कोहली ने धोनी के साथ अपने रिश्ते को दो शब्दों में बयां किया, दिल छू लेगा विराट का ये बयान

विराट कोहली ने अपना डेब्यू धोनी की कप्तानी में ही किया था. (फाइल फोटो)

विराट कोहली ने अपना डेब्यू धोनी की कप्तानी में ही किया था. (फाइल फोटो)

विराट कोहली (Virat Kohli) ने पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की जमकर तारीफ की है. कोहली खुद के कप्तान बनने के पीछे धोनी की भूमिका को अहम बता चुके हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारत के स्टार बल्लेबाज विराट कोहली (Virat kohli) ने साल 2008 में अपना इंटरनेशनल डेब्यू महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की कप्तानी में किया था. बतौर खिलाड़ी खूंटा गाड़ने के बाद कोहली ने धोनी के कप्तानी से हटने के बाद टीम इंडिया की कमान संभाली. आज कोहली भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान बन चुके हैं. दूसरी ओर धोनी की कप्तानी में भारत ने टी20 वर्ल्ड कप (2007), वनडे वर्ल्ड कप (2011) और आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी (2013) का खिताब जीता है. वे आईसीसी के तीन अलग-अलग टूर्नामेंट जीतने वाले दुनिया के एकमात्र कप्तान हैं. इसी वजह से धोनी और कोहली की कप्तानी के बारे में अक्सर लोग तुलना भी करते रहते हैं. कोहली ने धोनी के साथ अपने रिश्ते को 'विश्वास' और 'सम्मान' पर आधारित बताया है.

धोनी के साथ अपने संबंध को दो शब्दों में परिभाषित करने को लेकर विराट कोहली से इंस्टाग्राम पर एक सवाल किया गया था. कोहली ने इसका जवाब देते हुए कहा, ''विश्वास और सम्मान.'' यह पहला मौका नहीं है जब विराट कोहली ने धोनी की जमकर तारीफ की है. कोहली खुद के कप्तान बनने के पीछे धोनी की भूमिका को अहम बता चुके हैं. पिछले साल रविचंद्रन अश्विन के साथ एक इंस्टाग्राम चैट के दौरान कोहली ने धोनी की प्रशंसा करते हुए कहा था कि माही ने उन्हें राष्ट्रीय टीम का कप्तान बनने में बड़ी भूमिका निभाई थी. बता दें कि साल 2014 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर धोनी ने अचानक संन्यास का ऐलान कर दिया था और कोहली को कप्तान बनाया गया था.

कोहली ने धोनी से ज्यादा टेस्ट मैच जीते

विराट कोहली और धोनी दोनों ने 60 टेस्ट मैच में भारत की कप्तानी की है. कोहली ने अपनी कप्तानी में 36 मैच जिताए हैं जबकि धोनी की कप्तानी में टीम को 27 मुकाबलों में जीत हासिल हुई है. हालांकि, जब सीमित ओवरों के क्रिकेट की बात आती है, तो धोनी की बराबरी नहीं की जा सकती. धोनी ने भारत को तीन वर्ल्ड कप खिताब के अलावा अपनी आईपीएल टीम चेन्नई सुपर किंग्स को तीन बार चैंपियन बनाया है. साथ ही चैंपियंस लीग टी-20 खिताब भी जिताया है. अगर आईपीएल की बात करें तो कोहली आज भी पहले खिताब के लिए तरस रहे हैं.
यह भी पढ़ें:

रवींद्र जडेजा का छलका दर्द, कहा- भारतीय टीम से बाहर होने के बाद डेढ़ साल तक नहीं सो पाया

IPL 2021: आर्चर ने 6 साल पहले ही कर दी थी 'भविष्‍यवाणी', RR ने कहा-आप जानते हैं



धोनी सबसे ज्यादा मैच जीतने वाले भारतीय कप्तान

बता दें कि एमएस धोनी भारत की ओर से बतौर कप्तान सबसे ज्यादा मैच जीतने वाले कप्तान हैं. उन्होंने 332 मैच में कप्तानी की. 178 में जीत हासिल की जबकि 120 मैच में हार मिली. 6 मैच टाई रहे जबकि 15 मुकाबले ड्रॉ रहे. वहीं विराट कोहली की बात की जाए तो उन्होंने 200 में कप्तानी की है. 128 मैच जीते जबकि 55 में हार मिली. 3 टाई रहे जबकि 10 ड्रॉ रहे. अजहरुद्दीन ने 104 मैच जीते हैं. अन्य कोई भारतीय कप्तान 100 मैच नहीं जीत सका है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज