Home /News /sports /

Top 10 Sports News: रणतुंगा के बयान को SLC ने बताया गलत, कार्तिक 'पड़ोसी की बीवी' कमेंट पर ट्रोल

Top 10 Sports News: रणतुंगा के बयान को SLC ने बताया गलत, कार्तिक 'पड़ोसी की बीवी' कमेंट पर ट्रोल

TOP 10 Sports News: खेल जगत ,से जुड़ी दो जुलाई की बड़ी खबरें

TOP 10 Sports News: खेल जगत ,से जुड़ी दो जुलाई की बड़ी खबरें

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड (SLC) ने अपने देश के पूर्व कप्तान अर्जुन रणतुंगा (Arjuna Ranatunga) के उस बयान से पल्ला झाड़ लिया है जिसमें उन्होंने वनडे और टी20 सीरीज में खेलने वाली भारतीय टीम को दोयम दर्जे का कहा था. विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) अपने एक कमेंट के चलते सोशल मीडिया पर ट्रोल हो गए.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. श्रीलंका को 1996 में वर्ल्ड चैंपियन बनाने वाले कप्तान अर्जुन रणतुंगा (Arjuna Ranatunga) के बयान से उनके क्रिकेट बोर्ड ने पल्ला झाड़ा है. रणतुंगा ने इस महीने के आखिर में होने वाली वनडे और टी20 सीरीज में खेलने वाली भारतीय टीम (India vs Sri Lanka) को दोयम दर्जे का कहा था. विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) अपने एक कमेंट के चलते सोशल मीडिया पर ट्रोलर्स के निशाने पर आ गए. उन्होंने क्रिकेट कमेंट्री के दौरान बल्ले की तुलना पड़ोसी की पत्नी से कर दी थी.
    श्रीलंका को 1996 में वर्ल्ड चैंपियन बनाने वाले कप्तान अर्जुन रणतुंगा के बयान से उनके क्रिकेट बोर्ड ने पल्ला झाड़ लिया है. अर्जुन रणतुंगा ने इस महीने के आखिर में होने वाली वनडे और टी20 सीरीज में खेलने वाली भारतीय टीम को दोयम दर्जे का कहा था. साथ ही उन्होंने इसे श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड का अपमान भी करार दिया था. बता दें भारत ने कप्तान विराट कोहली और सीमित ओवरों के उप कप्तान रोहित शर्मा के आगामी टेस्ट सीरीज के लिये इंग्लैंड दौरे पर होने के कारण शिखर धवन की कप्तानी में कम अनुभवी टीम को श्रीलंका भेजा है. इसमें छह खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला है. जिसके बाद रणतुंगा ने टीम इंडिया और श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड पर सवाल खड़े किए. श्रीलंका क्रिकेट रणतुंगा की बात से सहमत नहीं है. श्रीलंकाई बोर्ड ने भारतीय टीम को अनुभवी करार दिया है.
    टीम इंडिया से बाहर चल रहे विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक अपने एक कमेंट के चलते सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल हुए. वह फिलहाल इंग्लैंड में हैं और कमेंट्री में हाथ आजमा रहे हैं. कार्तिक स्काय स्पोर्ट्स के साथ बतौर कमेंटेटर जुड़े हुए हैं और इंग्लैंड-श्रीलंका के बीच वनडे सीरीज में कमेंट्री कर रहे हैं. दूसरे वनडे के दौरान कार्तिक ने कमेंट्री में कहा, 'बल्लेबाज और बल्ला नापसंद करना, ये दोनों बातें एक-साथ ही चलती हैं. ज्यादातर बल्लेबाज अपना बल्ला पसंद नहीं करते हैं. वे दूसरे बल्लेबाज के बैट को पसंद करते हैं. बल्ला पड़ोसी की पत्नी की तरह होता है. जो हमेशा अच्छी ही लगती है.' इसी कमेंट को लेकर उनकी सोशल मीडिया पर कई यूजर्स ने आलोचना की.
    इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड भारतीय टीम के लिए पांच मैचों की टेस्ट सीरीज की तैयारी के मद्देनजर जुलाई के तीसरे सप्ताह में 'संयुक्त काउंटी' टीम के खिलाफ अभ्यास मैच आयोजित करने के लिए कोविड-19 प्रोटोकॉल पर काम कर रहा है. भारतीय टीम चार अगस्त से नाटिघंम में पहला टेस्ट खेलेगी. वह इससे पहले 'सलेक्ट काउंटी एकादश' के खिलाफ तीन दिवसीय अभ्यास मैच खेल सकती है, जिसे प्रथम श्रेणी का दर्जा दिया जा सकता है. 'सलेक्ट काउंटी एकादश' (Select County XI) को पहले 'संयुक्त काउंटी' के नाम से जाना जाता था. यह मैच 20 से 22 जुलाई के बीच कराया जा सकता है.
    श्रीलंका के तीन क्रिकेटरों कुसल मेंडिस, दानुष्का गुणातिलका और निरोशन डिकवेला को बायो-बबल तोड़ने की बड़ी सजा मिली है और उन्हें इंग्लैंड दौरे से तुरंत घर लौटने को कह दिया गया. क्रिकेटर से कमेंटेटर बने कुमार संगकारा ने भी इस पर नाखुशी जाहिर की है. उन्हें लगता है कि श्रीलंका लौटने पर खिलाड़ियों को अपराधियों की तरह दिखाने के बजाय उन्हें पर्याप्त समर्थन मिलना चाहिए. पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज संगकारा ने कहा कि खिलाड़ियों को इस मामले पर परामर्श दिया जाना चाहिए और उन्हें इससे उबरने में मदद करनी चाहिए. इसमें कोई संदेह नहीं है कि इन तीनों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी, लेकिन इन खिलाड़ियों को सकारात्मक जीवन शैली पर ध्यान केंद्रित कर बेहतर व्यक्ति बनाने के तरीके निकालने चाहिए.
    दिल्ली कैपिटल्स का प्रतिनिधित्व करने वाले ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज स्टीव स्मिथ ने खुलासा किया है कि वह आईपीएल के 14वें सीजन के पहले चरण में चोट से जूझ रहे थे. उन्होंने साथ ही बताया कि चोट के कारण उन्हें हर बार बल्लेबाजी पर उतरने से पहले दर्द निवारक दवाइयों (Pain Killer) का भी सहारा लेना पड़ा. स्मिथ को फिलहाल कोहनी की चोट से जूझना पड़ रहा है, जिसने उन्हें ऑस्ट्रेलिया के वेस्टइंडीज और बांग्लादेश के आगामी दौरों से हटने के लिए मजबूर किया.
    पूर्व विकेटकीपर सबा करीम ने विराट कोहली की कप्तानी को लेकर बड़ी बात कह दी है. सबा करीम ने एक न्यूज चैनल से बातचीत में कहा कि विराट कोहली पर लगातार दबाव बढ़ रहा है और उनकी कप्तानी रहेगी या जाएगी इसपर टी20 वर्ल्ड कप के बाद फैसला हो सकता है. टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली लगातार तीन आईसीसी टूर्नामेंट हार चुके हैं. सबा करीम ने इंडिया न्यूज स्पोर्ट्स से बातचीत में कहा, 'टी20 वर्ल्ड कप विराट कोहली की कप्तानी करियर के लिए बेहद अहम है. विराट कोहली पर दबाव बढ़ रहा है क्योंकि वो जानते हैं कि उन्होंने अबतक आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीती है. तो उनका मकसद टी20 वर्ल्ड कप जीतना ही होगा.' सबा करीम बोले, 'अगर टीम इंडिया ने ट्रॉफी जीत ली तो मुझे लगता है कि विराट कोहली को राहत मिलेगी. शायद वो हालात का जायजा लेकर फैसला करेंगे कि वो कबतक टीम के कप्तान बने रहना चाहते हैं. उनका नाम बड़े कप्तानों की लिस्ट में आता है लेकिन आईसीसी ट्रॉफी उनके खाते में नहीं है.'
