Home /News /sports /

U19 WC: पाकिस्‍तान को मिला एक और दमदार कीपर-बैटर! पहले मैच में तूफानी 135 रन ठोके, 3 कैच भी लपके

U19 WC: पाकिस्‍तान को मिला एक और दमदार कीपर-बैटर! पहले मैच में तूफानी 135 रन ठोके, 3 कैच भी लपके

पाकिस्तान के विकेटकीपर बल्‍लेबाज हसीबुल्लाह खान ने अंडर 19 वर्ल्‍ड कप के पहले मैच में 135 रन की शानदार पारी खेली. (pc: video screenshot )

पाकिस्तान के विकेटकीपर बल्‍लेबाज हसीबुल्लाह खान ने अंडर 19 वर्ल्‍ड कप के पहले मैच में 135 रन की शानदार पारी खेली. (pc: video screenshot )

पाकिस्तान के विकेटकीपर बल्‍लेबाज हसीबुल्लाह खान (Haseebullah Khan) ने अंडर 19 वर्ल्‍ड कप के पहले मैच में 135 रन की शानदार पारी खेली. 64 रन तो उन्‍होंने महज 14 गेंदों में ही बना दिए थे. कभी अधिक उम्र के कारण ट्रायल से बाहर किए जाने वाले हसीबुल्लाह का सबसे बड़ा सपना अपने पिता के अधूरे सपने को पूरा करना है. उनके पिता भी क्रिकेटर रह चुके हैं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. अंडर 19 वर्ल्‍ड कप 2022 (Under 19 World Cup 2022) में पाकिस्‍तान (Pakistan) ने जिम्‍बाब्‍वे को 115 रन से हराकर अपने अभियान का विजयी आगाज किया. इस मैच में पाकिस्तान के विकेटकीपर बल्‍लेबाज हसीबुल्लाह खान (Haseebullah Khan) प्‍लेयर ऑफ द मैच रहे. इस मुकाबले के बाद तो उन्‍हें पाकिस्‍तान का एक और दमदार विकेटकीपर बल्‍लेबाज बताया जा रहा है. पाकिस्‍तान की सीनियर टीम के पास अभी मोहम्‍मद रिजवान हैं और कहा जाने लगा है कि हसीबुल्लाह खान उन्‍हें टक्‍कर देंगे. हसीबुल्लाह ने 155 गेंदों पर 135 रन की शानदार पारी खेली. 64 रन तो उन्‍होंने महज 14 गेंदों में ही बना दिए. इसके अलावा उन्‍होंने 3 बड़े कैच भी लपके. हसीबुल्लाह के दम पर ही पाकिस्‍तान ने जिम्‍बाब्‍वे को 316 रन बड़ा लक्ष्‍य दिया.

कभी अधिक उम्र के कारण ट्रायल से बाहर किए जाने वाले हसीबुल्लाह का सबसे बड़ा सपना अपने पिता के अधूरे सपने को पूरा करना है. 20 मार्च 2003 को हसीबुल्लाह का जन्‍म ऐसे परिवार में हुआ, जहां क्रिकेट ही सब कुछ था. उनके पिता अजीज़ुल्लाह खान (17 फर्स्‍ट क्‍लास मैच ) और अंकल हमीदुल्लाह खान (21फर्स्‍ट क्‍लास मैच ) क्रिकेटर थे. उन्‍हें उन दोनों से ही प्रेरणा मिली. हसीबुल्लाह के छोटे भाई अब्दुल सबूर बलूचिस्तान अंडर 16 टीम की तरफ से शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं.

कभी ओवर एज बताकर कर दिया गया था बाहर
हसीबुल्लाह के कोच और मेंटर उनके पिता ही थे. उन्‍होंने अपने पिता से ही खेल का बेसिक सीखा और 2015 में उन्‍हें क्‍वेटा रीजन के अंडर 13 ट्रायल में शामिल होने के लिए प्रेरित किया. हालंकि उन्‍हें ट्रायल में अधिक उम्र का बताकर बाहर कर दिया गया था, जिससे हसीबुल्लाह काफी निराश हो गए थे.

भारतीय खिलाड़ी का दावा, मैच फिक्‍स करने के लिए की गई थी लाखों रुपये की पेशकश
pakpassion के अनुसार इसके बाद उन्‍होंने पिता के साथ ही नेट्स में अभ्‍यास करना जारी रखा. इसके बाद उचित ट्रेनिंग के बिना ही उन्‍होंने बतौर विकेटकीपर बल्‍लेबाज क्‍वेटा रीजन के अंडर 16 का ट्रायल दिया. उस समय तो वो सही से विकेटकीपिंग के लिए तैयार भी नहीं होना जानते थे, मगर इसके बाद उनका सफर शुरू हुआ.

‘किंग कोहली आप हमेशा मेरे कप्तान रहेंगे’, विराट को सुपरहीरो मानने वाले साथी गेंदबाज के मन की बात…

पिता के अधूरे सपने का पूरा करना सपना
हसीबुल्लाह का सपना पिता के अधूरे सपने को पूरा करना है. कभी हसीबुल्लाह के पिता पाकिस्‍तान का प्रतिनधित्‍व करने का सपना देखते थे, मगर उनका यह सपना अधूरा ही रह गया. इसके बाद उन्‍होंने इस सपने को अपने बेटे की आंखों में जगाया और इसे पूरा करने के लिए हर संभव कोशिश में जुट गए. हसीबुल्लाह के रोल मॉडल उनके पिता ही हैं.

Tags: Cricket news, Pakistan, Under 19 World Cup

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर