संजय बांगड़ का खुलासा-वर्ल्ड कप में चौथे नंबर पर कौन खेलेगा, इसका फैसला अकेले मेरा नहीं था, इन लोगों ने किया था तय

News18Hindi
Updated: September 11, 2019, 4:22 PM IST
संजय बांगड़ का खुलासा-वर्ल्ड कप में चौथे नंबर पर कौन खेलेगा, इसका फैसला अकेले मेरा नहीं था, इन लोगों ने किया था तय
संजय बांगड़ की जगह अब विक्रम राठौड़ को टीम इंडिया का बल्लेबाजी कोच बनाया गया है. (फाइल फोटो)

टीम इंडिया (Team India) के चौथे नंबर के बल्लेबाज की समस्या और वर्ल्ड कप सेमीफाइनल (World Cup Semifinal) में भारतीय बल्लेबाजों के खराब प्रदर्शन की वजह से संजय बांगड़ (Sanjay Bangar) को बैटिंग कोच (Batting Coach) के पद से हटा दिया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 11, 2019, 4:22 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व बैटिंग कोच (Batting Coach) संजय बांगड़ (Sanjay Bangar) खुद को हटाए जाने के बीसीसीआई (BCCI) के फैसले से बेहद निराश हैं. वर्ल्ड कप सेमीफाइनल (World Cup Semifinal) में भारत की हार के बाद से ही संजय बांगड़ बीसीसीआई के निशाने पर थे और वेस्टइंडीज दौरे के बाद अब उनकी जगह विक्रम राठौड़ को नया बल्लेबाजी कोच बना दिया गया है. जबकि फील्डिंग कोच आर. श्रीधर और गेंदबाजी कोच भरत अरुण का कार्यकाल 2021 तक के लिए बढ़ा दिया गया है. बांगड़ अब टीम इंडिया के कोचिंग स्टाफ का हिस्सा नहीं हैं, लेकिन वे अपने पांच साल के कार्यकाल को खुशनुमा अंदाज में याद करते हैं.

बस वर्ल्ड कप जीतना बाकी रह गया
संजय बांगड़ (Sanjay Bangar) ने कहा कि उनके कोचिंग स्टाफ में रहते हुए टीम इंडिया ने हर प्रारूप में कई बड़ी उपलब्धियां हासिल कीं, लेकिन अब वर्ल्ड कप ही ऐसा खिताब रहा जो टीम नहीं जीत सकी. टाइम्स ऑफ इंडिया से विशेष बातचीत में संजय बांगड़ ने कहा कि 2014 के बाद से भारतीय टीम लगातार तीन साल तक टेस्ट में नंबर एक बनी रही. हमने जो 52 टेस्ट खेले, उनमें से 30 में जीत हासिल की. इनमें 13 मुकाबले विदेश में जीते गए. हमने सभी देशों में खेले गए वनडे मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया. बस हम वर्ल्ड कप नहीं जीत सके.

चौथे नंबर को लेकर ये बोले बांगड़

इस मुद्दे पर संजय बांगड़ ने कहा कि चौथे नंबर के बल्लेबाज को लेकर किए गए फैसले में टीम मैनेजमेंट और चयनकर्ताओं भी शामिल थे. इस नंबर के लिए खिलाड़ियों का चयन मौजूदा फॉर्म और फिटनेस जैसे आकलन के बाद किया गया. बांगड़ का इशारा सीधे तौर पर मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद की अगुआई वाली चयन समिति और हेड कोच रवि शास्‍त्री की मौजूदगी वाला टीम प्रबंधन की ओर था. बांगड़ ने साथ ही कहा कि खिलाड़ी का चयन करते हुए यह भी देखा गया कि वह खिलाड़ी दाएं हाथ का है या बाएं हाथ का या फिर गेंदबाजी कर सकता है या नहीं. अपने काम करने के तरीके के बारे में बांगड़ ने कहा कि मेरा फोकस तकनीक पर अधिक रहता है. ऐसे में जब भी आप गलत शॉट खेलकर आउट हो रहे हों तो तकनीक पर फिर से विचार करने की जरूरत होती है.

cricket, indian cricket team, team india, sanjay bangar, bcci, coaching staff, क्रिकेट, भारतीय क्रिकेट टीम, टीम इंडिया, बीसीसीआई, कोचिंग स्टाफ, संजय बांगड़, बैटिंग कोच,
टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ ने कहा है कि वे अपने कार्यकाल को खुशनुमा यादों के साथ जेहन में रखेंगे. (फाइल फोटो)


रवि शास्‍त्री का शुक्रिया...
Loading...

संजय बांगड़ (Sanjay Bangar) ने आगे कहा कि मैं स्वाभाविक रूप से निराश हूं, लेकिन मैं बीसीसीआई, सभी कोचों डंकन फ्लेचर, अनिल कुंबले (Anil Kumble) और रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं जिन्होंने मुझे भारतीय क्रिकेट की सेवा करने का मौका दिया. अब जो ब्रेक मिला है, उससे मुझे तरोताजा होकर नई शुरुआत करने में मदद मिलेगी. बांगड़ को चौथे नंबर के बल्लेबाज की तलाश न कर पाने का खामियाजा भुगतना पड़ा, जिसकी वजह से टीम इंडिया ने इस क्रम पर कई बल्लेबाजों को आजमाया और उसे निराशा ही हाथ लगी.

 

भारत 'छोड़' इंग्लैंड में खेल रहे टीम इंडिया के ये खिलाड़ी, मैदान पर किया ऐसा प्रदर्शन

CPL: गेल के तूफानी शतक पर भारी पड़ी ये विस्फोटक पारी, इस बल्लेबाज ने 17 गेंद पर जड़ा...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2019, 1:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...