ICC World Cup : टीम इंडिया का प्लान तैयार, ऐसे हराएंगे ऑस्ट्रेलिया को

टीम इंडिया वर्ल्ड कप 2019 के अपने दूसरे मुकाबले में आज ऑस्ट्रेलिया से भिड़ेगी. पांच बार की चैंपियन ऑस्ट्रेलिया के सामने चुनौती आसान नहीं होगी. भारतीय टीम ने गत चैंपियन को मात देने के लिए कमर कस ली है. 

News18Hindi
Updated: June 9, 2019, 2:02 PM IST
ICC World Cup : टीम इंडिया का प्लान तैयार, ऐसे हराएंगे ऑस्ट्रेलिया को
टीम इंडिया का प्लान तैयार, ऑस्ट्रेलिया को ऐसे हराएंगे
News18Hindi
Updated: June 9, 2019, 2:02 PM IST
वर्ल्ड कप के अभियान में एक कड़े प्रतिद्वंद्वी से पार पाने के बाद अब टीम इंडिया के सामने सबसे मुश्किल चुनौती है. चुनौती है पांच बार की विजेता और गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया की. इन दोनों टीमों की कड़ी प्रतिद्वंद्विता ने हालिया वर्षों में क्रिकेटप्रेमियों को बेहद आकर्षित किया है. रविवार को जब ये दोनों टीमें भिड़ेंगी तो ये वर्ल्ड कप में इनकी भिड़ंत का 12वां मौका होगा. वर्ल्ड कप में आपसी टक्कर का यह उच्चतम आंकड़ा है.

भारतीय टीम ने अपने पहले मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को छह विकेट से हराया था, जबकि ऑस्ट्रेलिया ने अफगानिस्तान को सात विकेट और वेस्टइंडीज को 15 रन से हराकर अपने वर्ल्ड कप खिताबी अभियान की जोरदार शुरुआत की है. ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि इस मुकाबले में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया से निपटने के लिए जो रणनीति तैयार की है, वो मैदान पर कितनी कारगर साबित हो पाती है.

वर्ल्ड कप में आमना-सामना

वर्ल्ड कप में दोनों टीमें 11 बार भिड़ चुकी हैं. इन 11 भिड़ंत में कई करीबी मुकाबले भी देखने को मिले, लेकिन सच्चाई यही है कि ऑस्ट्रेलिया ने इन 11 में से 8 मुकाबले अपने नाम किए हैं, जबकि सिर्फ तीन में ही भारतीय टीम जीत सकी है.

दस मैच का विजयरथ

ऑस्ट्रेलियाई टीम इस समय जबरदस्त लय में है. टीम लगातार दस वनडे मुकाबले जीत चुकी है. इनमें भारत के खिलाफ लगातार मिली तीन जीत भी शामिल हैं, वो भी उसी के घरेलू मैदान पर. ऑस्ट्रेलिया जहां अपने पिछले सभी पांचों मैच जीती है, वहीं भारत ने पिछले पांच में से केवल दो ही मुकाबलों में जीत हासिल की है.


Loading...

 

ओवल के मैदान पर जीत का औसत लक्ष्य 320 रन

ओवल के इस मैदान पर वर्ल्ड कप 2015 के बाद से जीत का औसत लक्ष्य 320 रन रहा है. वहीं, पिछले वर्ल्ड कप के बाद से लक्ष्य का पीछा करने के मामले में भारत का रिकॉर्ड इंग्लैंड के बाद दूसरा सबसे बेहतर है. वहीं, 1999 के बाद से वर्ल्ड कप में लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलियाई टीम भी कोई मैच नहीं हारी है.

टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी

हालिया वर्षों में ओवल का मैदान लक्ष्य का पीछा करने वाली टीमों को रास आता रहा है. 2017 की चैंपियंस ट्रॉफी भी इसका उदाहरण है, जब श्रीलंका ने भारत से मिला 321 रन का लक्ष्य भी आसानी से हासिल कर लिया था. ऐसे में अगर विराट कोहली टॉस जीतते हैं तो उन्हें पहले गेंदबाजी चुननी चाहिए. टीम के गेंदबाजी आक्रमण को देखते हुए यह अच्छा निर्णय होगा. अगर गेंदबाजों के लिए पिच से कोई मदद है तो वो शुरुआती कुछ समय में ही होगी. इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मुकाबले में भी हमने ऐसा ही देखा था.

 

स्टार्क समेत बाएं हाथ के पेसर बन सकते हैं समस्या

भारतीय ओपनर बाएं हाथ के तेज गेंदबाजों के खिलाफ इतने सफल नहीं रहे हैं. उनके सामने चुनौती इसलिए और भी बड़ी है क्योंकि मिचेल स्टार्क इस समय जबरदस्त फॉर्म में हैं. हालांकि 2015 वर्ल्ड कप के बाद से रोहित शर्मा किसी तरह बाएं हाथ के गेंदबाजों के खिलाफ रन बनाने में सफल रहे हैं. इस दौरान उनका औसत 46 और स्ट्राइक रेट 89 का रहा है. मगर शिखर धवन के बारे में ये बात नहीं कही जा सकती. पिछली तीन बार जब धवन और स्टार्क का सामना हुआ है, उसमें स्टार्क ने दो बार धवन को आउट किया है. वहीं, एक और बाएं हाथ के बॉलर जेसन बेहरेनडॉर्फ ने दोनों को ही आउट किया है. यह समस्या केवल ओपनरों के लिए ही नहीं है, बल्कि केएल राहुल और हार्दिक पंड्या भी इससे अछूते नहीं हैं. यहां तक कि हालिया समय में महेंद्र सिंह धोनी को भी बाएं हाथ के तेज गेंदबाजों के सामने संघर्ष करना पड़ा है.

ऑस्ट्रेलिया का गेंदबाजी आक्रमण रास आता है विराट कोहली और रोहित शर्मा को. (फोटो-AP/Aijaz Rahi)


रोहित वनडे में 23 बार हुए लेफ्ट आर्म पेसर का शिकार

रोहित शर्मा वनडे क्रिकेट में 23 बार बाएं हाथ के तेज गेंदबाजों का शिकार बने हैं. इनमें से तीन मुकाबलों में वे खाता तक नहीं खोल सके हैं, जबकि 16 मैचों में उनका स्कोर 0 से 20 रन के बीच रहा है.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोहली-रोहित

पांच बार की वर्ल्ड चैंपियन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विराट कोहली और रोहित शर्मा ने कुल 15 शतक लगाए हैं. इनमें से आठ कोहली के नाम हैं. कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 53 से ज्यादा की औसत से 1645 रन बनाए हैं, जिनमें पांच अर्धशतक भी हैं. वहीं रोहित ने 61.87 की औसत से 1980 रन बनाए, जिसमें एक दोहरा शतक भी शामिल है. दिलचस्प बात ये है कि रोहित का करियर औसत 48.11 का है, जबकि उन्होंने किसी और टीम के खिलाफ इतने शतक नहीं लगाए हैं.

विकेट बचाकर रखें

ऑस्ट्रेलियाई टीम जेसन बेहरेनडॉर्फ को खिलाने के लिए उतावली होगी. यहां तक कि वे पिछले मैच के हीरो रहे नैथन कूल्टर नाइल की कीमत पर भी ऐसा कर सकते हैं. ऐसा इसलिए भी है क्योंकि जेसन ने हालिया समय में भारतीय बल्लेबाजों के खिलाफ उल्लेखनीय सफलता हासिल की है. ऐसे में टीम इंडिया को सतर्क रहना होगा. पारी की खराब शुरुआत स्टार्क और पैट कमिंस के सामने उनके मध्यक्रम और निचलेक्रम को उधेड़कर रख सकती है. ऐसे में टीम को विकेट बचाकर रखने की रणनीति के साथ उतरना होगा.

एडम जाम्पा और पांचवें गेंदबाज को निशाना बनाएं भारतीय बल्लेबाज

ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर एडम जाम्पा भले ही कोहली का तोड़ तलाश लेने का दावा कर रहे हैं, लेकिन किसी को यह नहीं भूलना चाहिए कि हालिया समय में कोहली, हार्दिक और केदार जाधव ने जाम्पा की गेंदों की जमकर धुनाई की है. टीम को रविवार को जाम्पा को निशाना बनाना चाहिए और मध्य ओवरों में माकर्स स्टोइनिस की गेंदों को संभालने का जिम्मा धोनी को उठाने देना चाहिए, जो उन्हें कभी आउट नहीं कर सके हैं.

ऑस्ट्रेलिया के शीर्ष क्रम के खिलाफ जसप्रीत बुमराह के प्रदर्शन पर होंगी सभी की निगाहें. (फोटो-AP/Aijaz Rahi)


गेंदबाजी संतुलन के साथ न की जाए छेड़छाड़

इस वर्ल्ड कप में भारतीय स्पिन जोड़ी कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की भूमिका बेहद अहम है. 2017 चैंपियंस ट्रॉफी के बाद से हालांकि भारतीय टीम इस जोड़ी के खिलाफ काफी क्रिकेट खेल चुकी है. यहां तक कि ऑस्ट्रेलियाई टीम ने वर्ल्ड कप की अपनी तैयारियों को भी इसी हिसाब से अंजाम दिया है. बावजूद इसके भारतीय टीम को अपने गेंदबाजी आक्रमण से बिल्कुल छेड़छाड़ नहीं करनी चाहिए.

मैक्सवेल पर दबाव बनाएंगे बुमराह और चहल

ग्लेन मैक्सवेल ऑस्ट्रेलियाई टीम के सबसे आक्रामक बल्लेबाजों में से हैं. लेकिन जसप्रीत बुमराह और चहल के खिलाफ उनका प्रदर्शन खास नहीं रहा है. वनडे क्रिकेट में चहल ने उन्हें हर 12वीं गेंद पर आउट किया है. वहीं टी-20 क्रिकेट में हर 14वीं गेंद पर बुमराह ने मैक्सवेल का शिकार किया है. ऐसे में देखना होगा कि कप्तान कोहली मैक्सवेल के सामने इनमें से किस गेंदबाज को गेंद थमाते हैं.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कुलदीप-चहल
वनडे क्रिकेट में कुलदीप यादव ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 11 पारियों में 19 विकेट लिए हैं. इस दौरान उनका इकोनॉमी रेट 6.07 और औसत 33.3 रहा. वहीं, युजवेंद्र चहल ने 6 पारियों में 13 विकेट चटकाए. चहल का इकोनॉमी रेट 5.54 जबकि गेंदबाजी औसत 22.6 रहा.

फिंच के खिलाफ भुवनेश्वर का जलवा

इस मुकाबले में यह भी देखना दिलचस्प होगा कि क्या ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एरॉन फिंच भुवनेश्वर कुमार की इनस्विंगर का सामना कर पाएंगे. फिंच को भारतीय तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने 10 पारियों में 52 इनस्विंगर की हैं. इस दौरान फिंच केवल 18 रन बना सके हैं और चार बार भुवनेश्वर का शिकार बने. भुवनेश्वर के लिए यह साल शानदार साबित हुआ है. इस गेंदबाज ने 11 पारियों में 22.3 की औसत से 21 विकेट लिए हैं. ऐसे में भुवनेश्वर शुरुआती सफलता दिलाकर भारत का काम आसान कर सकते हैं.

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एरॉन फिंच को कई बार परेशान किया है भुवनेश्वर कुमार ने. (फोटो-AP/Aijaz Rahi)


टीम इंडिया को 50वीं जीत का इंतज़ार
वनडे में दोनों टीमों की बात करें तो अभी तक दोनों टीमों के बीच 136 वनडे मैच खेले गए हैं. इनमें ऑस्ट्रेलिया 77 मैच जीती है वहीं टीम इंडिया सिर्फ 49 मैच जीत पाई है. यह मैच जीतकर भारतीय टीम यह आंकड़ा 50 तक पहुंचा सकती है.

बराबरी की होगी टक्कर
दोनों ही टीमों के पास कई बड़े खिलाड़ी हैं. ऑस्ट्रेलिया के पास जहां एरॉन फिंच , उस्मान ख्वाजा, डेविड वॉर्नर, स्टीव स्मिथ, जैसे बल्लेबाज हैं तो पैट कमिंस, मिचेल स्टार्क जैसे घातक गेंदबाज भी टीम में मौजूद हैं. वहीं टीम इंडिया की बात करें तो बल्लेबाजी में विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन, केएल राहुल, एमएस धोनी,हार्दिक पांड्या हैं वहीं गेंदबाजी का जिम्मा युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव,भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी पर रहेगा.

दोनों टीमें : 

भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उपकप्तान), शिखर धवन, केएल राहुल, विजय शंकर, एमएस धोनी, केदार जाधव, दिनेश कार्तिक, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव,भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, हार्दिक पांड्या, रवींद्र जडेजा, मोहम्मद शमी .

ऑस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), उस्मान ख्वाजा, डेविड वॉर्नर, स्टीव स्मिथ, शॉन मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, मार्कस स्टोइनिस, एलेक्स कैरी, पैट कमिंस, मिचेल स्टार्क, केन रिचर्डसन, नैथन कूल्टर-नाइल, जेसन बेहरेनडॉर्फ, नैथन लायन, एडम जाम्पा.

Match Preview : आज का मैच टीम इंडिया के लिए खास, जीते तो ऑस्ट्रेलिया की होगी 50वीं हार

IND vs AUS: टीम इंडिया के ये 5 खिलाड़ी बनेंगे ऑस्ट्रेलिया के लिए सबसे बड़ा खतरा!

IND vs AUS मैच से पहले युवराज सिंह से भिड़ा ये ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी, जवाब सुन हुई बोलती बंद
क क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: June 9, 2019, 10:01 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...