Home /News /sports /

Exclusive: दिनेश बाना ने फाइनल से 10 घंटे पहले कहा था देखना मेरी बैटिंग, पिता ने कहा- सच कर दिया सपना

Exclusive: दिनेश बाना ने फाइनल से 10 घंटे पहले कहा था देखना मेरी बैटिंग, पिता ने कहा- सच कर दिया सपना

U19 World Cup 2022 Final: दिनेश बाना (Dinesh Bana) ने फाइनल में छक्के से दिलाई जीत. वे अपने माता-पिता के साथ.(News18)

U19 World Cup 2022 Final: दिनेश बाना (Dinesh Bana) ने फाइनल में छक्के से दिलाई जीत. वे अपने माता-पिता के साथ.(News18)

U19 World Cup 2022 Final: दिनेश बाना (Dinesh Bana) ने फाइनल में छक्का लगाकर भारत को जीत दिलाई. भारत ने इंग्लैंड को हराकर 5वीं बार खिताब जीता. सेमीफाइनल में भी उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 500 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए थे.

नई दिल्ली. दिनेश बाना (Dinesh Bana) को एक हफ्ते पहले तक शायद बहुत कम लोग जानते रहे होंगे. अंडर-19 वर्ल्ड कप (Under-19 World Cup) के सेमीफाइनल में इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 4 गेंद पर नाबाद 20 रन बनाए थे. स्ट्राइक रेट 500 का था. फिर फाइनल में लगातार 2 गेंद पर 2 छक्के लगाकर टीम को चैंपियन बना दिया. इसके बाद से उनकी तुलना एमएस धोनी (MS Dhoni) से होने लगी है. लेकिन पिता महावीर महावीर बाना ने कहा कि अभी मेरा बेटा धोनी तो नहीं बना है, लेकिन उनकी स्टाइल में छक्का मारा, इसलिए लोग ऐसा कह रहे होंगे. मालूम हाे कि भारत ने फाइनल में इंग्लैंड को (India vs England) 4 विकेट से हराकर 5वीं बार वर्ल्ड कप जीता. इंग्लैंड ने पहले खेलते हुए 189 रन बनाए थे. जवाब में भारत ने 6 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया.

दिनेश बाना के पिता महावीर बाना भी एथलेटिक्स के खिलाड़ी रहे हैं. News18 से बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘फाइनल से पहले शनिवार सुबह उससे बात हुई थी. उसने कहा था पापा आप बेफिक्र रहो. आप मेरी बैटिंग देखना. मैं चौके-छक्के की छड़ी लगा लूंगा.’ यह बात फाइनल से 10 घंटे पहले की थी. इसके बाद 17 साल के बाना को जब बैटिंग करने का मौका मिला, तो उन्होंने तेज गेंदबाज जेम्स सेल्स की लगातार 2 गेंद पर 2 छक्के लगाकर टीम को जीत दिला दी. वे 5 गेंद पर 13 रन बनाकर नाबाद रहे. इसके अलावा उन्होंने 4 कैच भी पकड़े.

टीम के चैंपियन बनने का था विश्वास

हरियाणा पुलिस में कार्यरत महावीर बाना ने बताया कि हमने घर पर ही पूरा मैच देखा. उन्होंने कहा कि मुझे बेटे से ऐसे ही बल्लेबाजी की उम्मीद थी और भारत के चैंपियन बनने का विश्वास भी था. महावीर ने बताया कि मैंने उसे कभी खेलने के लिए नहीं रोका. वह मेहनत बहुत करता था. मैं भी स्पोर्ट्स से जुड़ा रहा हूं, इस कारण उसे सपोर्ट करने के बारे में सोचा. उन्होंने बताया कि क्रिकेट को लेकर उसकी दिलचस्पी थी. इस कारण उसे हर तरह की मदद देता गया और आज वह इस बड़े मुकाम पर पहुंच गया. यह मेरे लिए सपने पूरे होने की तरह है.

10वीं में से 85 फीसदी अंक

दिनेश बाना अभी 12वीं में पढ़ाई कर रहे हैं. लेकिन वे खेल के साथ-साथ पढ़ाई पर भी उतना ही ध्यान देते हैं. महावीर बाना ने बताया कि वे पढ़ने में भी काफी अच्छा है. 10वीं में उसके 85 फीसदी अंक हैं. हमारे घर से खेल के इतने बड़े लेवल पर पहुंचने वाला वह पहला ही है. उन्होंने कहा कि हम सभी जश्न की तैयारी कर रहे हैं. उसका जोरदार स्वागत किया जाएगा. आस-पास के भी सभी लोग बहुत खुश हैं.

यह भी पढ़ें: U19 WC Final: वर्ल्ड कप जीतने के बाद भारतीय खिलाड़ी मालामाल, BCCI देगा 40-40 लाख रुपये

उन्होंने कहा कि मैं सभी पैरेंट्स ने कहना चाहता हूं कि सभी को अपने बच्चों को खेल को लेकर सपोर्ट करना चाहिए. इससे वह ना केवल फिट रहेगें, बल्कि बुरी आदतों से भी दूर रहेंगे. मालूम हाे कि 4 महीने पहले चैलेंजर ट्रॉफी के एक मुकाबले में दिनेश बाना ने 14 छक्के लगाकर सेलेक्टर्स का ध्यान खींचा था.

Tags: Dinesh Bana, England, India under 19, Raj Bawa, Team india, Under 19 World Cup, Yash Dhull

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर