7 सालों में चोकर बन चुकी है टीम इंडिया, नहीं सुधरे तो अगले वर्ल्ड कप भी नहीं जीत पाएंगे?

7 सालों में चोकर बन चुकी है टीम इंडिया, नहीं सुधरे तो अगले वर्ल्ड कप भी नहीं जीत पाएंगे?
भारतीय टीम लंबे समय से आईसीसी टूर्नामेंट नहीं जीत पाई है

टीम इंडिया (Indian Cricket Team) ने पिछले 7 सालों में 11 में से महज एक आईसीसी खिताब जीता है, 9 बार वो सेमीफाइनल या फाइनल में पहुंचकर हारी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 10, 2020, 10:04 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय टीम दुनिया की सबसे कामयाब टीम मानी जाती है. हालांकि आईसीसी टूर्नामेंट के नॉकआउट मैचों में बीते कुछ सालो में टीम का प्रदर्शन वैसा नहीं रहा जिसकी उम्मीद उससे की जाती है. भारत के पुरुष टीम की तो साल 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी (Champions Trophy) के बाद से वह कोई आईसीसी टूर्नामेंट नहीं जीत पाया. महिला क्रिकेट और अंडर19 की बात करें तो साल 2018 अंडर 19 में मिली सफलता के अलावा भारत को हर बार निराशा हाथ लगी है. पिछले साल आज ही के दिन भारत वर्ल्डकप में न्यूजीलैंड से हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गया था. पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन के बावजूद भारत फाइनल की राह तय नहीं कर पाया. आखिर कैसे टीम पर यह चोकर्स का टैग लग गया है.

2014 टी20 वर्ल्ड कप
चैंपियंस ट्रॉफी के बाद यह भारत पहला आईसीसी टूर्नामेंट था. साल 2014 में भारत के पास दूसरी बार टी20 वर्ल्ड कप जीतने का मौका था लेकिन फाइनल में उसे श्रीलंका ने मात दे दी जिससे हराकर उन्होंने 2011 वर्ल्डकप जीता था. बांग्लादेश में खेले गए इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में भारत ने साउथ अफ्रीका को 6 विकेट से मात दी. फाइनल में उसकी टक्कर श्रीलंका से हुई और भारतीय टीम 20 ओवरों में महज 130 रन बना सकी. श्रीलंकाई टीम ने ये लक्ष्य 13 गेंद पहले ही हासिल कर लिया.

2015 वर्ल्ड कप
बतौर कप्तान यह धोनी का आखिरी आईसीसी टूर्नामेंट था. ऑस्ट्रेलिया में खेले गए 2015 वर्ल्ड कप में भी भारतीय टीम ने लीग राउंड में गजब का प्रदर्शन किया. भारत ने एक भी मैच गंवाए बिना सेमीफाइनल का रास्ता तय किया. उसने पाकिस्तान, साउथ अफ्रीका को हराया. यूएई, वेस्टइंडीज, आयरलैंड और जिम्बाब्वे की टीम भी उसके आगे नहीं ठहर सकीं. क्वार्टर फाइनल में उसने बांग्लादेश को 109 से रौंदा लेकिन सेमीफाइनल में मेजबान ऑस्ट्रेलिया ने 2011 का बदला लेते हुए टीम के सफर को खत्म कर दिया.


2016 अंडर 19 वर्ल्ड कप
बांग्लादेश में खेले गए इस टूर्नामेंट भी भारतीय टीम ने खिताब जीतने का मौका गंवा दिया. भारतीय टीम ने एक भी मैच गंवाए बिना फाइनल में जगह बनाई लेकिन फाइनल में वेस्टइंडीज के आगे टीम इंडिया 145 रनों पर ढेर हो गई और विंडीज महज 3 गेंद पहले 5 विकेट खोकर वर्ल्ड चैंपियन बन गया.

2016 टी20 वर्ल्ड कप
2011 के बाद बाद फैंस उम्मीद कर रहे थे कि भारतीय टीम एक बार फिर वर्ल्ड चैंपियन बनेगी. टीम इंडिया ने पहला मैच नागपुर में न्यूजीलैंड से 47 रनों से गंवा दिया. हालांकि इसके बाद भारत ने जबर्दस्त क्रिकेट दिखाया और पाकिस्तान को 6 विकेट, बांग्लादेश को एक रन से हराया. ऑस्ट्रेलिया को भी उसने 6 विकेट से हराया और सेमीफाइनल में जगह बनाई. हालांकि नॉकआउट में वह फिर चोकर साबित हुई औऱ वेस्टइंडीज 7 विकेट से मैच हार गई. भारतीय टीम 192 रन बनाने के बावजूद मैच हार गई.
2017 चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल
ये भारतीय क्रिकेट टीम की वो हार है जिसे शायद ही कोई फैन भुला पाएगा. इंग्लैंड में खेले गए टूर्नामेंट में टीम इंडिया ने बेहद ही कमाल का प्रदर्शन किया. उसने पहले ही मैच में पाकिस्तान को 124 रनों से धो डाला. श्रीलंका और साउथ अफ्रीका को उसने 7 और 8 विकेट से मात दी. इसके बाद सेमीफाइनल में भारत ने 9 विकेट से जीत दर्ज की लेकिन फाइनल में उसके कदम लड़खड़ा गए. पाकिस्तान के खिलाफ फाइनल मैच में भारतीय टीम 180 रनों से मैच हार गई. पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 338 रन बनाए, जवाब में टीम इंडिया महज 158 रन ही बना सकी और एक बार फिर आईसीसी ट्रॉफी जीतने से चूक गई.

2018 अंडर 19 वर्ल्ड कप
सिर्फ यही वो लम्हा था जब भारतीय टीम को आईसीसी इवेंट में जीत मिली. पृथ्वी शॉ की कप्तानी में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर चौथी बार वर्ल्ड चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया. इस टूर्नामेंट में भारत ने गजब का खेल दिखाया और उसने सेमीफाइनल में पाकिस्तान को 203 रनों से हराकर फाइनल में जगह बनाई और आखिर में ऑस्ट्रेलिया को उसने एकतराफ अंदाज में 8 विकेट से मात देकर खिताब अपने नाम किया

2018 महिला टी20 वर्ल्ड कप
सिर्फ पुरुष ही नहीं भारतीय महिला टीम ने भी चोकर्स का टैग अपने नाम किया. साल 2018 में भारतीय महिला क्रिकेट टीम के पास टी20 चैंपियन बनने का मौका था लेकिन उसकी राह सेमीफाइनल में ही समाप्त हो गई. इस टूर्नामेंट में भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड जैसी मजबूत टीम को 34 रनों से मात दी. पाकिस्तान को उसने एकतरफा अंदाज में 7 विकेट से हरा दिया. आयरलैंड को हराया और फिर ऑस्ट्रेलिया को 48 रनों से हराकर उसने अपने चैंपियन बनने की उम्मीद दिखाई लेकिन सेमीफाइनल में इंग्लैंड के सामने वो सिर्फ 112 रनों पर ढेर हो गई और उसने 8 विकेट से मैच गंवा दिया.

वेस्टइंडीज के खिलाड़ियों ने फिर तोड़ा कोरोना से जुड़ा नियम, कर दी ये गलती

जेसन होल्डर के सामने इंग्लैंड ढेर, सिर्फ 40 रन देकर झटके 6 विकेट

अंडर 19 वर्ल्ड कप 2020
ये है भारत की नाकामी का सबसे ताजा मामला, जिसमें उसे बांग्लादेश से हार झेलनी पड़ी. भारत ने साउथ अफ्रीका में खेले गए अंडर 19 वर्ल्ड कप में फाइनल तक एक भी मैच नहीं गंवाया. इस पूरे टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन भारतीय बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल ने बनाए. सबसे ज्यादा विकेट भारतीय गेंदबाज रवि बिश्नोई ने लिये लेकिन इसके बावजूद भारतीय टीम फाइनल में फ्लॉप प्रदर्शन कर खिताब नहीं जीत पाई
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading