युवराज और अंबाती रायडू के बाद अब टीम इंडिया के एक और खिलाड़ी ने लिया संन्यास

युवराज सिंह और अंबाती रायडू के बाद अब भारत के एक और खिलाड़ी ने क्रिकेट को अलविदा कह दिया है

News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 9:54 PM IST
युवराज और अंबाती रायडू के बाद अब टीम इंडिया के एक और खिलाड़ी ने लिया संन्यास
टीम इंडिया को 'वर्ल्ड कप' जिताने वाले खिलाड़ी ने लिया संन्यास
News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 9:54 PM IST
टीम इंडिया के बल्लेबाज और आंध्र प्रदेश के पूर्व कप्तान वेणुगोपाल राव ने मंगलवार को संन्यास ले लिया. वेणुगोपाल राव ने भारत के लिए 16 वनडे मैच खेले थे. 30 जुलाई 2005 को श्रीलंका के खिलाफ डेब्यू करने वाले वेणुगोपाल राव ने फर्स्ट क्लास मैचों में 7 हजार से ज्यादा रन बनाए थे. वहीं लिस्ट ए क्रिकेट में उनके नाम 4000 से ज्यादा रन थे. हालांकि इंटरनेशनल क्रिकेट में वो अपने टैलेंट के साथ न्याय नहीं कर पाए और उनका बल्लेबाजी औसत महज 24.22 रहा.

युवराज-कैफ के साथ मिलकर जिताया वर्ल्ड कप

आपको बता दें साल 2000 में भारत को अंडर 19 वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा वेणुगोपाल राव भी थे. इस वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के कप्तान मोहम्मद कैफ थे और इसमें युवराज सिंह भी खेले थे. हालांकि वेणुगोपाल का करियर युवराज और कैफ की तरह लंबा नहीं खिंच पाया.

वेणुगोपाल राव


साल 2009 में जीता आईपीएल

वेणुगोपाल ने इंडियन प्रीमियर लीग में भी 65 मैच खेले. वो डेक्कन चार्जर्स, दिल्ली डेयरडेविल्स और सनराइजर्स हैदराबाद का हिस्सा रहे. वो साल 2009 में खिताब जीतने वाली डेक्कन चार्जर्स टीम का हिस्सा थे. राव ने आईपीएल में 3 अर्धशतक लगाए और उनका स्ट्राइक रेट 117 रहा.

डोमेस्टिक क्रिकेट का बड़ा नाम
Loading...

वेणुगोपाल ने अपने घरेलू क्रिकेट का करियर आंध्र प्रदेश के साथ शुरू किया.  फर्स्ट क्लास में उनका औसत 50 से ज्यादा था जबकि लिस्ट ए में वो 40 से ज्यादा के औसत से रन बना रहे थे. साउथ जोन के लिए खेलते हुए उन्होंने इंग्लैंड ए टीम के खिलाफ 223 रनों की पारी खेली थी जिसकी बदौलत उनकी टीम ने 500 से ज्यादा के लक्ष्य को हासिल कर इतिहास रचा था. वेणुगोपाल की इसी पारी ने उन्हें टीम इंडिया में जगह भी दिलाई. सौरव गांगुली के टीम इंडिया से ड्रॉप होने के बाद वेणुगोपाल लगातार मौके बनाने की कोशिश करते रहे, हालांकि उन्हें किसी खिलाड़ी के चोटिल होने पर ही जगह मिलती थी. जिसका असर उनकी बल्लेबाजी पर भी दिखा और वो घरेलू क्रिकेट जैसा प्रदर्शन इंटरनेशनल क्रिकेट में नहीं कर पाए.

14 साल की उम्र में 546 रन जड़ने वाले पृथ्वी शॉ डोप टेस्ट में फेल, लगा बैन
First published: July 30, 2019, 8:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...