कभी लोकल ट्रेन में सफर करने वाले इस भारतीय गेंदबाज ने दिखाया जज्बा, टीम के लिए कार से 700 किमी की दूरी तय की

शार्दुल ठाकुर मुंबई टीम का हिस्सा हैं और विजय हजारे ट्रॉफी खेल रहे हैं (Shardul Thakur/Instagram)

शार्दुल ठाकुर मुंबई टीम का हिस्सा हैं और विजय हजारे ट्रॉफी खेल रहे हैं (Shardul Thakur/Instagram)

शार्दुल ठाकुर चाहते तो फ्लाइट से डेढ़ घंटे से कम वक्त में जयपुर पहुंच सकते थे, लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों और नए क्वारैंटाइन नियमों को देखते हुए ही उन्हें विजय हजारे ट्रॉफी खेलने के लिए 10 घंटे का सफर कार से तय करने का फैसला किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 24, 2021, 3:15 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस महामारी के दौर में खिलाड़ियों को खेलने के लिए क्या-क्या नहीं करना पड़ रहा है. भारतीय तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ( Shardul Thakur) इसका उदाहरण हैं. वे विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) में अपनी टीम मुंबई की ओर से खेलने के लिए कार से 700 किलोमीटर का सफर तय करके अहमदाबाद से सीधे जयपुर पहुंचे. उन्होंने ऐसा इसलिए ताकि कोरोना संक्रमण से बचते हुए टीम के बायो सिक्योर बबल में शामिल हो सकें. बता दें कि मुंबई को विजय हजारे ट्रॉफी के एक मैच में 27 फरवरी को राजस्थान से भिड़ना है.

शार्दुल ठाकुर चाहते तो फ्लाइट से डेढ़ घंटे से कम वक्त में जयपुर पहुंच सकते थे, लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों और नए क्वारैंटाइन नियमों को देखते हुए ही उन्हें विजय हजारे ट्रॉफी खेलने के लिए 10 घंटे का सफर कार से तय करने का फैसला किया. इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के पहले दो टेस्ट में शामिल शार्दुल को 22 फरवरी को ही विजय हजारे ट्रॉफी के लिए रिलीज कर दिया गया था. उनकी जगह टीम में उमेश यादव को शामिल किया गया था.

2011 वर्ल्ड कप में टॉस के दौरान शाहिद अफरीदी के विवादित बयान को गंभीर ने किया याद

मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (MCA) के सचिव संजय नाइक ने बताया कि शार्दुल 22 फरवरी की सुबह पांच बजे कार से जयपुर के लिए निकले. ताकि शाम तक वहां पहुंच सके. उन्होंने बताया कि अगर हम उन्हें फ्लाइट से जयपुर भेजते तो उन्हें कोरोना नियमों के कारण तीन दिन जयपुर में क्वारैंटाइन होना पड़ता. जबकि कार से जाने की सूरत में वे 22 फरवरी की शाम को ही टीम के साथ जुड़ जाते और इसी दिन से मैदान पर भी उतर सकते थे. यह बताता है कि वे खेल और अपनी टीम के लिए कितने समर्पित हैं.
शार्दुल को एक मार्च तक अहमदाबाद लौटना होगा

बता दें कि मुंबई टीम विजय हजारे ट्रॉफी खेलने के लिए जयपुर में हैं. मुंबई ने अपने पहले मैच में दिल्ली को सात विकेट से हराया था. जबकि मंगलवार को हुए दूसरे मुकाबले में महाराष्ट्र को 6 विकेट से शिकस्त दी थी. अब टीम को 25 फरवरी को पुडुचेरी और फिर 27 फरवरी को राजस्थान के खिलाफ मैच खेलना है. ऐसे में शार्दुल इन दोनों मुकाबलों में टीम की तरफ से खेल सकते हैं. हालांकि, उन्हें एक मार्च को जयपुर से फिर अहमदाबाद लौटना होगा. क्योंकि वे इंग्लैंड के खिलाफ 12 मार्च से शुरू होने वाली 5 टी20 की सीरीज में टीम इंडिया का हिस्सा हैं.

ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीत में शार्दुल का अहम रोल था



शार्दुल ने भारत के लिए पिछला टेस्ट ऑस्ट्रेलिय़ा दौरे पर खेला था. कई खिलाड़ियों के चोटिल होने के बाद उन्हें ब्रिस्बेन में हुए सीरीज के आखिरी टेस्ट में मौका मिला था और उन्होंने इसे खाली नहीं जाने दिया. इस तेज गेंदबाज ने अपने दूसरे ही टेस्ट में शानदार ऑलराउंड प्रदर्शन करते हुए टीम की ऐतिहासिक सीरीज जीत में अहम भूमिका निभाई थी. उन्होंने मैच की पहली पारी में 3 और दूसरी में चार विकेट लिए थे. वहीं, पहली पारी में 67 रन भी बनाए थे.

IND vs ENG: विराट कोहली ने किया कुछ ऐसा, ICC ने पूछा- ऐसा क्या है जो आप नहीं कर सकते?

लोकल ट्रेन में सफर करके टीम इंडिया तक पहुंचे शार्दुल

यह कोई पहला मौका नहीं है. जब शार्दुल ने ऐसे सफर किया है. इससे पहले 2018 में दक्षिण अफ्रीका के दौरे से भारत लौटने के बाद शार्दुल ने अपने घर पालघर जाने के लिए अंधेरी स्टेशन से मुंबई लोकल ट्रेन पकड़ी थी. उस ट्रेन में सफर कर रहे कुछ कॉलेज स्टूडेंट्स ने उन्हें पहचान लिया था और फिर उनसे सेल्फी की गुजारिश की थी. तब हर कोई इस बात से हैरान हुआ था कि टीम इंडिया का कोई क्रिकेटर लोकल ट्रेन में सफर कर रहा है. मुंबई लोकल से शार्दुल का पुराना रिश्ता रहा है. वो पालघर में रहते हैं और घरेलू क्रिकेट के शुरुआती दिनों में पालघर से लोकल ट्रेन पकड़कर ही मुंबई के बोरीवली में क्रिकेट खेलने जाते थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज