IND VS ENG: रिचर्ड्स ने इंग्लैंड को दिखाया आईना, कहा- मुझे मौका मिलता तो चौथे टेस्ट में भी मोटेरा जैसी पिच बनाता

वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान विवियन रिचर्ड्स (Vivian Richards) ने भारत और इंग्लैंड ( IND VS ENG) के बीच अहमदाबाद में हुए डे-नाइट टेस्ट की पिच की आलोचना करने वालों को आड़े हाथ लिया है. (Vivian Richards/ Twitter)

वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान विवियन रिचर्ड्स (Vivian Richards) ने भारत और इंग्लैंड ( IND VS ENG) के बीच अहमदाबाद में हुए डे-नाइट टेस्ट की पिच की आलोचना करने वालों को आड़े हाथ लिया है. (Vivian Richards/ Twitter)

वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान विवियन रिचर्ड्स (Vivian Richards) ने भारत और इंग्लैंड ( IND VS ENG) के बीच अहमदाबाद में हुए डे-नाइट टेस्ट की पिच की आलोचना करने वालों को आड़े हाथ लिया है. उनके निशाने पर इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी हैं, जो मोटेरा की पिच को टेस्ट क्रिकेट के लायक नहीं बता रहे.

  • Share this:
नई दिल्ली. वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान विवियन रिचर्ड्स (Vivian Richards) ने भारत और इंग्लैंड (IND VS ENG) के बीच अहमदाबाद में हुए डे-नाइट टेस्ट ( Day-Night Test) की पिच की आलोचना करने वालों को आड़े हाथ लिया है. उनके निशाने पर इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी हैं, जो मोटेरा की पिच को टेस्ट क्रिकेट के लायक नहीं बता रहे. रिचर्ड्स ने इन्हें जवाब देते हुए कहा कि अगर उन्हें मौका मिलता तो वो चौथे टेस्ट में भी ऐसी ही पिच बनाते. उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट किए वीडियो में यह बातें कहीं.

रिचर्ड्स ने कहा कि मुझसे हाल ही में भारत और इंग्लैंड के बीच दूसरे और तीसरे टेस्ट को लेकर सवाल पूछा गया. मुझे हकीकत में इस सवाल को लेकर थोड़ी दुविधा है, क्योंकि ये मुकाबले जिस विकेट पर खेले गए, उसे लेकर बहुत हो-हल्ला मच रहा है, पिच को कोसा जा रहा है. मुझे लगता है कि जो लोग पिच का रोना रो रहे हैं. मेरी राय में उन्हें यह एहसास होना चाहिए कि कई बार आपको सीमिंग ट्रैक मिलते हैं. जिस पर बॉल गुड लेंथ से उछाल लेते हुए आती है और कई बार बल्लेबाजों को इससे जूझना पड़ता है.

IND VS ENG: मोटेरा में बैटिंग पिच बनाकर फंस ना जाए टीम इंडिया, विराट और पुजारा फ्लॉप चल रहे



टेस्ट क्रिकेट खिलाड़ियों की परीक्षा के लिए होता है: विवियन रिचर्ड्स
उन्होंने कहा कि अब आपको इसका दूसरा पहलू देखना होगा और मुझे लगता है कि यही वजह है इसे टेस्ट मैच क्रिकेट नाम दिया गया था. दरअसल, इस फॉर्मेट में खेलते वक्त आपकी इच्छाशक्ति और मानसिक मजबूती का टेस्ट होता है. अगर आप शिकायत करते हैं कि विकेट टर्निंग है तो यह सिक्के का दूसरा पहलू है. लोग यह भूल जाते हैं कि अगर आप भारत जा रहे हैं तो आपको ऐसी ही पिच की उम्मीद करनी चाहिए. आपको यह जानने के लिए खुद को तैयार करना चाहिए कि आप वहां क्या करने जा रहे हैं.

IND VS ENG: शुभमन गिल पर मंडरा रहा है खतरा, मयंक अग्रवाल ले सकते हैं टीम में जगह

'इंग्लैंड को हल्ला मचाने की बजाय गलतियां दूर करनी चाहिए'
वेस्टइंडीज के इस पूर्व दिग्गज ने आगे कहा कि तीसरा टेस्ट जल्दी खत्म हो जाने के बाद इंग्लैंड टीम के पास ये मौका था कि वो पिच का रोना रोने की बजाय अपनी कमियों का आकलन करती और ये मानते हुए चौथे टेस्ट की तैयारी करती कि इस मुकाबले में भी उसे मोटेरा जैसा ही टर्निंग ट्रैक मिलेगा. उन्होंने कहा कि अगर मैं पिच तैयार करने के काम से जुड़ा रहता तो चौथे टेस्ट में भी मोटेरा जैसी ही पिच बनाता. सीरीज के पहले टेस्ट के बाद से ही इंग्लैंड को कंफर्ट जोन से बाहर आना पड़ा है. इसी वजह से उसे परेशानी हो रही है. हालांकि, अगर उन्हें मुकाबला करना है तो इससे बाहर निकलना होगा.

बता दें कि भारत और इंग्लैंड के बीच अहमदाबाद के नए बने नरेंद्र मोदी स्टेडियम में हुआ दूसरा टेस्ट सिर्फ दो दिन में ही खत्म हो गया था. कुल 140.2 ओवर का ही खेल हुआ था. मैच में गिरे तीस में से अकेले 28 विकेट स्पिनर्स ने लिए थे. इसके बाद से इंग्लैंड के कई खिलाड़ी पिच की आलोचना कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज