मैदान पर भारतीय टीम से भिड़ गए थे बांग्लादेश के खिलाड़ी, ऐतिहासिक जीत को बना दिया था विवादित

बांग्लादेश और भारत के खिलाड़ी आपस में भिड़ गए.

भारतीय टीम बांग्लादेश (Bangladesh) ने अंडर 19 वर्ल्ड कप फाइनल (Under 19 World Cup Final) में भारत (India के बाद टीम के खिलाड़ियों ने आपा खो दिया और बदतमीजी पर उतारू हो गए.

  • Share this:
    नई दिल्ली. जीत और हार खेल का अहम हिस्सा है. कभी किसी के हिस्से जीत आती है तो कभी हार. अहम बात यह होती है कि आप इसे किस तरह लेते हैं. अकसर हमें लगता है कि लोग हार को बर्दाशत नहीं कर पाते, हालांकि इस साल हुए अंडर19 क्रिकेट वर्ल्ड कप (U19 World Cup) में बांग्लादेश (Bangladesh) की टीम से उनकी जीत संभली नहीं और उन्होंने अपने गलत व्यवहार से ऐतिहासिक मौके को विवादित बन दिया. भारत (India) और बांग्लादेश (Bangladesh) के बीच खेला गया फाइनल मुकाबला अब दोनों के बीच हुई लड़ाई के लिए याद किया जाता है.

    भारत को हराकर पहली बार चैंपियन बना था बांग्लादेश
    अंडर-19 वर्ल्डकप के फाइनल में बांग्लादेश ने चार बार के चैंपियन भारत को 3 विकेट से हरा दिया था. बांग्लादेश ने भारत से वो खिताब छीन लिया जो पृथ्वी शॉ की कप्तानी में भारत की अंडर-19 टीम ने जीता था. भारत ने पहले खेलते हुए 177 रन बनाए थे. वहीं, बारिश के बाद बांग्लादेश को 170 रन का टारगेट मिला था जिसे उसने आसानी से हासिल कर लिया. बांग्लादेश के कप्तान अकबर अली ने मैच जिताने वाली पारी खेली.

    मैच के बाद भिड़ गए दोनों टीमों के खिलाड़ी
    घटना से पहले भी मैच में अपनी फील्डिंग के दौरान भारतीय बल्लेबाजों से भिड़ रहे थे. वह हर बार आक्रामकता दिखा रहे थे. जीत के बाद बांग्लादेश के खिलाड़ी जीत का जश्न मनाने मैदान पर पहुंचे. इस दौराम कुछ खिलाड़ियों ने भारतीय खिलाड़ियों पर आपत्तिजनक कमेंट किए जिससे खिलाड़ी गुस्से में आ गए. भारतीय खिलाड़ियों के विरोध करने के बाद स्थिति गंभीर हो गई, बांग्लादेश और भारतीय खिलाड़ियों के बीच बात हाथापाई तक आ गई थी.. यहां तक कि बैट और स्टंप लेकर भारतीय खिलाड़ियों की ओर आक्रामक तरीके से आगे बढ़े. ये सारा वाकया मैदान के बीचो-बीच पिच पर मैदानी अंपायरों के सामने हुआ.

     

    भारतीय कप्तान ने बांग्लादेश को ठहराया दोषी
    मैच के बाद मीडिया से बात करते हुए भारतीय टीम के कप्तान प्रियम गर्ग ने कहा कि बांग्लादेश के खिलाड़ियों की जीत के बाद प्रक्रिया काफी गंदी थी. ऐतिहासिक जीत दर्ज करने के बाद बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने भारतीय खिलाड़ियों पर कुछ टिप्पणी की, जो भारतीय खिलाड़ियों को नागवार गुजरी और फिर लड़ाई शुरू हुई. गर्ग ने कहा कि भारतीय टीम ने हार को स्वीकार किया. प्रियम गर्ग ने कहा, 'हमने हार को स्वीकार किया. हमने सोचा कि ये गेम का हिस्सा है और खेल में ऐसा होता रहता है. कोई हारता है तो कोई जीतता है, लेकिन उनकी प्रतिक्रिया (जीत के बाद जश्न और फिर लड़ाई) काफी गंदी थी. मेरा मानना है कि ऐसा नहीं होना चाहिए, लेकिन कोई बात नहीं.'

    बांग्लादेश के कप्तान ने मांगी माफी
    अपने खिलाड़ियों के गैर-जरूरी आक्रामक और नकारात्मक व्यवहार के लिए बांग्लादेश की इस युवा टीम के कप्तान अकबर अली को भी माफी मांगनी पड़ी. बांग्लादेश के कप्तान अकबर अली (Akbar Ali) ने इस शर्मनाक घटना के लिए माफी मांगी. अली ने कहा, 'बांग्लादेशी कप्तान अकबर अली ने कहा कि हमारे कुछ गेंदबाज ज्यादा भावुक हो गए थे और उत्साह में थे. मैच के बाद जो कुछ भी हुआ, वो दुर्भाग्यपूर्ण है. ऐसा नहीं होना चाहिए था. मेरी टीम के खिलाड़ियों से गलती हुई और इसके लिए मैं माफी मांगता हूं. ऐसा किसी भी स्तर पर कभी भी नहीं होना चाहिए. मैं भारत को बधाई देना चाहता हूं.'

    कोरोना वायरस के कारण संन्यास लेने को मजबूर है यह खिलाड़ी, ट्वीट करके मांगी मदद