लाइव टीवी

पुणे टेस्‍ट के बाद उमेश यादव की युवाओं को चेतावनी, कही ऐसी बात

भाषा
Updated: October 13, 2019, 7:43 PM IST
पुणे टेस्‍ट के बाद उमेश यादव की युवाओं को चेतावनी, कही ऐसी बात
कप्‍तान विराट कोहली के साथ उमेश यादव. (AP Photo)

उमेश यादव (Umesh Yadav)ने कहा कि वर्तमान टीम में शामिल खिलाड़ियों ने पिछले वर्षों में बहुत अनुभव हासिल किया है और भावी खिलाड़ियों के लिए मानदंड स्थापित किए हैं.

  • Share this:
पुणे: तेज गेंदबाज उमेश यादव (Umesh Yadav) का मानना है कि भारत (India) में प्रतिभा की कमी नहीं है लेकिन युवाओं को राष्ट्रीय टीम में जगह बनाने के लिए उन्हें वर्तमान टीम के सदस्यों से बेहतर प्रदर्शन करना होगा. विदर्भ के इस तेज गेंदबाज ने कहा कि वर्तमान टीम में शामिल खिलाड़ियों ने पिछले वर्षों में बहुत अनुभव हासिल किया है और भावी खिलाड़ियों के लिए मानदंड स्थापित किए हैं. उमेश ने दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में छह विकेट लेकर भारत की बड़ी जीत में अहम भूमिका निभाई. जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की वापसी के बाद वह चौथी पसंद के तेज गेंदबाज हो जाएंगे.

युवाओं को करना होगा बेहतर प्रदर्शन
उमेश ने मैच के बाद कहा, ‘इस टीम में सात से आठ खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्होंने 40 से अधिक टेस्ट मैच खेले हैं. इसलिए जब देखते हैं कि सीनियर ने कितने कड़े मानदंड स्थापित किये हैं तो उनके लिये राष्ट्रीय टीम में जगह बनाना आसान नहीं होता है. वे जानते हैं कि टीम में जगह बनाने के लिए उन्हें हमसे बेहतर प्रदर्शन करना होगा.' बता दें कि पुणे टेस्‍ट में भारत में खेले गए टेस्‍ट मैचों में उमेश का प्रदर्शन बेहतरीन है. घर में उनका औसत भारतीय तेज गेंदबाजों में सबसे अच्‍छा है. ऐसे में विशाखापत्‍तनम टेस्‍ट में जब उन्‍हें नहीं चुना गया तो हैरानी हुई थी. पुणे टेस्‍ट से पहले भारत में पिछले साल वेस्‍टइंडीज के खिलाफ उमेश खेले थे और 10 विकेट निकाले थे.

umesh yadav, indian cricket team, india south africa test, pune test, indian fast bowlers, उमेश यादव, इंडियन ि‍क्रिकेट टीम, टीम इंडिया, भारत तेज गेंदबाज, इंडिया साउथ अफ्रीका टेस्‍ट, पुणे टेस्‍ट
उमेश यादव ने पुणे टेस्‍ट की दोनों पारियों में 3-3 विकेट लिए. (AP Photo)


गेंदबाजों में हैल्‍दी कंपीटिशन
उन्होंने कहा, ‘यह मेरे हाथ में नहीं है. मैं यह नहीं कह सकता कि मैं सभी टेस्ट मैचों में खेलूंगा. सभी गेंदबाज अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. स्वस्थ प्रतिस्पर्धा है और हर किसी को किसी न किसी मुकाम पर मौका मिलेगा. मैं इसके लिए तैयार हूं और मैंने खुद को मानसिक तौर पर इसी तरह से तैयार किया है.’

चयनकर्ताओं से मांगा मौका
Loading...

उमेश ने कहा, ‘जब मैं वेस्टइंडीज में नहीं खेला तो चयनकर्ताओं ने दक्षिण अफ्रीका ए श्रृंखला के लिए मुझे भारत ए टीम में शामिल किया. लेकिन जब वनडे और टी20 को खेले हुए लंबा समय बीत गया तो मैंने चयनकर्ताओं से कहा कि जो भी मैच हो उसमें मुझे मौका दें क्योंकि मेरे लिए मैच अभ्यास महत्वपूर्ण है. आपको अचानक ही कोई मैच खेलना पड़ता है, यह तेज गेंदबाज के लिए मुश्किल हो सकता है.’

फॉलो ऑन देने के पक्ष में थे गेंदबाज
उमेश ने कहा कि सभी गेंदबाज दक्षिण अफ्रीका को फॉलो ऑन देने के पक्ष में थे. उन्होंने कहा, ‘हमने छोटे छोटे स्पेल में गेंदबाजी की और हमें थकान नहीं लगी. सभी गेंदबाजों ने कहा कि हम गेंदबाजी करके जल्द से जल्द से मैच का परिणाम हासिल करना चाहते हैं. हम आराम नहीं चाहते थे. हम नहीं चाहते थे कि बल्लेबाज कुछ समय तक मैच को आगे खींचें.’

5 गेंदबाज उतारने के फैसले को बताया सही
उमेश ने खुशी जताई कि सपाट पिच पर टीम प्रबंधन ने पांच गेंदबाजों को उतारने का फैसला किया. उन्होंने कहा, ‘विकेट में उछाल थी लेकिन तेजी नहीं. हमें तेजी के लिए गेंद को जोर से पिच कराना पड़ रहा था. तेज गेंदबाज अपनी पूरी ताकत से तीन ओवर करेंगे और फिर स्पिनर आएंगे, यह अच्छा विचार था. हम जैसा चाहते थे हमने वैसा ही किया.’

दक्षिण अफ्रीका से सीरीज फतह के बाद कोहली गरजे- कोई ढील नहीं, सफाया कर देंगे

ऋद्धिमान साहा की विकेटकीपिंग से खुश हुए उमेश यादव, बोले-मैं दूंगा पार्टी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 6:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...