    ‘द हंड्रेड’ टूर्नामेंट के आयोजकों ने शुक्रवार को घोषणा की कि दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज फाफ डु प्लेसी ऑस्ट्रेलिया के एरॉन फिंच की जगह नार्दर्न सुपरचार्जर्स के कप्तान होंगे. कोविड-19 के चलते आ रही चुनौतियों के कारण कई विदेशी खिलाड़ियों को टूर्नामेंट के शुरुआती चरण से हटना पड़ रहा है जिसमें प्रत्येक टीम 100 गेंद खेलेगी. इससे आयोजकों ने इनकी जगह लेने वाले खिलाड़ियों के नाम की घोषणा की. दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान डुप्लेसी इस तरह फिंच की जगह कप्तानी की जिम्मेदारी संभालेंगे क्योंकि ऑस्ट्रेलिया के सीमित ओवर की टीम के कप्तान राष्ट्रीय टीम के साथ होंगे.
    भारतीय युवा ओपनर शुभमन गिल का चोट के चलते इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के शुरुआती मैच में खेलना संदिग्ध है. पूर्व भारतीय ओपनर वसीम जाफर ने मयंक अग्रवाल को ओपनर के तौर पर मौका देने की बात कही है. उन्होंने केएल राहुल पर मयंक को तरजीह दी. खास बात है कि राहुल आईपीएल में पंजाब किंग्स फ्रेंचाइजी के लिए खेलते हैं और इसी टीम में जाफर बल्लेबाजी कोच की भूमिका निभाते हैं. भारत को इंग्लैंड के खिलाफ अगले महीने से पांच टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है. इससे पहले ही गिल के घुटने के निचले हिस्से में चोट लग गई है और 21 वर्षीय बल्लेबाज को उससे उबरने में थोड़ा वक्त लगेगा.
    टोक्यो में होने वाले ओलंपिक और पैरालंपिक खेलों में गुजरात से छह लड़कियां भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी. करीब 60 साल के अंतराल के बाद ऐसा पहली बार होगा कि गुजरात से ओलंपिक और पैरालिंपिक में देश का प्रतिनिधित्व होगा. गुजरात के लिए एक ऐतिहासिक उपलब्धि है कि पहली बार राज्य की छह एथलीटों (सभी महिलाएं) ने ओलंपिक और पैरालंपिक खेलों के लिए क्वालिफाई किया है. करीब 60 साल के अंतराल के बाद ऐसा पहली बार होगा कि गुजरात से इन खेलों में देश का प्रतिनिधित्व होगा. टोक्यो में होने वाले खेलों के लिए गुजरात से पारुल परमार (पैरा बैडमिंटन), भावना पटेल (पैरा टेबल टेनिस), सोनल पटेल (पैरा टेबल टेनिस), टेनिस में अंकिता रैना, शूटिंग में इलावेनिल और तैराकी में माना पटेल ने क्वालिफाई किया है.
    एशियाई पैरा खेलों के स्वर्ण पदक विजेता अमित कुमार सरोहा और संदीप चौधरी ने कोरोना संक्रमण से उबरते हुए टोक्यो पैरालम्पिक खेलों के लिए क्वॉलिफाई कर लिया है. दो बार के पैरालम्पियन सरोहा चक्का फेंक और क्लब थ्रो में एफ51 वर्ग में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे. एफ51 पैर की लंबाई में अंतर, मांसपेशियों की ताकत में असंतुलन और मूवमेंट में असंतुलन से संबंधित है. चौधरी एफ 44 में भालाफेंक में भाग लेंगे.

    Tags: Cricket news, Dinesh karthik, Faf du Plessis, IND vs SL, Tokyo Olympics

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर