केएल राहुल ने LBW होने के बाद मांगा DRS, अंपायर ने कहा-नहीं मिलेगा, तुम आउट हो!

केएल राहुल ने LBW होने के बाद मांगा DRS, अंपायर ने कहा-नहीं मिलेगा, तुम आउट हो!
केएल राहुल क्रिकेट के तीनों फाॅर्मेट में शतक लगा चुके हैं. (फाइल फोटो)

रणजी ट्रॉफी के सेमीफाइनल मैच में केएल राहुल (KL Rahul DRS) को आउट दे दिया गया और उसके बाद उन्हें अंपायर के फैसले के खिलाफ अपील भी नहीं करने दी गई.

  • Share this:
कोलकाता. DRS यानी डिसिजन रिव्यू सिस्टम एक बार फिर विवादों में है. इस बार मामला रणजी ट्रॉफी का है, जहां पहली बार डीआरएस का इस्तेमाल किया जा रहा है. कोलकाता के ईडन गार्डन्स स्टेडियम में कर्नाटक और बंगाल का मैच उस वक्त सुर्खियों में आ गया जब अंपायर ने केएल राहुल (KL Rahul) को डीआरएस लेने से रोक दिया गया. अंपायर ने केएल राहुल को सीधे तौर पर कहा कि तुम आउट हो, तुम्हें डीआरएस नहीं मिल सकता. केएल राहुल भी ये सुनकर हैरान रह गए और उन्हें पैवेलियन लौटना पड़ा. आइए आपको बताते हैं कि आखिर मामला है क्या?

राहुल नहीं ले पाए डीआरएस
कर्नाटक की ओर से रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल खेल रहे केएल राहुल (KL Rahul) पहली पारी में महज 26 रन बनाकर आउट हुए और दूसरी पारी में तो वो खाता तक नहीं खोल सके. मैच की दूसरी ही गेंद पर इशान पोरेल ने उन्हें LBW आउट कर दिया. इशान पोरेल की अंदर आती गेंद पर अंपायर ने उन्हें पगबाधा करार दिया. इसके बाद केएल राहुल ने अंपायर से रिव्यू मांगा लेकिन उसने डीआरएस देने से इनकार कर दिया. केएल राहुल ने जब अंपायर से इसकी वजह पूछी तो अंपायर ने डीआरएस नियम का हवाला दिया. दरअसल डीआरएस नियम के मुताबिक अगर बल्लेबाज गेंद को खेलने की कोशिश नहीं करता और उसे LBW आउट दिया जाता है तो वो रिव्यू ले ही नहीं सकता. केएल राहुल ने भी इशान पोरेल की गेंद को खेलने की कोशिश नहीं की थी. हालांकि राहुल को डीआरएस का ये नियम शायद नहीं पता था और उन्हें पैवेलियन लौटना पड़ा.





कर्नाटक पर हार का खतरा
बता दें बंगाल के खिलाफ कर्नाटक पर हार का खतरा मंडरा रहा है. कर्नाटक को 352 रनों का लक्ष्य मिला है और उसने तीसरे दिन के बाद दूसरी पारी में 98 रन पर तीन विकेट गंवा दिये हैं. केएल (KL Rahul) राहुल शून्य, आर समर्थ 27 और कप्तान करुण नायर 6 रन बनाकर आउट हो गए हैं. क्रीज पर देवदत पड्डीकल नाबाद 50 और मनीष पांडे 11 रन पर नाबाद हैं.  इससे पहले प.बंगाल की टीम दूसरी पारी में 161 रनों पर सिमट गई. सुदीप चटर्जी ने 45 और मजूमदार ने 41 रनों की पारी खेली. कर्नाटक के लिए अभिमन्यु मिथुन ने 4 और कृष्णप्पा गौतम ने 3 विकेट झटके.

सब्जियां बेचकर पेट पालते थे पिता, बेटी ने शहर छोड़ा, अब वर्ल्ड कप में मचाई धूम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading