सिडनी में ऑस्‍ट्रेलिया का गेम ओवर, टीम इंडिया की ऐतिहासिक जीत पक्‍की!

भारत ने सिडनी में पहली पारी में 600 या फिर इससे अधिक का स्‍कोर बनाने के बाद कभी मैच नहीं गंवाया है.

Ajay Raj | News18Hindi
Updated: January 6, 2019, 12:32 PM IST
सिडनी में ऑस्‍ट्रेलिया का गेम ओवर, टीम इंडिया की ऐतिहासिक जीत पक्‍की!
टीम इंडिया
Ajay Raj | News18Hindi
Updated: January 6, 2019, 12:32 PM IST
टीम इंडिया ने सिडनी टेस्‍ट में अपनी पहली पारी सात विकेट पर 622 रन बनाकर घोषित की है. ऑस्ट्रेलिया ने इसके जवाब में पहली पारी में 236/6 का स्‍कोर बना लिया है और वह भारत से 386 रन पीछे है. यकीनन कंगारू टीम फॉलोआन बचाने के लिये संघर्ष कर रही है. जबकि पहली पारी में विशाल स्‍कोर बनाने के साथ ही भारत की सीरीज में जीत पक्‍की लग रही है.

दरअसल, सिडनी में भारत ने तीसरी बार पहली पारी में 600 या फिर उससे अधिक रन बनाकर पारी घोषित की है और वह ऐसा करने वाली दुनिया की इकलौती विदेशी टीम है. इससे भी मजेदार बात ये है कि भारत ने इस मैदान पर पहली पारी घोषित करने के बाद कभी मैच नहीं गंवाया है.

जनवरी,1986 में कपिल देव की टीम ने एलन बॉर्डर की टीम के खिलाफ पहली पारी चार विकेट पर 600 रन बनाकर घोषित की थी. इस मैच में सुनील गावस्‍कर ने 172, कृष्‍णमाचारी श्रीकांत ने 116 और मोहिंदर अमरनाथ ने 138 रन की दमदार पारियां खेलीं थीं. भारत के बड़े स्‍कोर के सामने ऑस्‍ट्रेलिया पहली पारी में 396 रन पर ढेर हो गई. जबकि फॉलोआन खेलते हुए उसने दूसरी पारी में 119 रन पर छह विकेट गंवा दिए थे. आखिरकार मैच ड्रॉ रहा.



इसके बाद जनवरी, 2004 में सौरव गांगुली ने पहली पारी 705/7 (सचिन-241, लक्ष्‍मण-178) पर घोषित की तो ऑस्‍ट्रेलिया 474 रन पर ढेर हो गई. दादा ने दूसरी पारी दो विकेट पर 211 रन पर घोषित करके ऑस्‍ट्रेलिया को 443 रन का लक्ष्‍य दिया और मैच ड्रॉ रहा.

इन दोनों मैचों के रिजल्‍ट के आधार पर कहा जा सकता है कि भारत को यहां जीत मिलेगी या फिर मैच ड्रॉ हो सकता है, लेकिन जिस प्रकार ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाज़ कमजोर प्रदर्शन कर रहे हैं उससे मैच के ड्रॉ होने के चांस बहुत कम हैं. वैसे यहां पहली पारी में 619 रन बनाकर ऑस्‍ट्रेलिया ने 1969 में वेस्‍टइंडीज को हराया है और यह बात भारत के लिए मानसिक बढ़त जैसी है.

भारत ने चार मैचों की सीरीज में 2-1 से अजेय बढ़त बना रखी है. 'विराट सेना' ने एडीलेड में पहला मैच 31 रन से जीता तो ऑस्ट्रेलिया ने पर्थ में खेले गये दूसरे टेस्ट मैच में 146 रन से जीत दर्ज करके जबर्दस्‍त पलटवार किया था, लेकिन मेलबर्न में खेले गए तीसरे टेस्‍ट को 137 रन से जीतकर भारत ने सीरीज पर अपनी पकड़ मजबूत कर ली. इसके अलावा अहम बात ये है कि विराट कोहली भारत के एकमात्र कप्तान हैं जो ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर अंतिम टेस्ट के लिए उतरते हुए सीरीज में बढ़त बनाए हुए हैं. यही वजह है कि सिडनी में ऑस्‍ट्रेलिया के जीत के दरवाजे बंद दिखाई दे रहे हैं.

बात टॉस की
Loading...

कोहली ने इस मैच में टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी की है. विराट ने सिडनी टेस्‍ट से पहले 21 बार टॉस जीता है, जिसमें से उन्‍हें 18 बार जीत मिली है तो 3 मैच ड्रॉ रहे हैं. उन्‍होंने पहले बल्‍लेबाजी करते हुए 18 मैच जीते हैं. जबकि दो मैच पहले बल्‍लेबाजी करते हुए ड्रॉ रहे हैं. वहीं एक मैच में विराट ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग चुनी और वह ड्रॉ रहा है. साफ है कि कोहली के यहां हारने की संभावना ना के बराबर है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...