Home /News /sports /

what is the difference between switch hit and reverse sweep know how much practice is done in nets

स्विच हिट और रिवर्स स्वीप में क्या अंतर है? जानें नेट्स में कैसे और कितनी प्रैक्टिस की जाती है

रिवर्स स्विप और स्विच हिट में जानें क्या होता है अंतर...

रिवर्स स्विप और स्विच हिट में जानें क्या होता है अंतर...

बल्लेबाज मैच के दौरान रन बनाने के लिए तरह-तरह के स्ट्रोक लगाते हैं. आजकल रिवर्स स्वीप और स्विच हिट काफी चर्चा में हैं. आईपीएल 2022 में जोस बटलर और डेविड वॉर्नर समेत कई बल्लेबाजों ने ये दोनों स्ट्रोक जमकर लगाए हैं. आइए हम आपको बताते हैं कि स्विच हिट और रिवर्स स्वीप में क्या अंतर है. इन दोनों शॉट्स को बल्लेबाज को कब खेलना जरूरी हो जाता है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. आईपीएल 2022 में कई बल्लेबाजों को गेंदबाजों के खिलाफ अधिक रन बनाने के लिए अलग-अलग तरीके के शॉट्स खेलते देखा गया है. मौजूदा सत्र में जोस बटलर और डेविड वॉर्नर ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने स्विच हिट और रिवर्स स्वीप शॉर्ट के जरिए दर्जनों रन बटोरे हैं. राजस्थान रॉयल्स के बल्लेबाज जोस बटलर इंडियन प्रीमियर लीग 2022 में सबसे ज्यादा 625 रन बना चुके हैं. दूसरी तरफ दिल्ली कैपिटल्स के बैटर डेविड वॉर्नर ने भी इस सीजन में अब तक 427 रन बनाए हैं. आज इस आलेख में हम आपको बताएंगे कि स्विच हिट और रिवर्स स्वीप में क्या अंतर है. यह शॉट कब खेलना चाहिए और कब नहीं खेलना चाहिेए. भारत के पूर्व क्रिकेटर और मौजूद समय में जिम्बॉब्वे के हेड कोच लालचंद राजपूत ने स्विच हिट और रिवर्स स्वीप के बारे में विस्तृत रूप से बताया है.

न्यूज18 के फेसबुक लाइव में बात करते हुए लालचंद राजपूत ने रिवर्स स्वीप और स्विच हिट शॉट के बारे में विस्तृत रूप से चर्चा की. एक कोच होने के नाते उन्होंने यह भी बताया कि स्विच हिट और रिवर्स स्वीप को कब खेलना चाहिए और कब नहीं खेलना चाहिए. इस दौरान उन्होंने यह भी बताया कि नेट में इन दोनों शॉट्स की कितनी प्रैक्टिस करनी चाहिए. बातचीत के दौरान जिम्बॉब्वे के मौजूदा कोच ने कहा कि स्विच हिट या रिवर्स स्वीप दोनों ही महत्वपूर्ण शॉट्स होते हैं. इन शॉट्स को खेलने के लिए काफी प्रैक्टिस करनी पड़ती है. उनके मुताबिक आप गुड लेंथ गेंद पर भी रिवर्स स्वीप लगा सकते है्ं.

कब खेला जाता है रिवर्स स्वीप
बातचीत के दौरान लालचंद राजपूत ने कहा कि रिवर्स स्वीप उस उस समय खेला जाता है जब कोई गेंदबाज अच्छी स्पिन डाल रहा हो. फील्डिंग लेग साइड में हो. अगर राइट हैंडर बल्लेबाज है तो वह ऑफ साइड में मार सकता है. क्योंकि उस एरिया में एक ही फील्डर होता है. रिवर्स स्वीप खेलते समय आपका स्टांस या ग्रिप चेंज नहीं होता है. उसी स्टांस में रिवर्स स्वीप मारते हैं.

स्विच हिट में चेंज होता है ग्रिप
वहीं स्विच हिट के बारे में बात करते हुए लालचंद राजपूत ने कहा कि “जब हम यह स्ट्रोक लगाते हैं तो इसमें ग्रिप चेंज होता है. इसलिए उसे स्विच हिट कहते हैं. स्विच हिट के जरिए आप छक्का भी लगा सकते हैं. लेकिन यह शॉट खेलने के लिए आपको गेंद को जल्दी पिक करना है. पोजीशन में जल्दी आना है. हम नेट्स में सलाह देते हैं कि कम से कम 50-50 इस तरह के स्ट्रोक खेलना चाहिए.”

कब खेलना चाहिए स्विच हिच
लालचंद राजपूत के मुताबिक, “यह जोखिमपूर्ण शॉट है. इसे कब मारना है जब रिस्क कम हो. जब हम मैच जीत रहे हों तो ऐसे स्ट्रोक लगाने की जरूरत नहीं है. लेकिन जब रन रेट ज्यादा हो, फील्डर अच्छी फील्डिंग कर रहे हों, बॉलर बेहतरीन गेंदबाजी कर रहा हो तब हमें स्विच हिट को ट्राई करना चाहिए. जिस साइड में फील्डर कम होते हैं उस तरफ स्विच करके यह स्ट्रोक लगाया जाता है. क्योंकि बल्लेबाज को रन रेट को ऊपर ले जाना होता है. यह शॉट आपको कब खेलना है जब आप सेटल हो जाते हैं. गेंदबाज क्या कर रहा है. पिच पर बाउंस कितना है. तब आप स्विच हिट लगा सकते हैं. जाते ही पहली गेंद पर यह शॉट खेलना मुश्किल है. इसलिए हम कहते हैं कि पहले थोड़ा सेट हो जाओ. पिच देख लो उसके बाद यह शॉट ट्राई करो.”

यह भी पढ़ें

पावरप्ले का ‘किंग’ बना CSK का अनकैप्ड गेंदबाज, मोहम्मद शमी भी छूट गए पीछे

IPL 2022: धोनी ने हार के बाद भी खिलाड़ियों की तारीफ की, रवींद्र जडेजा को बताया खास

रिवर्स स्वीप और स्विच हिट में अंतर
पूर्व क्रिकेटर ने आगे कहा “रिवर्स स्वीप में हम ग्रिप चेंज नहीं करते हैं. जबकि स्विच हिट में हम ग्रिप चेंज करते हैं. दोनों में यह बेसिक अंतर है. स्विच हिट खेलने के लिए आपको जल्दी स्विच करना है. अगर मैं राइट हैंडर बल्लेबाज हूं तो मैं लेफ्ट हैंडर बल्लेबाज की पोजीशन लूंगा. ऐसे में पैरों की स्थिति भी बदलती है. इसलिए इस स्विच हिट कहते हैं क्योंकि आपको जल्दी स्विच करना है.”

Tags: David warner, IPL, IPL 2022, Jos Buttler, Lalchand Rajput

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर