ऑस्ट्रेलिया से भिड़ंत से पहले बोले कोहली- विरोधियों से मतलब नहीं, तैयारी पर है यकीन

आईएएनएस
Updated: September 16, 2017, 11:58 PM IST
ऑस्ट्रेलिया से भिड़ंत से पहले बोले कोहली- विरोधियों से मतलब नहीं, तैयारी पर है यकीन
File photo
आईएएनएस
Updated: September 16, 2017, 11:58 PM IST
भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने शनिवार को अपनी टीम में लेग स्पिनरों- युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव को रखने के फैसले को सही बताया. उन्होंने कहा कि इससे टीम को मजबूती मिलती है. उन्होंने उम्मीद जताई है कि यह दोनों गेंदबाज रविवार से आस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरू हो रही पांच वनडे मैचों की सीरीज में मेहमान टीम के सामने अच्छा प्रदर्शन करेंगे.

कुलदीप और चहल को आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले जाने वाले शुरुआती तीन मैचों के लिए टीम में चुना गया है. कोहली ने पहले मैच की पूर्व संध्या पर संवाददाता सम्मेलन में कहा, 'टीम में कलाई के दो स्पिन गेंदबाजों के होने का फायदा होता है, खासकर तब जब दोनों एक दूसरे से अलग हों और दोनों बीच के ओवरों में विकेट ले सकें.' भारतीय कप्तान ने कहा, 'लगातार विकेट लेते रहना बेहद जरूरी है. इन दोनों गेंदबाजों ने हमें लगातार विकेट दिलाए हैं. इस सीरीज में दोनों काफी आत्मविश्वास के साथ आ रहे हैं.'

भारत हाल ही में श्रीलंका को 9-0 से हराकर अपनी देश में ऑस्ट्रलेया से भिड़ेगा. लेकिन स्टीवन स्मिथ की कप्तानी वाली आस्ट्रेलियाई टीम भारत के लिए आसान नहीं होगी.

'हम तैयारी करने में यकीन रखते हैं'

आस्ट्रेलियाई टीम से मिलने वाली चुनौती पर कोहली ने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि हमें हर सीरीज को अलग तरीके से देखने की जरूरत है. मैंने यह श्रीलंका में भी कहा था, आप किस टीम के खिलाफ खेल रहे हैं इससे ज्यादा आपकी तैयारी मायने रखती है.' उन्होंने कहा, 'आप जिस टीम के साथ खेलते हैं उनके हिसाब से अपने प्रदर्शन को कम-ज्यादा नहीं कर सकते. यह खेल के प्रति ईमानदारी नहीं होती. यह ऐसी चीज है जो एक टीम के तौर पर हम करने में विश्वास नहीं रखते. हम उसी तरह से तैयारी करने में यकीन रखते हैं जिस तरह से हम खेलना चाहते हैं चाहे सामने कोई भी टीम हो.'

धवन की जगह ओपनिंग करेंगे राहुल
बता दें कि भारत के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन पहले तीन मैचों में नहीं खेलेंगे. उनके स्थान पर लोकेश राहुल को रोहित शर्मा के साथ पारी की शुरुआत के लिए भेजा जा सकता है.

इस पर कोहली ने कहा, 'राहुल बेहद प्रतिभाशाली बल्लेबाज हैं. उन्होंने सभी फॉर्मेट में अपने आप को साबित किया है. वह ऐसे खिलाड़ी हैं जिनका समर्थन करना चाहिए क्योंकि हमारा मानना है कि उनमें काफी प्रतिभा है. एक बार जब उन्हें उनकी जिम्मेदारी दे दी जाएगी तो वह हमारे लिए मैच जीतने पारी पारी खेलेंगे.'

बता दें कि राहुल ने श्रीलंका में तीन मैचों में चार, 17, 7 रनों की पारियां खेलीं थीं. कोहली ने माना कि अपने तय स्थान से अलग क्रम पर बल्लेबाजी करना आसान नहीं होता.

उन्होंने कहा, 'इसमें समय लगता है. मैं यह नहीं कहूंगा कि यह आसान होता है. अगर आप रहाणे को देखें वह वनडे में मध्य क्रम में भी खेलते हैं और टेस्ट में भी मध्यक्रम में खेलते हैं.'

भारतीय कप्तान ने कहा, 'वह वनडे में पारी की शुरुआत भी करते हैं. वह भी यह मानते हैं कि स्थान बदलना मुश्किल होता है. हम अब रहाणे को शीर्ष क्रम पर वापस ला रहे हैं ताकि उन्हें रणनीति का साफ पता हो.'
First published: September 16, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर