IND vs AUS: भारतीय टीम की आलोचना करने वाली क्वींसलैंड की मंत्री को वसीम जाफर ने दिया करारा जवाब

वसीम जाफर ने ऑस्ट्रेलियाई मंत्री को दिया मजेदार जवाब (Wasim Jaffer/Instagram)

वसीम जाफर ने ऑस्ट्रेलियाई मंत्री को दिया मजेदार जवाब (Wasim Jaffer/Instagram)

पूर्व भारतीय क्रिकेटर वसीम जाफर (Wasim Jaffer) ने क्वींसलैंड की मंत्री रोस बेट्स के 'टीम द्वारा नियम से खेलने' पर जोर देने या दोनों देशों के बीच चौथे टेस्ट मैच के लिए ब्रिस्बेन की यात्रा नहीं करने के बयान के पर अपनी मजेदार प्रतिक्रिया दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 4, 2021, 12:59 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पूर्व भारतीय क्रिकेटर वसीम जाफर (Wasim Jaffer) ने क्वींसलैंड की मंत्री रोस बेट्स के 'टीम द्वारा नियम से खेलने' पर जोर देने या दोनों देशों के बीच चौथे टेस्ट मैच के लिए ब्रिस्बेन की यात्रा नहीं करने के बयान पर अपनी मजेदार प्रतिक्रिया दी है. ऐसी कई रिपोर्ट्स सामने आईं कि टीम इंडिया ब्रिस्बेन में चौथा टेस्ट मैच नहीं खेलना चाहती है. इन रिपोर्ट्स के सामने आने के बाद क्वींसलैंड की मंत्री ने कहा कि यदि मेहमान टीम ऑस्ट्रेलिया में कोविड-19 दिशानिर्देशों का पालन नहीं करना चाहती है तो उन्हें राज्य की राजधानी की यात्रा नहीं करनी चाहिए.

क्वींसलैंड की मंत्री के इस बयान को जानने के बाद आईपीएल टीम किंग्स इलेवन पंजाब के बल्लेबाजी कोच वसीम जाफर ने ऑस्ट्रेलियाई राजनेता को मजेदार ट्वीट के जरिये करारा जवाब दिया है. जाफर ने इंग्लैंड के पेसर जोफ्रा आर्चर की एक तस्वीर शेयर करते हुए मजाकिया मीम शेयर किया है और ऑस्ट्रेलियाई मंत्री को ट्रोल किया है. दरअसल इस तस्वीर में जोफ्रा आर्चर कंधे पर एक बैग टांगे हुए नजर आ रहे हैं.

IND vs AUS: ऑस्‍ट्रेलियाई गेंदबाज का खुलासा, बताया-कैसे रोहित शर्मा को रोकने के लिए निकाल रहे हैं तरीका

इस तस्वीर पर पहले क्वींसलैंड की मंत्री रोस बेट्स का बयान लिखा है- 'हमारे नियमों से खेलो या फिर यहां मत आओ.' इसके नीचे लिखा है- 'बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी के साथ भारतीय टीम.'
रोज बेट्स ने कहा, 'देखिए, यदि भारतीय नियमों के साथ नहीं रहना चाहते तो उनका किसी तरह से स्वागत नहीं किया जाएगा.' उन्होंने सोशल मीडिया पर भी अपना बयान जारी किया.

वहीं, क्वींसलैंड के खेल मंत्री टिम मैंडर ने भी कहा कि हर किसी के लिए समान नियम लागू होते हैं. उन्होंने साथ ही कहा कि भारतीयों को क्वारंटीन नियमों को तोड़ने का कोई हक नहीं है. उन्होंने कहा, 'यदि ब्रिस्बेन में भारतीय खिलाड़ी नियमों का पालन नहीं करना चाहते तो मुझे लगता है कि उन्हें नहीं आना चाहिए.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज