कोरोना से मां-बहन खोने वाली वेदा कृष्णमूर्ति को एक और झटका, BCCI ने कांन्ट्रैक्ट लिस्ट से बाहर किया

वेदा कृष्णमूर्ति को नहीं मिला बीसीसीआई का कॉन्ट्रैक्ट (PC-Veda Krishnamurthy Instagram)

वेदा कृष्णमूर्ति को नहीं मिला बीसीसीआई का कॉन्ट्रैक्ट (PC-Veda Krishnamurthy Instagram)

निजी जिंदगी में वेदा कृष्णमूर्ति (Veda Krishnamurthy) पर दुखों का पहाड़ टूटा है और अब बीसीसीआई ने भी इस खिलाड़ी को झटका दिया है, उन्हें कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट में जगह नहीं दी गई है.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने बुधवार रात महिला क्रिकेट टीम के सालाना कॉन्ट्रैक्ट का ऐलान किया जिसमें उसने 22 खिलाड़ियों की संख्या घटाकर 19 कर दी है. इस कॉन्ट्रैक्ट में कई खिलाड़ियों का प्रमोशन हुआ है वहीं कुछ खिलाड़ियों को बाहर ही कर दिया गया है. कॉन्ट्रैक्ट से बाहर होने वाली खिलाड़ियों में एक नाम वेदा कृष्णमूर्ति (Veda Krishnamurthy) का है, जिन्होंने हाल ही में अपनी मां और बहन की मौत का दुख झेला है.

मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज वेदा कृष्णामूर्ति ने इसी महीने कोरोना की वजह से अपनी बहन को खो दिया था. वहीं पिछले महीने इसी घातक महामारी से उनकी मां की जान चली गई थी. निजी जिंदगी में इतने दुख देखने के बाद अब बीसीसीआई ने उन्हें प्रोफेशनल करियर में भी झटका दिया है.

वेदा कृष्णमूर्ति के कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट से बाहर होने की वजह

वैसे वेदा का सालाना कॉन्ट्रैक्ट से बाहर होने का एक कारण उनका पिछले कुछ समय से टीम इंडिया से बाहर रहना भी है. वेदा टी20 और वनडे टीम में नियमित नहीं हैं. वेदा ने अप्रैल 2018 से भारतीय वनडे टीम में जगह नहीं बनाई है. साथ ही वो अपना आखिरी टी20 मैच टी20 वर्ल्ड कप 2020 में खेली थीं.
शेफाली वर्मा को मिला प्रमोशन

युवा बल्लेबाज शेफाली वर्मा को बुधवार को भारतीय क्रिकेट बोर्ड से जारी सालाना कॉन्ट्रैक्ट में प्रमोशन मिला है. उन्हें ग्रेड बी जगह दी गयी. बता दें ग्रेड ए के खिलाड़ियों को 50 लाख रूपये सालाना मिलेगा, जिसमें तीनों फॉर्मेट में खेलने वाले खिलाड़ी महिला टी20 टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना और लेग स्पिनर पूनम यादव शामिल हैं.

ग्रेड बी के खिलाड़ियों को वार्षिक तौर पर 30 लाख रूपये मिलेंगे जिसमें अनुभवी मिताली राज, झूलन गोस्वामी और दीप्ति शर्मा के साथ कुल 10 खिलाड़ी हैं. युवा ऋचा घोष को ग्रेड सी में जगह मिली है जिसके खिलाड़ियों को वार्षिक 10 लाख रुपये मिलेंगे. इसमें छह खिलाड़ी है तो पिछले साल से पांच कम हैं.



सलमान बट्ट ने ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की ईमानदारी पर सवाल खड़ा किया, जांच का उड़ाया मजाक

ग्रेड ए (50 लाख रुपये) : हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना, पूनम यादव.

ग्रेड बी (30 लाख रुपये) : मिताली राज, झूलन गोस्वामी, दीप्ति शर्मा, पूनम राउत, राजेश्वरी गायकवाड, शेफाली वर्मा, राधा यादव, शिखा पांडे, तानिया भाटिया, जेमिमाह रोड्रिग्ज.

ग्रेड सी (10 लाख रुपये) : मानसी जोशी, अरूधति रेड्डी, पूजा वस्त्रकार, हरलीन देओल, प्रिया पूनिया, ऋचा घोष.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज