15 साल टीम से जुड़े रहे, दो बार रणजी चैंपियन बनवाया, अब कर्नाटक छोड़ पुड्डुचेरी के लिए खेलेंगे विनय कुमार

विनय कुमार (Vinay Kumar) ने 15 साल पहले 2004 में कोलकाता (Kolkata) में खेले गए मुकाबले में बंगाल (Bengal) के खिलाफ रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) में डेब्यू किया था. तब से लेकर अब तक वे कर्नाटक (Karnataka) की टीम से ही जुड़े रहे थे.

News18Hindi
Updated: August 20, 2019, 6:35 PM IST
15 साल टीम से जुड़े रहे, दो बार रणजी चैंपियन बनवाया, अब कर्नाटक छोड़ पुड्डुचेरी के लिए खेलेंगे विनय कुमार
कर्नाटक के तेज गेंदबाज और कप्तान विनय कुमार की अगुआई में टीम ने रणजी ट्रॉफी में अच्छा प्रदर्शन किया है. (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: August 20, 2019, 6:35 PM IST
कर्नाटक (Karnataka) के पूर्व कप्तान विनय कुमार (Vinay Kumar) अब पुड्डुचेरी (Pudducheri) के लिए रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) खेलते नजर आएंगे. दरअसल, 2004 से कर्नाटक रणजी टीम से जुड़े रहे विनय कुमार ने अब कर्नाटक छोड़कर पिछले साल एलीट ग्रुप में जगह बनाने वाली पुड्डुचेरी की टीम में जाने का फैसला किया है. विनय कुमार ने 15 साल पहले 2004 में कोलकाता में खेले गए मुकाबले में बंगाल के खिलाफ डेब्यू किया था. तब से लेकर अब तक वे कर्नाटक की टीम से ही जुड़े रहे थे. अब उन्होंने इस टीम से रिश्ता खत्म करने का फैसला किया है.

दाएं हाथ के तेज गेंदबाज विनय कुमार (Vinay Kumar) कर्नाटक (Karnataka) रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) के इतिहास में दिग्गज खिलाड़ियों में शुमार किए जाते हैं. हालांकि पिछले सीजन में उनका प्रदर्शन काफी खराब रहा था. उन्होंने 7 मैचों में महज 14 विकेट ही लिए थे. हालांकि कर्नाटक ने सेमीफाइनल में जगह बना ली थी, जहां उसे सौराष्ट्र के खिलाफ शिकस्त का सामना करना पड़ा. विनय कुमार ने बल्ले से भी उपयोगी योगदान दिया. उन्होंने पिछले रणजी सत्र में तीन अर्धशतक लगाए थे. सत्र के बीच में ही उन्हें मनीष पांडे (Manish Pandey) के हाथों कप्तानी भी गंवानी पड़ी थी.

हालांकि विनय कुमार ने कर्नाटक की टीम को छोड़ने के लिए पिछले सीजन के खराब प्रदर्शन को जिम्मेदार नहीं माना है. एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा कि मैंने ये फैसला इसलिए लिया ताकि युवाओं को अधिक मौके मिल सकें.

cricket, bcci, indian cricket team, ranji trophy vinay kumar, karnataka ranji trophy, क्रिकेट भारतीय क्रिकेट टीम, बीसीसीआई, विनय कुमार, रणजी ट्रॉफी, कर्नाटक रणजी टीम, पुड्डुचेरी रणजी टीम
विनय कुमार ने कुल 130 फर्स्ट क्लास मैच खेलकर 459 विकेट लिए हैं. (फाइल फोटो)


विनय कुमार ने कहा कि कर्नाटक क्रिकेट के साथ मेरा सफर शानदार रहा. अब युवाओं को मौका देने का वक्त आ चुका है. जब मैं 21 साल के युवा के तौर पर कर्नाटक की टीम में आया था तब वेंकटेश प्रसाद ने मुझे मौका देने के लिए रास्ता बनाया था. अब वक्त आ गया है कि मैं भी ऐसा ही करूं.

कोच के साथ अच्छा तालमेल
विनय कुमार ने कहा कि कर्नाटक के मेरे पूर्व साथी और पुड्डुचेरी के मौजूदा कोच अरुण कुमार के साथ मेरा तालमेल काफी अच्छा है. मैं कर्नाटक को याद करूंगा, लेकिन पुड्डुचेरी नई टीम है और मेरे लिए ये काफी चुनौतीपूर्ण है.
Loading...

cricket, bcci, indian cricket team, ranji trophy vinay kumar, karnataka ranji trophy, क्रिकेट भारतीय क्रिकेट टीम, बीसीसीआई, विनय कुमार, रणजी ट्रॉफी, कर्नाटक रणजी टीम, पुड्डुचेरी रणजी टीम
टीम इंडिया के पूर्व पेसर विनय कुमार कर्नाटक की ओर से सर्वाधिक मैच खेलने में सुनील जोशी के बाद दूसरे नंबर पर हैं. (फाइल फोटो)


लगातार दो बार कर्नाटक को बनाया चैंपियन
विनय कुमार की अगुआई में कर्नाटक की टीम ने लगातार दो साल 2013-14 और 2014-15 में रणजी ट्रॉफी अपने नाम की थी. तब टीम के कोच अरुण कुमार ही थे. कर्नाटक ने लगातार दो साल रणजी ट्रॉफी, विजय हजारे ट्रॉफी और इरानी ट्रॉफी अपने नाम की थी.

विनय कुमार का करियर
टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज विनय कुमार मौजूदा समय के घरेलू क्रिकेट के सबसे अनुभवी खिलाड़ियों में से एक हैं. कर्नाटक के लिए उन्होंने 106 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं. कर्नाटक के लिए सबसे अधिक मुकाबले खेलने के मामले में वे दूसरे नंबर पर हैं. उनसे पहले टीम इंडिया के पूर्व स्पिनर सुनील जोशी ने 117 मैच खेले थे. विनय कुमार ने कुल मिलाकर 130 फर्स्ट क्लास मैच खेलकर 459 विकेट लिए हैं.

क्रिकेट में होगी एस श्रीसंत की वापसी, इस दिन खत्म हो जाएगा बैन
पाक क्रिकेट टीम में चल रहा मनमर्जी का खेल, कप्तान बेबस, कोई और चुन रहा प्लेइंग इलेवन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 20, 2019, 6:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...