वेदा कृष्णमूर्ति ने मां और बहन के निधन पर लिखा भावुक पोस्ट, 'लगता है जैसे मेरी दुनिया ही उजड़ गई'

दो सप्ताह के भीतर ही वेदा की मां और बहन का निधन कोरोना वायरस से हो गया. उन्होंने एक इमोशनल पोस्ट शेयर किया है.

महिला क्रिकेटर वेदा कृष्णमूर्ति (Veda Krishnamurthy) ने अपनी मां और बहन को कोरोना वायरस के चलते दो सप्ताह में ही खो दिया. वेदा की मां का 23 अप्रैल को निधन हो गया और उनकी बहन वत्सला शिवकुमार ने दो सप्ताह बाद अंतिम सांस ली. वेदा ने अपने फैंस से आग्रह किया कि वे इस वायरस को गंभीरता से लें और अपना ख्याल रखें.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय महिला क्रिकेटर वेदा कृष्णमूर्ति (Veda Krishnamurthy) की जिंदगी में हाल में भूचाल आ गया जब उन्होंने अपने परिवार के दो सदस्यों को कोविड-19 के कारण खो दिया. वेदा की मां और बहन, दोनों ही कोरोना वायरस के खिलाफ जिंदगी की जंग हार गए. दोनों का निधन कुछ दिनों के अंतराल पर ही हो गया. वेदा को इससे निजी तौर पर बड़ा झटका लगा. उन्होंने सोमवार को सोशल मीडिया पर एक भावुक पोस्ट शेयर कर अपनी 'अम्मा और अक्का' को श्रद्धांजलि दी है. उन्होंने लिखा कि दोनों के निधन से ऐसा लगता है जैसे उनकी दुनिया ही उजड़ गई.

    वेदा ने लिखा, 'मेरी खूबसूरत अम्मा और अक्का के लिए, पिछले कुछ दिन घर में हम सभी के लिए बहुत दिल दहला देने वाले रहे. आप दोनों हमारे घर की नींव थीं, कभी सोचा भी नहीं था कि ऐसा दिन देखना होगा जब आप दोनों मेरे साथ नहीं हैं, दिल टूटा जाता है. अम्मा, आपने मुझे बहादुर बनाया है, मुझे सिखाया है कि मैं हर स्थिति में जितना संभव हो सके, उतना व्यावहारिक रहूं. आप दुनिया की सबसे सुंदर, खुशमिजाज व्यक्ति थीं, जिसे मैं जानता थी.'

    इसे भी देखें, चेतेश्वर पुजारा ने भी लगवाई कोरोना वैक्सीन, विराट, शिखर की लिस्ट में शामिल

    उन्होंने आगे लिखा, 'अक्का, मुझे पता है कि मैं आपकी सबसे पसंदीदा थीं, आप एक फाइटर रहीं जिसने मुझे आखिरी मिनट तक कभी भी हारने के लिए प्रेरित नहीं किया. आप वे दो शख्सियत थीं, जिन्होंने मेरे हर काम में खुशी देखी. मुझे हमेशा एक गुरूर था कि मेरी दो मां हैं लेकिन लगता है कि अहंकार कभी किसी के लिए बहुत अच्छा नहीं होता है. पिछले कुछ दिन मैंने आप दोनों के साथ बिताए थे. हम कितना खुश थे लेकिन कभी सोचा भी नहीं था कि वे हमारे आखिरी दिन होंगे.'






    करियर में 48 वनडे और 76 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुकीं 28 साल की इस महिला क्रिकेटर ने लिखा, 'आप दोनों के जाने से ऐसा लगता है जैसे मेरी दुनिया ही उजड़ गई. नहीं पता कि अब कैसे एक परिवार के तौर पर हम जुड़ पाएंगे. मैं बस इतना ही कहना चाहती हूं कि मैं आपसे बहुत प्यार करती हूं और आपको बहुत मिस करूंगी.'

    वेदा की मां का 23 अप्रैल को निधन हो गया और उनकी बहन वत्सला शिवकुमार, जिन्हें कर्नाटक के चिकमंगलूर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था, ने दो सप्ताह बाद अंतिम सांस ली. वेदा ने साथ ही अपने फैंस से आग्रह किया कि वे इस वायरस को गंभीरता से लें और अपना ख्याल रखें. उन्होंने कहा कि उनके परिवार ने वायरस से बचाव के उपाय भी किए लेकिन यह जानलेवा साबित हुआ. वेदा की कोविड-19 टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आई थी. उन्होंने अपने प्रशंसकों से सभी आवश्यक सावधानी बरतने को कहा.