विराट कोहली लेग स्पिनर के सामने संघर्ष करते हैं, टेस्ट टीम में राहुल चाहर को होना था: दानिश कनेरिया

राहुल चाहर ने आईपीएल में 11 विकेट लिए थे. (Rahul Chahar Twitter)

राहुल चाहर ने आईपीएल में 11 विकेट लिए थे. (Rahul Chahar Twitter)

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) का फाइनल 18 से 22 जून तक भारत और न्यूजीलैंड के बीच होना है. लेकिन टीम में लेग स्पिनर को जगह नहीं मिली है. राहुल चाहर ने आईपीएल में शानदार प्रदर्शन करते हुए 11 विकेट झटके थे.

  • Share this:

नई दिल्ली. टीम इंडिया (Team India) को जून में इंग्लैंड दौरे पर जाना है. टीम को वहां वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) का फाइनल खेलना है. इसके बाद इंग्लैंड के खिलाफ अगस्त से पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है. दोनों के लिए टीम इंडिया चुनी जा चुकी है. लेकिन लेकिन पाकिस्तान के पूर्व लेग स्पिनर दानिश कनेरिया (Danish Kaneria) को लगता है कि भारत ने इस दौरे पर कलाई के स्पिनर का चयन नहीं करके गलती की है. राहुल चाहर टीम के आक्रमण को नई धार दे सकते हैं.

भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ 18 जून से साउथम्प्टन में फाइनल खेलना है. दानिश कनेरिया ने कहा, ‘भारत ने मजबूत टीम का चयन किया है. कुल मिलाकर उनकी टीम अच्छी है, लेकिन ध्यान देने वाली बात यह है कि उन्होंने कलाई के स्पिनर का चयन नहीं किया है.’ काउंटी टीम एसेक्स की तरफ से खेल चुके कनेरिया ने कहा कि इंग्लैंड की परिस्थितियां लेग स्पिनरों के अनुकूल होती हैं.

इंग्लैंड में लेग स्पिनर अहम हाेते हैं

दानिश कनेरिया ने कहा, ‘टीम इंडिया के पास रविचंद्रन अश्विन, वॉशिंगटन सुंदर, अक्षर पटेल और रवींद्र जडेजा के रूप में उंगलियों के स्पिनर हैं, लेकिन उनके पास कलाई का स्पिनर यानी लेग स्पिनर नहीं है. जब आप इंग्लैंड में खेलते हो तो वहां काफी नमी रहती है. मुझे वहां खेलने का काफी अनुभव है. मैंने विभिन्न परिस्थितियों में आठ साल काउंटी क्रिकेट खेला है.’ कनेरिया ने कहा, ‘जब सत्र शुरू होता है तो काउंटी मैच होते हैं. विकेट पर धूप लगती है लेकिन नमी बनी रहती है. जहां भी सीमर के लिए अनुकूल परिस्थितियां होती है, वहां लेग स्पिनर भी उपयोगी होता है. मैं जब काउंटी खेलता था तो वहां सफल रहा. इसलिए यह थोड़ा चिंता का विषय है कि भारतीय टीम में कोई लेग स्पिनर नहीं है.’
विराट कोहली लेग स्पिनर के सामने संघर्ष करते हैं

पाकिस्तान की तरफ से सर्वाधिक विकेट लेने वाले स्पिनर दानिश कनेरिया ने कहा कि राहुल चाहर भारतीय टीम के लिए उपयोगी साबित हो सकते थे. उन्होंने कहा, ‘राहुल चाहर के कद और गेंदबाजी करने के तरीके को देखते हुए उसे टीम में होना चाहिए था. न्यूजीलैंड के पास ईश सोढ़ी के रूप में लंबे कद का लेग स्पिनर है और विराट कोहली हमेशा लेग स्पिनर के सामने संघर्ष करता है, जैसे कि हमने एडम जंपा के मामले में देखा.’

यह भी पढ़ें: World Test Championship: इंग्लैंड में विराट कोहली के अलावा सभी फेल! रोहित को एक टेस्ट का अनुभव



बतौर विदेशी स्पिनर सबसे ज्यादा विकेट शेन वॉर्न को मिले

इंग्लैंड में बतौर विदेशी स्पिनर सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड लेग स्पिनर के ही नाम है. ऑस्ट्रेलिया के शेन वॉर्न ने 22 टेस्ट में 129 विकेट लिए हैं. 8 बार पांच विकेट और 3 बार 10 विकेट लेने का कारनामा किया है. इंग्लैंड में बतौर भारतीय स्पिनर भी सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड लेग स्पिनर के ही नाम है. अनिल कुंबले ने 10 टेस्ट में 36 विकेट लिए हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज