वेदा कृष्णमूर्ति से BCCI ने पूछा तक नहीं कि वह इस दुख का सामना कैसे कर रही हैं: स्टालेकर

लिसा ने आरोप लगाए कि बीसीसीआई ने वेदा से दुख की घड़ी में किसी तरह से संवाद नहीं किया.

ऑस्ट्रेलिया की पूर्व महिला क्रिकेटर और मौजूदा कमेंटेटर लिसा स्टालेकर (Lisa Sthalekar) ने आरोप लगाए कि बीसीसीआई ने वेदा कृष्णमूर्ति (Veda Krishnamurthy) से एक बार भी बात नहीं की. उन्होंने कहा कि एक सच्चे क्रिकेट संघ को अपने खिलाड़ियों की परवाह करनी चाहिए, खासतौर से इस महामारी के दौर में इसकी जरूरत सबसे ज्यादा है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया की पूर्व महिला क्रिकेटर लिसा स्टालेकर (Lisa Sthalekar) ने भारत की स्टार क्रिकेटर वेदा कृष्णमूर्ति (Veda Krishnamurthy) को बीसीसीआई की ओर से किसी तरह का सपोर्ट ना दिए जाने पर अपना गुस्सा जाहिर किया है. वेदा की मां और बड़ी बहन का कोविड-19 से संक्रमित होने के चलते निधन हो गया था. स्टालेकर ने आरोप लगाते हुए कहा कि इस दौरान बीसीसीआई ने वेदा से किसी तरह की बातचीत नहीं की और ना ही उनसे पूछा कि वह इस दुख का किस तरह से सामना कर रही हैं.

    लीजा ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर किया जिसमें उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के लिए घोषित भारतीय महिला टीम में वेदा को शामिल नहीं करने को उचित ठहराया. उन्होंने लिखा, 'वेदा को आगामी सीरीज के लिए टीम इंडिया में जगह ना देना समझ में आ सकता है लेकिन जिस बात ने मुझे सबसे ज्यादा हैरान किया कि कैसे बीसीसीआई ने एक अनुबंधित खिलाड़ी के साथ बिल्कुल भी संवाद नहीं किया कि वह कैसे इस अपार दुख का मुकाबला कर रही हैं.'

    इसे भी पढ़ें, वेदा कृष्णमूर्ति ने मां और बहन के निधन पर लिखा भावुक पोस्ट, 'लगता है जैसे मेरी दुनिया ही उजड़ गई'

    स्टालेकर ने आगे लिखा, 'एक सच्चे क्रिकेट संघ को अपने खिलाड़ियों की परवाह करनी चाहिए, केवल खेल पर ही ध्यान केंद्रित नहीं करना चाहिए. बेहद निराशाजनक है. एक पूर्व खिलाड़ी के रूप में भी, एसीए रोजाना यह देखने के लिए बात करता है कि हम कैसे हैं और सभी प्रकार की सेवा प्रदान करते हैं. यदि भारत में खेल संघ की जरूरत है तो निश्चित रूप से अभी है. इस महामारी के माध्यम से कई खिलाड़ियों ने जो तनाव, चिंता, भय और दुख का अनुभव किया, वह व्यक्तिगत रूप से उन पर भारी पड़ेगा और अनजाने में खेल को प्रभावित करेगा.'





    वेदा ने सोशल मीडिया पर अपनी मां और बहन (अम्मा और अक्का) के निधन के बाद उनके नाम एक भावुक पत्र लिखा था. वेदा की मां का देहांत 23 अप्रैल को हुआ और उनकी बहन वत्‍सला शिवकुमार ने, जिन्‍हें कर्नाटक के चिकमंगलुर में अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था, दो सप्‍ताह बाद आखिरी सांस ली.

    वेदा कृष्णमूर्ति ने भारत के लिए 48 वनडे और 76 टी20 मैच खेले हैं. घरेलू क्रिकेट में कर्नाटक का प्रतिनिधित्व करने वालीं वेदा ने 48 वनडे में 829 रन बनाने के अलावा तीन विकेट भी लिए हैं. उनके नाम इस फॉर्मेट में 8 अर्धशतक हैं. उन्होंने 76 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 875 रन बनाए हैं जिसमें 2 अर्धशतक शामिल हैं.