धोनी का सबसे बड़ा रिकॉर्ड तोड़ने की दहलीज पर विराट कोहली, एक जीत मिलते ही...

News18Hindi
Updated: August 29, 2019, 3:57 PM IST
धोनी का सबसे बड़ा रिकॉर्ड तोड़ने की दहलीज पर विराट कोहली, एक जीत मिलते ही...
विराट कोहली की अगुआई में टीम इंडिया ने वेस्टइंडीज के खिलाफ एंटीगा टेस्ट में 318 रन से जीत दर्ज की थी. (फाइल फोटो)

भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने बतौर कप्तान भारत के लिए सबसे ज्यादा टेस्ट जीतने के महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है. अब वे इतिहास रचने से महज एक जीत दूर हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 29, 2019, 3:57 PM IST
  • Share this:
विराट कोहली (Virat Kohli) ने महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) के टेस्ट क्रिकेट (Test Cricket) से संन्यास लेने के बाद 2014 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न टेस्ट में कप्तानी की बागडोर संभाली थी. टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र ‌सिंह धोनी ने जब टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहा तो उनका नाम भारत का सबसे सफल कप्तान के तौर पर दर्ज हो चुका था. उन्होंने 60 मैचों में टीम की कप्तानी की, जिनमें से 27 में टीम इंडिया को जीत मिली. धोनी का सफलता प्रतिशत 45 का रहा. धोनी ने भारतीय क्रिकेट के सबसे सफल कप्तानों में शुमार सौरव गांगुली (Saurav Ganguly) के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा था.

सौरव गांगुली (Saurav Ganguly) ने अपने करियर में 49 टेस्ट मैचों में टीम की कप्तानी की. इसमें से भारतीय टीम ने 21 मुकाबलों में जीत दर्ज की. इसके काफी समय बाद महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) ने विराट कोहली (Virat Kohli) का रिकॉर्ड तोड़ दिया. अब टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली ने महेंद्र सिंह धोनी की बराबरी कर ली है. दिलचस्प बात ये है कि विराट बेहद तेजी से धोनी के इस जबरदस्त रिकॉर्ड के बराबर पहुंच गए हैं. धोनी ने जहां 60 मैचों में कप्तानी कर टीम को 27 मैचों में जीत दिलाई थी, वहीं विराट कोहली ने 47 मैचों में से 27 मैच भारत को जिताए हैं.

विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम को 10 मैचों में हार का सामना करना पड़ा है, वहीं दस मुकाबले ड्रॉ रहे हैं. खास बात ये है कि विराट का सफलता प्रतिशत 57.45 का है, जो महेंद्र सिंह धोनी जैसे दिग्गज के कप्तानी रिकॉर्ड से भी कहीं ज्यादा है. अगर विराट कोहली वेस्टइंडीज के खिलाफ जमैका के किंग्सटन में शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट में जीत दर्ज कर लेते हैं तो वह भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान बन जाएंगे. भारत-वेस्टइंडीज के बीच दो मैचों की सरीजी का आखिरी टेस्ट शुक्रवार 30 अगस्त से शुरू हो रहा है.

cricket, bcci, indian cricket team, india vs west indies, virat kohli, saurav ganguly, mahendra singh dhoni, क्रिकेट, विराट कोहली, सौरव गांगुली, महेंद्र सिंह धोनी, बीसीसीआई, क्रिकेट, इंडिया वस वेस्टइंडीज
विराट कोहली ने बतौर कप्तान

47 टेस्ट में 4575 रन बनाए हैं. इनमें उन्होंने 18 शतक भी जड़े. (फाइल फोटो)


वेस्टइंडीज के खिलाफ एंटीगा में पहले टेस्ट में जीत दर्ज करने के साथ ही विराट कोहली ने विदेश में सबसे ज्यादा जीत दर्ज करने का सौरव गांगुली का रिकॉर्ड तोड़ दिया था. टीम ने इस मुकाबले में 318 रन से जीत दर्ज की थी. सौरव गांगुली ने विदेश में 11 टेस्ट मैच बतौर कप्तान अपने नाम किए थे. विराट कोहली के नाम विदेशी जमीन पर अब 12 टेस्ट जीत हो गई है. इस मामले में महेंद्र सिंह धोनी विराट और गांगुली से काफी पीछे हैं. धोनी ने बतौर कप्तान विदेशी जमीन पर छह ही टेस्ट मैच जीते हैं.

बतौर बल्लेबाज भी सफल
Loading...

कप्तान विराट कोहली का बतौर बल्लेबाज भी प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है. बतौर कप्तान दिल्ली के इस 30 साल के बल्लेबाज ने 47 मैचों में 4575 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने 18 शतक लगाए हैं और उनका औसत 61.82 का रहा है. इस दौरान उन्होंने दिसंबर 2017 में श्रीलंका के खिलाफ दोहरा शतक भी लगाया.

हालांकि भारतीय कप्तान वेस्टइंडीज के मौजूदा दौरे पर खास सफल नहीं रहे हैं. उन्होंने एंटीगा में खेले गए पहले टेस्ट में 9 और 51 रन बनाए हैं. हालांकि दूसरी पारी में उनके अर्धशतक की बदौलत टीम इंडिया वेस्टइंडीज के सामने 419 रन का विशाल लक्ष्य खड़ा करने में कामयाब रही.

 

27 साल की उम्र में खत्म हो गया करियर, आर्चर ने चुना उसी खिलाड़ी का जर्सी नंबर,जानिए क्यों?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 29, 2019, 3:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...