होम /न्यूज /खेल /Vijay Hazare Trophy: जयदेव उनादकट और मांकड़ चमके, सौराष्ट्र को मिली फाइनल की टिकट

Vijay Hazare Trophy: जयदेव उनादकट और मांकड़ चमके, सौराष्ट्र को मिली फाइनल की टिकट

सौराष्ट्र की जीत में जयदेव उनादकट चमके. (Jaydev Unadkat/Instagram)

सौराष्ट्र की जीत में जयदेव उनादकट चमके. (Jaydev Unadkat/Instagram)

Vijay Hazare Trophy: जयदेव उनादकट के चार विकेट और प्रेरक मांकड़ के ऑलराउंड प्रदर्शन से सौराष्ट्र ने कर्नाटक को पांच विक ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

कर्नाटक के खिलाफ सौराष्ट्र को मिली जीत
जयदेव उनादकट और मांकड़ चमके
सौराष्ट्र को मिला फाइनल का टिकट

नई दिल्ली. बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट (Jaydev Unadkat) के चार विकेट और प्रेरक मांकड़ के ऑलराउंड प्रदर्शन से सौराष्ट्र ने बुधवार को यहां कर्नाटक को पांच विकेट से हराकर विजय हजारे ट्रॉफी एकदिवसीय क्रिकेट टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई. उनादकट ने कप्तान मयंक अग्रवाल (01) और विकेटकीपर बल्लेबाज बीआर शरत (03) को सस्ते में आउट करके सौराष्ट्र को अच्छी शुरुआत दिलाई जिसके बाद मांकड़ ने निकिन जोस (12) और मनीष पांडे (00) को चार गेंद में आउट करके 19 ओवर में कर्नाटक का स्कोर चार विकेट पर 47 रन कर दिया.

कर्नाटक के सात बल्लेबाज दोहरे अंक में भी नहीं पहुंच पाए और पूरी टीम अंतत: 49.1 ओवर में 171 रन पर सिमट गई. इसके जवाब में पूर्व चैंपियन सौराष्ट्र ने जय गोहिल की 82 गेंद में 61 रन की पारी की बदौलत 36.2 ओवर में पांच विकेट पर 172 रन बनाकर जीत दर्ज की. गोहिल ने अपनी पारी में आठ चौके और एक छक्का लगाया. मांकड़ ने 35 रन की पारी खेली जबकि समर्थ व्यास ने भी 33 रन का योगदान दिया.

यह भी पढ़ें- VIDEO: नासिर हुसैन ने बाबर आजम का लिया इंटरव्यू, सचिन-विराट को छोड़ इस खिलाड़ी को बताया फेवरेट क्रिकेटर

मांकड़ ने गोहिल के साथ 53 रन की साझेदारी भी की. इससे पहले सलामी बल्लेबाज रविकुमार समर्थ ने 135 गेंद में चार चौकों और एक छक्के की मदद से 88 रन की पारी खेली लेकिन दूसरे छोर पर लगातार विकेट गिरते रहे. वह उनादकट के तीसरे शिकार बने.

उनादकट ने मैच के बाद कहा, ‘‘यह शानदार अहसास है. जब हमने नॉकआउट चरण में जगह बनाई तो हम सही समय पर प्रभाव छोड़ना चाहते थे. इससे बेहतर नहीं हो सकता. गेंद और बल्लेबाज से शानदार प्रदर्शन किया. मुझे लगता है कि टॉस जीतने के बाद मुझे जल्दी विकेट चटकाने थे. इस टूर्नामेंट में मैंने जिस तरह गेंदबाजी की है उससे मेरा आत्मविश्वास बढ़ा है. दबाव बनने के बाद सभी गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया.’’

Tags: Jaydev unadkat, Karnataka, Vijay hazare trophy

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें