होम /न्यूज /खेल /विराट कोहली ने उड़ाया रोहित शर्मा का मजाक, कहा- इतनी शुद्ध हिंदी बोल रहा है मेरे साथ... जानें कैप्टन का जवाब

विराट कोहली ने उड़ाया रोहित शर्मा का मजाक, कहा- इतनी शुद्ध हिंदी बोल रहा है मेरे साथ... जानें कैप्टन का जवाब

विराट कोहली का भारतीय टीम के कैप्टन रोहित शर्मा ने एक खास इंटरव्यू किया है.

विराट कोहली का भारतीय टीम के कैप्टन रोहित शर्मा ने एक खास इंटरव्यू किया है.

Rohit Sharma Interviews Virat Kohli: विराट कोहली का भारतीय टीम के कैप्टन रोहित शर्मा ने एक खास इंटरव्यू किया है. दोनों ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

विराट कोहली के साथ रोहित की बातचीत का वीडियो BCCI ने शेयर किया है.
इस दौरान दोनों खिलाड़ी बेहद मजाकिया अंदाज में नजर आए.
रोहित के हिंदी में सवाल पूछने पर विराट ने उनका मजाक उड़ाया.

नई दिल्ली: विराट कोहली ने गुरुवार रात अफगानिस्तान के खिलाफ टी-20 का पहला शतक लगाकर ढाई साल से जारी शतकों के सूखे को खत्म किया, इसके साथ ही टीम इंडिया को 101 रन से बड़ी जीत दिलाई. इस कामयाबी के बाद टीम इंडिया के कैप्टन रोहित शर्मा ने विराट कोहली का इंटरव्यू लिया. दोनों के बीच करीब 7 मिनट लंबी बात हुई.

दोनों की बातचीत का वीडियो भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने शेयर किया है. इस दौरान दोनों बेहद मजाकिया अंदाज में नजर आए. रोहित के हिंदी में सवाल पूछने पर विराट ने उनका मजाक उड़ाते हुए कहा, ”पहली बार मेरे साथ इतनी शुद्ध हिंदी बोल रहा है… और फिर हंसने लगते हैं.

रोहित ने विराट को शतक की बधाई दी, इसके बाद कहा कि आपके 71वें शतक का इंतजार पूरा भारत कर रहा था और भारत से ज्यादा आप इंतजार कर रहे थे. आपने जो इनिंग खेली उसमें काफी कुछ देखने को मिला. आपने गैप्स अच्छे खोजे, अच्छे शॉट्स लगाए तो आप अपनी इनिंग के बारे में बताइए. कैसे शुरुआत हुआ और कैसी थी फीलिंग? इस पर विराट मजाक के मूड में आ जाते हैं और कहते हैं… इतनी शुद्ध हिंदी बोल रहा है.

रोहित बोले- हिंदी में रिदम बन गया, इसलिए बात कर रहे हैं…

हालांकि इस पर रोहित भी पीछे नहीं रहे, उन्होंने कहा- मैं सोचकर आया था कि हिंदी और इंग्लिश मिक्स करके सवाल करूंगा पर हिंदी में रिदम बन गया, तो इसी में बात कर रहे हैं. कोहली ने अपने कप्तान से कहा कि उन्हें अहसास हुआ कि उन्हें उसी तरह का खेल खेलना चाहिए जैसा वह खेलते रहे हैं. इसमें छक्का जड़ना उनकी प्राथमिकता नहीं है. उन्होंने कहा, ”मेरे पास क्रिकेट के कुछ अच्छे शॉट हैं और छक्का लगाना मेरा मजबूत पक्ष नहीं है. परिस्थिति के अनुसार मैं छक्का जड़ सकता हूं लेकिन मैं खाली स्थानों पर शॉट मारने में बेहतर हूं. मैं जितने अधिक चौके लगाऊंगा उससे भी उद्देश्य की पूर्ति होती है.”

कोहली ने यहां तक कि मुख्य कोच राहुल द्रविड़ और बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ से भी इस संबंध में बात की थी. उन्होंने कहा, ”मैंने कोच से कहा कि मैं बड़े शॉट खेलने के बजाय खाली स्थानों पर शॉट मारकर रन बनाना चाहूंगा. क्रिकेट में ऐसा नहीं है कि स्ट्राइक रेट बनाए रखने के लिए आपको लंबे शॉट ही खेलने हैं. मैंने स्वीकार किया कि यह मेरा मजबूत पक्ष नहीं है और मैं अपने मूल स्वरूप में लौट आया.’’

राहुल भाई से बहुत अच्छी सलाह मिली: विराट

कोहली के लिए एशिया कप अपनी बल्लेबाजी में नए आयाम जोड़ने से संबंधित रहा जिसमें सातवें से 15वें ओवर के बीच उनका रवैया भी शामिल है. इसको लेकर द्रविड़ से भी उन्हें बहुत अच्छी सलाह मिली. उन्होंने कहा,‘‘ राहुल भाई ने बीच के ओवरों में बल्लेबाजी को लेकर मुझसे बात की कि मैं पहले बल्लेबाजी करने पर कैसे अपने स्ट्राइक रेट में सुधार कर सकता हूं. हमारा लक्ष्य था कि टीम को फायदा पहुंचाने के लिए मुझे सुधार करना होगा. मैंने एशिया कप में इसे आजमाया.’’

सलामी बल्लेबाज के रूप में कोहली के शतक ने यह चर्चा शुरू कर दी है कि क्या उन्हें रोहित के साथ पारी का आगाज करना चाहिए लेकिन इन दोनों शीर्ष खिलाड़ियों का मत था कि राहुल टीम के लिए बेहद महत्वपूर्ण है और उनका बचाव करने की जरूरत है.

बता दें कि विराट कोहली ने करीब 3 साल (1020 दिन) बाद शतक जड़ा है. टी-20 इंटरनेशनल क्रिकेट में यह उनका पहला शतक भी है. 70वें शतक से 71वें शतक का इंतजार 83 पारियों का का था. उन्होंने इस दौरान 26 अर्धशतक जड़े. इसके बाद उनके शतकों का सूखा खत्म हुआ. इस खराब दौर में विराट कोहली 9 बार अपना खाता भी नहीं खोल पाए.

Tags: BCCI, BCCI Cricket, Rohit sharma, Virat Kohli

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें