The Hundred : महिला टी20 की नंबर-1 बल्लेबाज शेफाली वर्मा इस टीम की ओर से खेलेंगी

शेफाली वर्मा ने भारत के लिए 22 टी20 में 617 रन बनाए हैं. (Shafali verma twitter)

शेफाली वर्मा ने भारत के लिए 22 टी20 में 617 रन बनाए हैं. (Shafali verma twitter)

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की ओपनर शेफाली वर्मा (Shafali Verma) इस साल इंग्लैंड में होने वाले 'द हंड्रेड' (The Hundred) यानी 100 गेंद के टूर्नामेंट में खेलेंगी. उन्हें बर्मिंघम फिनिक्स (Birmingham Phoenix) ने अपने साथ जोड़ा है. वे भारत की पांचवीं खिलाड़ी होंगी, जो इस टूर्नामेंट में शिरकत करेंगी.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारतीय महिला क्रिकेट टीम की तूफानी ओपनर शेफाली वर्मा (Shafali Verma) इस साल इंग्लैंड में होने वाले 'द हंड्रेड' (The Hundred) यानी 100 गेंद के टूर्नामेंट में खेलेंगी. उन्हें बर्मिंघम फिनिक्स (Birmingham Phoenix) ने अपने साथ जोड़ा है. शेफाली द हंड्रेड में हिस्सा लेने वाली पांचवीं भारतीय खिलाड़ी होंगी. उनसे पहले भारतीय टी20 टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur), स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana), जेमिमा रॉड्रिग्स (Jemimah Rodrigues) और दीप्ति शर्मा को बीसीसीआई ने इस टूर्नामेंट में खेलने के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र (No-Objection Certificate) जारी किया है.

इस घटनाक्रम से जुड़े सूत्र ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया कि ये शेफाली के लिए ही नहीं, बल्कि भारतीय क्रिकेट के लिए भी अच्छी खबर है कि उसके पांच खिलाड़ी द हंड्रेड के पहले सीजन में खेलेंगे. शेफाली यहां बिग बैश लीग में अपनी टीम सिडनी सिक्सर्स के कोच बेन सॉयर के साथ फिर से जुड़ेंगी. उम्मीद है कि बेन के अनुभव का शेफाली को फायदा मिलेगा और वो अपने कद और नाम के अनुरूप प्रदर्शन करने में सफल रहेंगी.

17 साल की शेफाली ने इसी साल मार्च में भारत दौरे पर आई दक्षिण अफ्रीकी टीम के खिलाफ शानदार बल्लेबाजी की थी. उन्होंने तीन मैच में 60, 47 और 23 रन की पारी खेली थी. शेफाली ने इस सीरीज में अपने अच्छे प्रदर्शन को लेकर खुलासा किया था कि उन्होंने अपनी बल्लेबाजी में सुधार लाने के लिए हरियाणा टीम के पुरुष खिलाड़ियों के साथ प्रैक्टिस की थी.

शेफाली की फिटनेस पहले से बेहतर हुई
शेफाली ने बताया कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में उनके पैर इसलिए अच्छे चल रहे थे. क्योंकि उन्होंने मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी से पहले हरियाणा की पुरुष टीम के गेंदबाजों के खिलाफ नेट्स में बल्लेबाजी का अभ्यास किया था. ज्यादातर तेज गेंदबाज 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद डाल रहे थे. इसी कारण से उन्हें द.अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में शॉट्स खेलने के लिए अतिरिक्त समय मिला और वो ज्यादा रन बनाने में सफल रहीं. इसके अलावा शेफाली ने बीते कुछ महीनों में अपनी फिटनेस पर भी काम किया है. इसका भी उन्हें काफी फायदा हुआ है.

इसे भी पढ़ें, बबल छोड़ने तक ठीक थे प्रसिद्ध कृष्‍णा, घर लौटते समय कोविड पॉजीटिव पाए गए!

शेफाली टी20 रैंकिंग में पहले स्थान पर काबिज



शेफाली ने साल 2019 में सितंबर में साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी20 डेब्यू किया था। तब से अब तक उन्होंने कुल 22 मुकाबले खेले हैं. इस दौरान उन्होंने 73 के सर्वश्रेष्ठ स्कोर के साथ 617 रन बनाए हैं. उनके नाम 29 छक्के और 73 चौके हैं. दो अर्धशतक भी उनके खाते में हैं. इसी साल मार्च में वो महिला बल्लेबाजों की टी20 रैंकिंग में पहला स्थान हासिल किया था. शेफाली 17 साल की उम्र में दूसरी बार रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर पहुंचने वाली इकलौती खिलाड़ी बनीं थीं.

पिछले साल टी20 महिला विश्व कप में शानदार बल्लेबाजी करने के बाद वो पहली बार टी20 रैंकिंग में टॉप पर पहुंचीं थी. वो अभी भी 776 रेटिंग पॉइंट्स के साथ टी20 रैंकिंग में पहले स्थान पर काबिज हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज