लाइव टीवी

'बड़ा' खिलाड़ी न होने के कारण IPL नीलामी से कर दिया था बाहर, अब भारत को वर्ल्ड कप दिलाएगा यह ऑलराउंडर!

News18Hindi
Updated: February 7, 2020, 8:47 PM IST
'बड़ा' खिलाड़ी न होने के कारण IPL नीलामी से कर दिया था बाहर, अब भारत को वर्ल्ड कप दिलाएगा यह ऑलराउंडर!
फर्स्ट क्लास क्रिकेट का अनुभव न होने के कारण अथर्व अंकोलेकर को आईपीएल नीलामी के लिए शॉर्ट लिस्ट नहीं किया गया था (फाइल फोटो)

पिछले साल दिसंबर में हुई आईपीएल नीलामी के लिए 971 खिलाड़ियों ने अपना पंजीकरण करवाया था, जिसमें एक नाम अथर्व अंकोलेकर (Atharva Ankolekar) का भी था. मगर उन्हें तकनीकी कारण से नीलामी के लिए शॉर्ट लिस्ट नहीं किया गया था

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 7, 2020, 8:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय टीम पांचवीं बार अंडर 19 वर्ल्ड कप (Under 19 World Cup) जीतने से मात्र एक कदम दूर है. रविवार को भारतीय टीम बांग्लादेश (Bangladesh) के खिलाफ खिताबी मुकाबला खेलने के लिए मैदान पर उतरेगी और टीम की कोशिश एक बार फिर वर्ल्ड चैंपियन बनने की होगी. भारत की जूनियर टीम के लिए यह मैच करियर का टर्निंग पॉइंट होने वाला है, क्योंकि यह जीत मंजिल तक पहुंचने के लिए उनकी राह तय करेगी. टीम के अहम सदस्य अथर्व अंकोलेकर (Atharva Ankolekar) के लिए यह एक यादगार मैच होने वाला है, क्योंकि उन्हें मामूल है कि इस मैच के बाद वह 'बड़े' ‌खिलाड़ी बन जाएंगे. मतलब इसके बाद उन्हें एक नई पहचान मिल जाएगी, फिर कभी उन्हें आईपीएल (IPL) नीलामी से बाहर नहीं किया जाएगा.

अथर्व अंकोलेकर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्वार्टरफाइनल में बल्ले और गेंद दोनों से कमाल किया था (फाइल फोटो)


दरअसल  पिछले साल दिसंबर में हुई आईपीएल नीलामी के लिए 971 खिलाड़ियों ने अपना पंजीकरण करवाया था, जिसमें एक नाम अथर्व का भी था. उन्हें उम्मीद थी कि नीलामी के बाद वह अपनी  मां को नौकरी छोड़ने के लिए कह सकते हैं, जो बस में कंडक्टर हैं. मगर इस युवा ऑलराउंडर का सपना उस समय टूट गया, जब तकनीकी कारण से उन्हें नीलामी के लिए शॉर्ट लिस्ट नहीं किया गया और वो तकनीकी कारण था, उनका लिस्ट ए क्रिकेट न खेल पाना.

अगली चुनौती के लिए खुद को किया तैयार

19 साल के अथर्व के पास कोई विकल्प नहीं था, मगर उनके पास जिंदगी को बदलने के लिए एक मौका था. जो अंडर 19 वर्ल्ड कप है. हालांकि अथर्व ने चोट के चलते इस टूर्नामेंट में अपने अभियान  का आगाज देर से किया  और क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया (Australia) के खिलाफ अर्धशतक जड़ने के साथ ही किफायती गेंदबाजी करके अपना लोहा मनवा लिया. अब उनकी नजर रविवार को होने वाले फाइनल मुकाबले पर है.

Atharva Ankolekar, under 19 world cup, india vs bangladesh, cricket, bcci, sports news, अथर्व अंकोलेकर, भारत बनाम बांग्लादेश, अंडर 19 वर्ल्ड कप, क्रिकेट, बीसीसीआई, स्पोर्ट्स न्यूज
अथर्व की मां बस में कंडक्टर हैं (फाइल फोटो)


खिताब जीतने से बढ़ेगा विश्वासहिंदुस्तान टाइम्स से बात करते हुए अथर्व की मां वैदेही ने कहा कि यह मैच उनके बेटे की जिंदगी का टर्निंग पॉइंट हो सकता है. अगर भारत मैच जीतता है तो उनके बेटे को भविष्य में कई मौके मिलेंगे. साथ ही बड़ा फाइनल जीतने से आत्मविश्वास भी बढ़ेगा. उन्होंने बताया कि आईपीएल (IPL) नीलामी के लिए न चुने जाने से अथर्व थोड़ा निराश था. मगर  आईपीएल हर साल आता है और अंडर 19 वर्ल्ड कप खेलने का मौका आपको जिंदगी में सिर्फ एक ही बार मिलता है. अथर्व ने काफी कम उम्र में ही अपने पिता को खो दिया था. उनकी  मां का कहना है कि अथर्व के पास फाइनल के रूप में अपने पिता का सपना पूरा करने का मौका है.

India under 19 team, under 19 world cup team india, india under 19 world cup team, india under 19 players, india u19 cricketers, priyam garg, yashasvi jaiswal, इंडिया अंडर 19 टीम, अंडर 19 वर्ल्‍ड कप, अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2020, इंडिया अंडर 19 वर्ल्‍ड कप टीम, इंडिया अंडर 19 प्‍लेयर
अथर्व अंकोलेकर ने काफी कम उम्र में ही अपने पिता को खो दिया था (फाइल फोटो)


मां की आराम देना चाहते हैं अथर्व
युवा ऑलराउंडर अथर्व (Atharva Ankolekar) की मां ने कहा कि उनका बेटा चाहता है कि वह अपनी नौकरी छोड़ दे, क्योंकि उसमें काफी मेहनत है, मगर वह जल्दबाजी में कोई कदम नहीं उठाना चाहती. अथर्व की कमाई टूर्नामेंट पर आधारित है, जो तय नहीं है और वह पूरी तरह से अथर्व पर निर्भर नहीं होना चाहती.

दूसरे वनडे से पहले बुमराह के एक्शन पर बोले ग‌प्टिल, धीरे-धीरे उनकी आदत...

Preview : न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज व प्रतिष्ठा दांव पर, हार हाल में जीत जरूरी

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 7, 2020, 8:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर