WTC Final: विराट कोहली बोले-हार भी गए तो फर्क नहीं पड़ेगा, मेरे लिए बड़ा मैच नहीं

विराट कोहली बोले- WTC फाइनल हारे तो बुरी टीम नहीं कहलाएंगे (फोटो-AFP)

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल (WTC Final) से पहले विराट कोहली (Virat Kohli) ने कहा कि उनके लिए फाइनल मुकाबला आम मुकाबलों की तरह ही है. वो बोले, टीम हार भी गई तो क्रिकेट नहीं रुकेगा.

  • Share this:
    नई दिल्ली. टीम इंडिया शुक्रवार से साउथैंप्टन के मैदान पर न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल (WTC Final) खेलने उतरने वाली है और इस बड़े मैच से पहले ही कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने बड़ी बात कह दी है. विराट कोहली ने साफ कहा कि वो इंग्लैंड में सिर्फ WTC के फाइनल मैच को खेलने नहीं आए हैं, उनके लिए इंग्लैंड के खिलाफ होने वाले पांच टेस्ट मैच भी उतनी ही अहमियत रखते हैं. साथ ही विराट कोहली ने साफ कहा कि चाहे टीम इंडिया टेस्ट चैंपियनशिप जीते या नहीं, उनकी सोच और खेलने का तरीका नहीं बदलेगा. आइए आपको बताते हैं विराट कोहली ने फाइनल से पहले क्या 5 बड़ी बातें कही.
    विराट कोहली से पूछा गया कि क्या ये उनके करियर का सबसे बड़ा मैच है? इस पर भारतीय कप्तान बोले, 'मेरे लिए ये सबसे बड़ा मैच नहीं है. ये एक और मैच की तरह ही है. हम टीम के तौर पर ऐसा नहीं सोचते कि इस मैच में क्या होगा. हम इन सब बातों की चिंता किए बिना ही इस मुकाबले को खेलेंगे. हम 2011 वर्ल्ड कप हम जीते थे बहुत ही कमाल का लम्हा था लेकिन ये खेल चलता रहेगा. आप किसी एक लम्हे को नहीं चुन सकते. इस समय का लुत्फ उठाना चाहिए. हमारी मानसिकता वैसी ही रहेगी.
    विराट कोहली ने एक और बड़ी बात कही. वो डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बोले, 'एक मैच में जीत और हार से कोई टीम बुरी साबित नहीं होगी. जो लोग खेल को समझते हैं वो जानते हैं कि एक मैच से आप किसी टीम को बेस्ट या अच्छा नहीं कह सकते. अगर हम ये मैच हार गए तो क्रिकेट रुकेगा नहीं. अगर हम जीत गए तो भी हमारे लिए खेल नहीं रुकेगा. हमारी मानसिकता वैसी ही रहेगी.'
    विराट कोहली से सवाल किया गया कि आपने ऑस्ट्रेलिया को उसके घर पर हराया था लेकिन न्यूजीलैंड ने आपको मात दी थी. इस पर विराट कोहली बोले ' टेस्ट कोई वनडे और टी20 क्रिकेट की तरह नहीं है. ये खेल पांच दिन आपकी परीक्षा लेता है. ऑस्ट्रेलिया में हमने उन्हें उनके घर पर हराया है. हम जानते हैं कि हम कैसी टीम हैं और हमारे खिलाड़ी किस मानसिकता के साथ मैदान पर उतरते हैं. हम फाइनल के लिए बेहद उत्साहित हैं.
    विराट कोहली ने कहा कि विलियमसन उनके अच्छे दोस्त हैं लेकिन वो मैदान पर उनके विरोधी ही हैं. विराट बोले, 'केन विलियमसन और मैं बहुत अच्छे दोस्त हैं. लेकिन जब हम मैदान के अंदर जाएंगे तो हम एक-दूसरे के विरोधी होंगे. मैदान के अंदर हम दोनों ही अपनी टीम को जिताना चाहते हैं. हम न्यूजीलैंड को हराना चाहते हैं.
    विराट कोहली ने साफ किया कि वो न्यूजीलैंड के खिलाफ भी उसी जोश और जुनून के साथ खेलेंगे जैसा वो ऑस्ट्रेलिया और दूसरी टीम के विरुद्ध खेलते हैं. विराट बोले, 'न्यूजीलैंड क्या किसी टीम में बुरे लोग नहीं हैं. हम इन सब चीजों के बारे में नहीं सोच रहे हैं. हमें ये पता है कि वो हमारे विरोधी हैं. हम मैदान पर वैसा ही खेलेंगे जिसके लिए जाने जाते हैं. मैदान के बाहर हम अलग हैं और अंदर कुछ और ही जज्बा होता है. न्यूजीलैंड के पास अच्छे खिलाड़ी हैं लेकिन ये बहुत बड़ा मैच है और इसे हम जीतना चाहते हैं.'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.