उमर अकमल पर 3 साल का लगा बैन कम हुआ, फिक्सिंग से जुड़ी जानकारी छुपाने के थे दोषी

उमर अकमल पर 3 साल का लगा बैन कम हुआ, फिक्सिंग से जुड़ी जानकारी छुपाने के थे दोषी
उमर अकमल के बैन को 18 महीने का कर दिया गया है (फाइल फोटो)

मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज उमर अकमल ( Umar Akmal) पर अब फरवरी 2020 से अगस्‍त 2021 तक प्रतिबंध रहेगा.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. फिक्सिंग से जुड़ी जानकारी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से छुपाने के दोषी पाए जाने के बाद प्रतिबंध झेल रहे मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज उमर अकमल को राहत मिली है. बुधवार को उन पर लगे 3 साल के बैन को घटाकर 18 महीने का कर दिया गया है. अकमल पर अब प्रतिबंध फरवरी 2020 से अगस्‍त 2021 तक रहेगा. उमर अकमल की अपील पर दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज फकीर मोहम्‍मद खोखर ने अपना आदेश सुरक्षित रख लिया था.

उमर अकमल को ये सजा पीसीबी की अनुशासनात्मक कमेटी के चेयरमैन रिटायर्ड जस्टिस फजर ए मिरान चौहान ने सुनाई थी. बता दें पाकिस्तानी बल्लेबाज उमर अकमल (Umar Akmal) को फरवरी महीने में पीसीबी (PCB) ने सस्पेंड कर दिया था. उनपर आरोप था कि उन्होंने फिक्सिंग से जुड़ी जानकारी बोर्ड से छिपाई. उमर अकमल को इसी मामले में दोषी पाया गया था.

PSL भी नहीं खेल पाए थे उमर अकमल
बता दें उमर अकमल (Umar Akmal) को पाकिस्तान सुपर लीग शुरू होने से ठीक पहले निलंबित कर दिया गया था.उन्हें फिक्सिंग से जुड़ी जानकारी छुपाने के मामले की जांच पूरी होने तक क्रिकेट खेलने की अनुमति नहीं मिली थी. उमर अकमल (Umar Akmal) पर अनुच्छेद 2.4.4 का उल्लंघन करने का दोष सिद्ध हुआ था, जो भ्रष्ट दृष्टिकोणों का खुलासा करने में विफल होने से संबंधित है.
एक रिपोर्ट आई थी जिसमें दावा किया गया था कि उमर अकमल (Umar Akmal) के खिलाफ एंटी करप्शन यूनिट ने कोई सबूत पेश नहीं किया. साथ ही उनकी कोई कॉल रिकॉर्डिंग्स भी जांच कमेटी को नहीं दी गई, लेकिन उनपर तीन साल का बैन लगा दिया गया. उमर अकमल (Umar Akmal) ने दावा किया था कि वो इस मामले में निर्दोष हैं. उन्होंने कहा था कि वो पार्टियों में कई लोगों से बातचीत करते हैं, कई लोग उनके साथ तस्वीरें लेते हैं लेकिन वो सभी को निजी तौर पर नहीं जानते.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading