्त, क्या मानेंगे विराट कोहली?

गौतम गंभीर ने हार्दिक पांड्या को प्लेइंग इलेवन में रखने को लेकर रखी ये शर्त, क्या मानेंगे विराट कोहली?

गौतम गंभीर चाहते हैं कि बिना गेंदबाज़ी के हार्दिक को प्लेइंग इलेवन में मौकी नहीं मिले. (फ़ाइल फोटो)

गौतम गंभीर चाहते हैं कि बिना गेंदबाज़ी के हार्दिक को प्लेइंग इलेवन में मौकी नहीं मिले. (फ़ाइल फोटो)

ICC T20 World Cup 2021: गंभीर ने साल 2007 टी-20 वर्ल्ड का जिक्र करते हुए कहा कि दोनों टीम में समानताएं हैं. उस वक्त भी कप्तान सहित कई खिलाड़ी अपनी जगह पक्की करने में लगे थे और आज भी ऐसा ही हो रहा है.

    नई दिल्ली. पाकिस्तान के खिलाफ ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) को मौका मिलेगा या नहीं इसको ले कर सस्पेंस बरकरार है. साल 2019 में लोअर बैक इंजरी के बाद से हार्दिक के फॉर्म पर लगातार सवाल उठ रहे हैं. वर्ल्ड कप से पहले वॉर्म अप मैच में भी उन्होंने गेंदबाज़ी नहीं की. इस बीच टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर और 2007 टी-20 चैंपियन टीम के सदस्य गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने पांड्या को प्लेइंग इलेवन में शामिल करने को लेकर एक शर्त रखी है. उन्होंने कहा है पांड्या को तभी अंतिम ग्यारह में रखा जाए जब वो गेंदबाज़ी करे.

    अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया में एक कॉलम लिखते हुए गंभीर ने टीम इंडिया का आंकलन किया है. उन्होंने हार्दिक पांड्या का ज़िक्र करते हुए लिखा है, ‘हाल ही में खत्म हुए आईपीएल में पांड्या के गेंदबाज़ी न करने के चलते चयनकर्ताओं ने स्पिन बॉलिंग आलराउंडर अक्षर पटेल की जगह तेज़ गेंदबाज़ शार्दुल ठाकुर को टीम में शामिल किया. मैं चाहता हूं कि पांड्या अपने पूरे कोटे की गेंदबाज़ी करे. अगर फिटनेस की कोई समस्या नहीं हुई तो वो टीम को वो अच्छा संतुलन दे सकते हैं. लेकिन अगर वो गेंदबाज़ी नहीं करते हैं तो मैं उन्हें अपनी टीम में नहीं रखूंगा.’

    2007 वर्ल्ड कप से टीम की तुलना
    गंभीर ने साल 2007 टी-20 वर्ल्ड का जिक्र करते हुए कहा कि दोनों टीम में समानताएं हैं. उस वक्त भी कप्तान सहित कई खिलाड़ी अपनी जगह पक्की करने में लगे थे और आज भी ऐसा ही हो रहा है. उन्होंने लिखा,’विराट ने ऐलान किया है कि वो वर्ल्ड कप के बाद टी-20 की कप्तानी छोड़ देंगे. ओपनिंग के मोर्चे पर केएल राहुल खुद को स्थापित करने की कोशिश कर रहे हैं. हम सब हार्दिक को एक सफल ऑलराउंड के तौर पर देखना चाहते हैं. लेकिन अभी तक ऐसा नहीं हुआ है. सूर्यकुमार यादव, ईशान किशन और वरुण चक्रवर्ती के अभी शुरुआती दौर हैं. धोनी पहली बार मेंटोर की तरह टीम के साथ जुड़े हैं. साल 2007 की तरह ही इस बार भी लोगों को अपने-अपने लक्ष्य हैं.’

    ये भी पढ़ें:- T20 World Cup: शेन वॉर्न ने कर दी भविष्यवाणी, बताया कौन जीतेगा इस बार का टी 20 वर्ल्ड कप?

    क्या होगा हार्दिक का?
    इस बार आईपीएल के दौरान मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा था कि आने वाले कुछ हफ्तों में हार्दिक पांड्या गेंदबाज़ी करने लगेंगे. इस बार आईपीएम में हार्दिक ने 12 मैचों में सिर्फ 127 रन बनाए. पिछले दिनों मुंबई इंडियंस के कोच महेला जयवर्धने ने कहा था कि अगर हार्दिक पर बॉलिंग का ज्यादा दबाव बनाया जाता है तो फिर इसका असर उनकी बल्लेबाज़ी पर पड़ सकता है. बता दें कि अभी तक कप्तान या टीम मैनेजमेंट ने उनकी गेंदबाजी को लेकर कुछ नहीं कहा है.

    Tags: Gautam gambhir, Hardik Pandya, ICC T20 World Cup 2021

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर