लाइव टीवी
Elec-widget

रवि शास्‍त्री के ट्रोलर्स पर विराट कोहली का हमला- उनकी तरह बिना हेलमेट तेज गेंदबाज को खेलो फिर..

भाषा
Updated: November 30, 2019, 8:30 PM IST
रवि शास्‍त्री के ट्रोलर्स पर विराट कोहली का हमला- उनकी तरह बिना हेलमेट तेज गेंदबाज को खेलो फिर..
भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्‍त्री. (फाइल फोटो)

विराट कोहली (Virat Kohli) ने कहा कि रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने ‘साहस’ के साथ ‘बिना हेलमेट’ के तेज गेंदबाजों का सामना किया और सलामी बल्लेबाज के रूप में 41 की औसत से रन बनाए जो मौजूदा कोच के आलोचकों को कड़ा जवाब है.

  • Share this:
नई दिल्ली: विराट कोहली (Virat Kohli) ने रवि शास्त्री (Ravi Shastri) को लगातार ट्रोल किए जाने को एजेंडा से प्रभावित बताया और कहा कि भारतीय कोच (Indian Coach) इस धारणा से सबसे कम प्रभावित हैं कि वह कप्तान की हां में हां मिलाते हैं. कोहली ने कहा कि शास्त्री ने ‘साहस’ के साथ ‘बिना हेलमेट’ के तेज गेंदबाजों का सामना किया और सलामी बल्लेबाज के रूप में 41 की औसत से रन बनाए जो मौजूदा कोच के आलोचकों को कड़ा जवाब है.

'रवि भाई इन चीजों की बिलकुल परवाह नहीं करते'
कोहली ने इंडिया टुडे को उसके विशेष शो ‘इंस्पिरेशन’ पर कहा, ‘मुझे लगता है कि इनमें से अधिकांश चीजें एजेंडा से प्रभावित हैं और मुझे नहीं पता कि कोई ऐसा क्यों और किसलिए कर रहा है लेकिन इस तरह से झूठ को स्वीकार करना एजेंडा से प्रभावित है. भाग्य से रवि भाई के मामले में वह ऐसे व्यक्ति हैं जो इन चीजों की बिलकुल परवाह नहीं करते.’

ravi shastri, virat kohli, bcci, team india रवि शास्‍त्री, टीम इंडिया, विराट कोहली, बीसीसीआई
टीम इंडिया हारे या जीते लेकिन रवि शास्‍त्री सोशल मीडिया पर हमेशा निशाने पर रहते हैं.


बाएं हाथ के स्पिनर के रूप में आगाम करने वाले शास्त्री ने बाद में भारत के लिए पारी का आगाज भी किया और 1985 विश्व सीरीज क्रिकेट में उन्हें ‘चैंपियन आफ चैंपियन्स’ का प्रतिष्ठित पुरस्कार भी मिला. मुख्य कोच का समर्थन करते हुए कोहली ने ये सभी तर्क रखे.

10वें नंबर से सलामी बल्लेबाज के रूप में भेजा गया और सलामी बल्लेबाज के रूप में उन्होंने (रवि शास्‍त्री) 41 के औसत से रन बनाए. वह किसी ऐसे व्यक्ति से परेशान नहीं होने वाले जो घर में बैठकर उनकी ट्रोलिंग कर रहा हो क्योंकि अगर आप उनकी जैसी उपलब्धि हासिल करने वाले व्यक्ति की ट्रोलिंग करना चाहते हैं तो चलिए फिर उन गेंदबाजों का सामना कीजिए, जो उन्होंने किया है वह कीजिए, ऐसा करने के लिए हौसला चाहिए, इसके बाद उनके साथ बहस कीजिए.
विराट कोहली


भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण को बताया सपने जैसा
Loading...

हाल में टेस्ट श्रृंखला में बांग्लादेश को रौंदने के बाद कोहली ने अपने तेज गेंदबाजी आक्रमण को ‘स्वप्निल संयोजन’ करार दिया जो किसी भी सतह पर किसी भी तरह के विरोधी को ध्वस्त करने में सक्षम है. ऐसा जसप्रीत बुमराह की गैरमौजूदगी में किया गया. कप्तान ने कहा कि काफी अधिक प्रतिस्पर्धा के बावजूद तेज गेंदबाजों के बीच सौहार्द है और बिलकुल भी असुरक्षा नहीं है.

indian fast bowlers, ishant sharma, umesh yadav, mohammed shami, indian pacers, भारतीय तेज गेंदबाजी, इशांत शर्मा, उमेश यादव, मोहम्‍मद शमी
भारतीय तेज गेंदबाजी तिकड़ी इशांत शर्मा, मोहम्‍मद शमी और उमेश यादव.


कोहली ने कहा, ‘बिलकुल भी जलन नहीं है और यह उनका सबसे मजबूत पक्ष है, वे परवाह नहीं करते कि शमी की रैंकिंग सात है या जसप्रीत की रैंकिंग क्या है या इशांत की रैंकिंग क्या है.’

रोनाल्‍डो को सबसे ज्‍यादा पसंद करते हैं कोहली
कोहली क्रिकेटरों के बीच सचिन तेंदुलकर से प्रेरणा लेते हैं लेकिन खेल जगत में उनका पसंदीदा खिलाड़ी दिग्गज फुटबॉलर क्रिस्टियानो रोनाल्डो हैं. भारतीय कप्तान ने कहा, ‘मुझे लगता है कि क्रिस्टियानो रोनाल्डो क्योंकि मुझे यह तथ्य पसंद है कि उसे रोजाना निशाना बनाया जाता है लेकिन वह मानसिक रूप से मजबूत है, कड़ी मेहनत करने का जज्बा और वापसी करने की इच्छा है. मेरे लिए ये चीजें वास्तवित नैसर्गिक क्षमता से अधिक मायने रखती है जो लियोनल मेस्सी में है और यही कारण है कि मैं रोनाल्डो से प्रभावित हूं.’

cricket news, virat kohli, rohit sharma, indian cricket team, indian test team, world test championship, bcci, team india, क्रि​केट, क्रिकेट न्यूज, इंडियन क्रिकेट टीम, बीसीसीआई, टीम इंडिया, विराट कोहली, रोहित शर्मा, विश्व टेस्ट चैंपियनशिप, इंडियन टेस्ट टीम
विराट कोहली की अगुआई में टीम इंडिया ने इस साल घर में खेले सभी पांच टेस्‍ट मैच जीते हैं. (FILE PHOTO)


कोहली को हारना पसंद नहीं
कोहली ने नए रिकॉर्ड बनाने को अपनी आदत में शुमार कर लिया है और इसके लिए उनकी तुलना कई बार उनके आदर्श महान बल्लेबाज तेंदुलकर से होती है. कोहली ने कहा, ‘मुझे नहीं पता कि इस बारे में कैसे बताऊं क्योंकि मुझे हारना नापसंद है. मुझे किसी भी चीज में हारना पसंद नहीं, खिलाड़ी इसी तरह बनते हैं, शीर्ष स्तर पर प्रतिस्पर्धा पेश करने वाले खिलाड़ियों की मानसिकता ऐसी ही होती है.’

इंग्‍लैंड का क्रिकेटर मैदान पर अचानक हुआ बीमार, अस्‍पताल में कराया गया भर्ती

राजस्‍थान रॉयल्‍स ने इस विदेशी बॉलर को बुलाया, जॉनसन की तरह करता है बॉलिंग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 30, 2019, 8:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...