Home /News /sports /

विराट कोहली ने अचानक छोड़ी टेस्ट कप्तानी, BCCI सचिव जय शाह ने बताया- बेजोड़ कप्तान

विराट कोहली ने अचानक छोड़ी टेस्ट कप्तानी, BCCI सचिव जय शाह ने बताया- बेजोड़ कप्तान

विराट कोहली के टेस्ट कप्तानी छोड़ने के फैसले पर बीसीसीआई सचिव जय शाह ने बड़ी बात बोली है. (AFP)

विराट कोहली के टेस्ट कप्तानी छोड़ने के फैसले पर बीसीसीआई सचिव जय शाह ने बड़ी बात बोली है. (AFP)

Virat Kohli Resigns: विराट कोहली ने एक दिन पहले सोशल मीडिया पर पोस्ट लिख अपने टेस्ट कप्तानी छोड़ने की जानकारी दी. उनके इस फैसले से हर कोई हैरान है. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने इसे विराट का निजी फैसला बताया तो वहीं सचिव जय शाह (Jay Shah) ने भी विराट की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा, विराट कोहली भारत के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से एक रहे हैं. वहीं, बीसीसीआई उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला (Rajiv Shukla) और कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने भी कोहली को बतौर टेस्ट कप्तान शानदार माना.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. विराट कोहली (Virat Kohli) ने केपटाउन टेस्ट हारने के एक दिन बाद टेस्ट की कप्तानी भी छोड़ दी. उन्होंने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर कर अपने इस फैसले की जानकारी दी. कोहली को 2014-15 के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) के संन्यास के बाद टेस्ट टीम की कप्तानी सौंपी गई थी. बीते 7 साल में उन्होंने टीम इंडिया को सफलता के शिखर पर पहुंचाया. उनकी कप्तानी में टीम इंडिया आईसीसी रैंकिंग में 5 साल तक नंबर-1 रही. घर में भी एक भी टेस्ट सीरीज नहीं गंवाई. इतना ही नहीं, वो भारत के लिए सबसे अधिक 40 टेस्ट जीतने वाले कप्तान भी रहे. तमाम उपलब्धियों के बावजूद उन्होंने अचानक टेस्ट की कप्तानी छोड़ने का फैसला करके सबको चौंका दिया.

    इस बीच, बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) की तरह बीसीसीआई सचिव जय शाह (Jay Shah) ने भी एक बयान जारी कर विराट कोहली को बधाई दी. जय शाह ने कहा, “विराट कोहली भारत के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से एक रहे हैं. एक लीडर के रूप में टीम के लिए उनका योगदान और रिकॉर्ड बेजोड़ रहा है. भारत को 40 टेस्ट में जीत दिलाना, यह बताता है कि उन्होंने पूरी शिद्दत से टीम का नेतृत्व किया. उनकी कप्तानी में भारत ने घर और बाहर दोनों जगह कई यादगार जीत दर्ज की. इसमें ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, वेस्टइंडीज, श्रीलंका और दक्षिण अफ्रीका में मिली जीत शामिल है. हम विराट के उज्जवल भविष्य की कामना करते हैं और आशा करते हैं कि वह भारतीय टीम के लिए मैदान पर ऐसे ही योगदान जारी रखेंगे.”

    विराट जैसे क्रिकेटर एक पीढ़ी में एक बार आते हैं: राजीव शुक्ला
    बीसीसीआई उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला ने कहा, “विराट जैसे क्रिकेटर एक पीढ़ी में एक बार आते हैं और भारतीय क्रिकेट भाग्यशाली है कि वह एक कप्तान के रूप में टीम की सेवा करते रहे. उन्होंने जोश और आक्रामकता के साथ टीम की कप्तानी की और देश-विदेश में भारत की कई यादगार जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. हम उन्हें आगे के करियर के लिए शुभकामनाएं देते हैं.”

    विराट ने टीम के लिए अपना सबकुछ दिया: धूमल
    बोर्ड के कोषाध्यक्ष अरुण सिंह धूमल ने भी टेस्ट कप्तानी छोड़ने के बाद विराट कोहली के लिए कहा, “अपने कभी न हारने वाले जज्बे के साथ, विराट ने एक लीडर के रूप में अपना सबकुछ दिया. एक कप्तान के रूप में उनका शानदार रिकॉर्ड इस बात की गवाही देता है. जिस क्षण से वे भारत के टेस्ट कप्तान बने, उन्होंने सुनिश्चित किया कि भारत हमेशा उत्कृष्टता के लिए प्रयास करे और विश्व क्रिकेट पर राज करे.”

    विराट कोहली ने ऐलान से 24 घंटे पहले ही टीम को बता दिया था फैसला, खिलाड़ियों से की थी खास गुजारिश

    विराट कोहली के पास ‘दरकिनार’ किए जाने के बाद यही रास्ता बचा था, अब कौन बनेगा टेस्ट कप्तान?

    विराट कोहली ने बतौर कप्तान 2015 में बतौर कप्तान श्रीलंका में अपनी पहली सीरीज जीत दर्ज की थी. तब भारत श्रीलंका में 22 साल बाद टेस्ट सीरीज जीतने में सफल रहा था. इसके बाद 2018 में ऑस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज जीती, फिर वेस्टइंडीज में सफलता हासिल की और टेस्ट में नंबर-1 बने. 2021 में पहली वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल भी खेले. घर पर उनकी कप्तानी में भारत ने 31 में से 24 टेस्ट जीते. सिर्फ 2 में हार मिली.

    Tags: Cricket news, Hindi Cricket News, Jay Shah, Sourav Ganguly, Virat Kohli

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर